Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोकसभा: रतलाम रैली के बाद बैरीकेट कूद समर्थनकों से मिली प्रियंका गांधी, देखें वीडियो

लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए मध्य प्रदेश के रतलाम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का एक नया अवतार नजर आया। रैली के बाद प्रियंका कांग्रेस समर्थकों से मिलने के लिए बैरीकेट से कूद कर मिलने पहुंची। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

लोकसभा: रतलाम रैली के बाद बैरीकेट कूद समर्थनकों से मिली प्रियंका गांधी, देखें वीडियो
X

लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए मध्य प्रदेश के रतलाम में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी का एक नया अवतार नजर आया। रैली के बाद प्रियंका कांग्रेस समर्थकों से मिलने के लिए बैरीकेट से कूद कर मिलने पहुंची। इसका एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

मध्यप्रदेश के इंदौर लोकसभा क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी सभा के अगले ही दिन कांग्रेस के चुनाव प्रचार को गति देते हुए पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने सोमवार को रोड शो किया। इस सीट पर पिछले 30 साल से भाजपा का कब्जा बरकरार है। कांग्रेस महासचिव बनने के बाद पहली बार सूबे की आर्थिक राजधानी इंदौर आयीं प्रियंका यहां राजमोहल्ला चौराहे से रथ की शक्ल वाले विशेष वाहन पर सवार हुईं।

यह काफिला जुलूस के रूप में जवाहर मार्ग और बॉम्बे बाजार चौराहा समेत अलग-अलग वाणिज्यिक इलाकों से गुजरते हुए राजबाड़ा चौराहे पर खत्म हुआ। करीब ढाई घण्टे चले रोड शो के दौरान प्रियंका ने हाथ हिलाकर और हाथ जोड़कर जनता का अभिवादन किया। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कई स्थानों पर "चौकीदार चोर है" के नारे भी लगाये।

प्रियंका के साथ सूबे के मुख्यमंत्री कमलनाथ और इंदौर के कांग्रेस प्रत्याशी पंकज संघवी भी करीब तीन किलोमीटर लम्बे रोड शो में शामिल हुए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को यहां भाजपा की चुनावी सभा में कांग्रेस और इसके राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी पर हमला बोला था। पिछले साल नवंबर में हुए विधानसभा चुनावों के दौरान 15 साल बाद सूबे की सत्ता में लौटी कांग्रेस का उत्साह मौजूदा लोकसभा चुनावों में उफान पर है।

हालांकि, उसके लिये इंदौर में भाजपा का 30 साल पुराना गढ़ भेदना इतना आसान नहीं है जहां राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की जड़ें भी मजबूत मानी जाती हैं। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन (76) इंदौर से वर्ष 1989 से 2014 के बीच लगातार आठ बार चुनाव जीत चुकी हैं।

लेकिन 75 साल से ज्यादा उम्र के नेताओं को चुनाव नहीं लड़ाने के भाजपा के नीतिगत निर्णय को लेकर मीडिया में खबरें आने के बाद उन्होंने पांच अप्रैल को खुद घोषणा की थी कि इस बार वह बतौर उम्मीदवार चुनावी मैदान में नहीं उतरेंगी। लम्बी उहापोह के बाद भाजपा ने पार्टी के स्थानीय नेता शंकर लालवानी (57) को महाजन का चुनावी उत्तराधिकारी बनाते हुए इंदौर से टिकट दिया।

इंदौर विकास प्राधिकरण (आईडीए) के पूर्व चेयरमैन और इंदौर नगर निगम के पूर्व सभापति लालवानी अपने राजनीतिक करियर का पहला लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। इंदौर में 19 मई को होने वाले मतदान के दौरान मुख्य चुनावी मुकाबला लालवानी और कांग्रेस उम्मीदवार पंकज संघवी के बीच होना है। क्षेत्र में करीब 23.5 लाख लोगों को मतदान का अधिकार हासिल है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story