Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोहर्रम एवं गणेश उत्सव को लेकर पुलिस अलर्ट, चप्पे-चप्पे पर रहेगी पैनी निगाह

मोहर्रम एवं गणेश उत्सव पर्व के मद्देनजर पुलिस अलर्ट हो गई। त्यौहारों के मद्देनजर पुलिस कप्तान अमित सिंह ने आज पुलिस कन्ट्रोलरूम में अधिकारियों एवं सभी थाना प्रभारियों की बैठक ली और आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कार्रवाई की समीक्षा की।

मोहर्रम एवं गणेश उत्सव को लेकर पुलिस अलर्ट, चप्पे-चप्पे पर रहेगी पैनी निगाह
X
Police alert regarding Moharram and Ganesh Utsav in Madhya Pradesh

जबलपुर। मोहर्रम एवं गणेश उत्सव पर्व के मद्देनजर पुलिस अलर्ट हो गई। त्यौहारों के मद्देनजर पुलिस कप्तान अमित सिंह ने आज पुलिस कन्ट्रोलरूम में अधिकारियों एवं सभी थाना प्रभारियों की बैठक ली और आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कार्रवाई की समीक्षा की। बैठक में कप्तान ने कहा कि एैसे समय में कुछ अशांतिप्रिय एवं विध्नसंतोषी तत्व सक्रीय रहते है जो पर्व के दौरान व्यवधान उत्पन्न करने का प्रयास करते है, एैसे लोगो पर सतत निगाह रखी जाये।

शांति भंग करने वालों पर होगी कार्रवाई -

पुलिस कप्तान ने कहा कि अपने क्षेत्र मे लगातार भ्रमण करें, समाज के हर वर्ग के लोगो से आप सभी सवंाद स्थापित करें, इससे आपको महत्वपूर्ण सूचनायें प्राप्त होंगी जो आने वाले दिनों में शांति एंव कानून व्यवस्था बनाये रखने में काफी उपयोगी होगी। ऐसे आसमाजिक तत्व जिनके सम्बंध में जरा भी अन्देशा है कि वे अशांति का वातावरण निर्मित कर सकते है चिन्हित करते हुये उनके विरूद्ध उनके अपराधिक रिकार्ड को दृष्टिगत रखते हुये प्रभावी प्रतिबंधात्मक कार्यवाही जिला बदर, एनएसएए की कार्रवाई करें। छोटी से छोटी घटनाए की सूचना मिलने पर तत्काल पहुॅचे एवं विधि सम्मत कार्यवाही करेंए किसी भी घटना को अनदेखा न करें। कार्यवाही निष्पक्ष हो इस बात का विशेष ध्यान रखें।

डीजे रहेंगे प्रतिबंधित

बैठक में कहा गया कि डीजे प्रतिबंधित है, डीजे, साउड संचालकों को बताया जाये कि 2 साउंड बाक्स की नियमानुसार अनुमति दी जाती है, दो साउड बाक्स से अधिक किसी भी पण्डाल मे नहीं लगायें, साथ ही धार्मिक गीत ही बजायें जाये, यदि आदेश का उल्लंघन किया जाना पाया जायेगा तो वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

जहां पूर्व में विवाद हुए वहां बनाई जाए अस्थाई चौकी

एैसे स्थान जहॉ पर गणेश प्रतिमाओं एवं ताजिया, सवारी की स्थापना हेतु पास-पास पण्डाल बनाये जाते है, साथ ही एैसे स्थान जहॉ पर पूर्व में साम्प्रदायिक विवाद हुये है उस स्थान के पास ही एक पुलिस का अस्थाई पुलिस सहायता केन्द्र बनाया जाये जहॉ बीट प्रभारी एवं बीट मे तैनात कर्मचारी तथा प्रदाय किया गया अतिरिक्त बल मौजूद रहेगा। अस्थाई पुलिस सहायता केन्द्र में पीए सिस्टम लगाया जाकर पीए सिस्टम से लगातार एनाउंसमेट किया जाये।

सोशल मीडिया पर रहेंगी निगाह

सोशल मीडिया पर जातिगत एवं साम्प्रदायिक भावना से सम्बंधित आपत्तिजनक पोस्ट जिससे कानून व्यवस्था की स्थिति निर्मित हो सकती है प्रसारित करने वालों पर जबलपुर की सायबर टीम के द्वारा निरंतर निगाह रखी जा रही है। आमजनों से जबलपुर पुलिस की अपील है कि सोशल मीडिया पर प्राप्त होने वाली इस प्रकार की पोस्ट को फारवर्ड न करें, तत्काल पुलिस को सूचित करें, आपका नाम सर्वथा गोपनीय रखा जायेगा, सम्बंधित के विरूद्ध तत्काल विधि संगत वैधानिक कार्यवाही की जायेगी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story