Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

MP : इन सेवाओं को मिली छूट कामकाज की अनुमति, जानिए क्या-क्या रहेगा बंद

भोपाल, इंदौर, उज्जैन सहित 13 जिलों में अभी भी सख्ती बनी रहेगी। पढ़िए पूरी खबर-

MP : इन सेवाओं को मिली छूट कामकाज की अनुमति, जानिए क्या-क्या रहेगा बंद
X

भोपाल। मध्यप्रदेश में लॉकडाउन के दौरान आज से सरकारी कामकाज शुरू होंगे। भोपाल, इंदौर, उज्जैन सहित 13 जिलों में अभी सख्ती बनी रहेगी। मंत्रालय में सीएस से लेकर उप सचिव स्तर तक के अधिकारी आएंगे। अधिकारियों के सहयोग के लिए सिर्फ एक तिहाई तृतीय और चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी बुलाये जाएंगे। विभागाध्यक्ष कार्यालयों में भी सिर्फ बड़े अधिकारी और उनकी मदद के लिए चुनिंदा कर्मचारी आएंगे।

इसके अलावा मनरेगा का काम शुरू किए जायेगा। रेड जोन और हॉटस्पॉट से मजदूरों के आने पर रहेगी रोक। वहीं पूरे प्रदेश में शराब और भांग की दुकानें 3 मई तक बन्द रहेंगी। अत्यावश्यक सेवाओं वाले दफ्तर खुलेंगे लेकिन सनेटीजेशन और सोशल डिस्टेंशिंग का पालन होगा। सीएम शिवराज सिंह चौहान खुद करेंगे समीक्षा।

• पोस्टल सर्विस जारी रहेगी, पोस्ट ऑफ़िस खुले रहेंगे।

• खेती, हॉर्टीकल्चर, कृषि से जुड़ी गतिविधियों को शुरू करने की इजाज़त दी जाएगी।

• खेती से जुड़े सामान, कल-पुर्ज़े, सप्लाई चेन से जुड़े काम किए जा सकेंगे।

• माल वाहक वाहनों का संचालन जारी रहेगा।

• बैंकों में होगा काम, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसियां, किराना दुकानेंं खुलेंगी।

• केंद्र और राज्य सरकारों के दफ्तर खुले रहेंगे।

• प्रिंट व इलैक्ट्रोनिक मीडिया को काम करने की छूट रहेगी।

• मनरेगा वर्करों को काम करने की इजाज़त होगी लेकिन उन्हें सोशल डिस्टेंसिंग का सख़्ती से पालन करना होगा।

• इलेक्ट्रिशियन, आईटी रिपेयरिंग वाले, पलंबर, मोटर मैकेनिक, कार्पेंटर और इसी तरह के स्वरोज़गार वाले लोगों को काम करने की इजाज़त होगी।

• सभी स्वास्थ्य सेवाएं चालू रहेंगी। इनमें आयूष से जुड़ी सेवाएं भी हैं।

• तेल और गैस सेक्टर से जुड़ी सभी गतिविधियां जारी रहेंगी।

• दवा बनाने वाली कंपनियां और मेडिकल उपकरण बनाने वाले कारख़ाने खुल सकेंगे।

• कर्मचारियों के साथ काम करने की इजाज़त होगी।

• गौशाला और जानवरों के शेल्टर होम खुले रहेंगे।

• निर्माण कार्यों को अनुमति होगी।

• आवश्यक सेवाओं की आपूर्ति बरकरार रखी जाएगी।

• हाइवे के ढाबे, ट्रक रिपेयर करने वाली दुकान, सरकारी काम से जुड़े कॉल सेंटर खुल सकेंगे।

• चाय, कॉफ़ी, और रबर पलांटेशन को अधिकतम 50 फ़ीसदी

• लेकिन ये सारी छूट कोरोना के हॉटस्पॉट और कंटेनमेंट ज़ोन में रहने वाले लोगों को नहीं दी जाएगी।

• ग्रामीण इलाक़ों में चल रहे उद्योग धंधों को खोलने की इजाज़त होगी लेकिन इसके लिए सोशल डिस्टेंसिंग का सख़्ती से पालन करना होगा।

Next Story