Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अब कुपोषण वाले आंगनवाड़ियों में सोया मिल्क, सोया पंजीरी व सोया पाउडर का होगा वितरण

मप्र के कुपोषण बाहुल्य आंगनवाड़ियों में अब सोया मिल्क, सोया पंजीरी ओर सोया पाउडर का वितरण किया जाएगा। कम वजन व अति कम वजन वाले बच्चों वाले गांवों में आंगनबाड़ी केन्द्र का डे.केयर सेंटर संचालित होगा।

FILE PHOTOFILE PHOTO

भोपाल। मप्र के कुपोषण बाहुल्य आंगनवाड़ियों में अब सोया मिल्क, सोया पंजीरी ओर सोया पाउडर का वितरण किया जाएगा। कम वजन व अति कम वजन वाले बच्चों वाले गांवों में आंगनबाड़ी केन्द्र का डे.केयर सेंटर संचालित होगा। इतना ही नहीं आयुष विभाग के सहयोग से आंगनबाड़ी केन्द्रों में ऐसे बच्चों को आयुर्वेदिक पद्धति से उपचार करने की योजना भी बनाई जा रही है। मंत्रालय में शुक्रवार को हुई बैठक में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उक्त मसौदे पर तत्काल निर्णय लेने को कहा है। 

उन्होंने कहा कि कुपोषण को जड़ से खत्म करने के लिए जो प्रयास किए जा रहे है। उसकी निगरानी और परिणामों की सतत् समीक्षा की जाना चाहिए। इस मौके पर महिला एवं बाल विकास मंत्री इमरती देवी उपस्थित थीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नौनिहालों का जीवन सुरक्षित करने की बड़ी जवाबदेही महिला एवं बाल विकास पर है। भावी पीढ़ी शारीरिक मानसिक रूप से स्वस्थ्य होगी तभी हम प्रदेश के समग्र विकास का सपना पूरा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि कुपोषित और अति कुपोषित बच्चों को दिए जाने वाले पोषण आहार की उपलब्ध और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए और एक ऐसा निगरानी तंत्र विकसित किया जाए, जिससे किसी भी स्तर पर कोई भी कोताही न हो सके। उन्होंने इसमें जिला एवं जनपद पंचायत के सीईओ को भी जोड़ने को कहा जो ग्रामीण क्षेत्रों में सतत् रूप से कुपोषित बच्चों को मिलने वाले पोषण आहार की गुणवत्ता की जांच करें।

किराए के भवन में लग रहे आंगनवाड़ी अब होंगे शासकीय भवनों में

मुख्यमंत्री ने किराए के भवनों में लगने वाले आंगनबाड़ी केन्द्रों को उपलब्ध शासकीय रिक्त भवनों में स्थानांतरित करने के प्रस्तावों पर भी विचार करने को कहा। समीक्षा के दौरान प्रमुख सचिव महिला एवं बाल विकास ने विभागीय गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया कि आंगनवाड़ी केन्द्रों से दी जाने वाली सेवाओं पर निगरानी के लिए सम्पर्क एप बनाया गया है। वाट्सएप नंबर 8305101188 के माध्यम कोई भी व्यक्ति सेवाओं में कमी होने पर शिकायत कर सकता है जिसका तत्काल निराकरण किया जाएगा। आंगनबाड़ी केन्द्रों में विद्युत प्रदाय के लिए ऊर्जा विकास निगम के माध्यम से सोलर पैनल लगाने की भी योजना पर भी चर्चा हुई।

Next Story
Share it
Top