Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ICU में चल रहा था महिला का इलाज, परिजनों को थमा दिया डेथ सर्टिफिकेट, दो डॉक्टर निलंबित

सरकारी नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज के आईसीयू में भर्ती 60 साल की बुजूर्ग महिला का गुरुवार को डेथ स​र्टिफिकेट बनाने के मामले में दो डॉक्टरों पर गाज गिरी है।

ICU में चल रहा था महिला का इलाज
X
two doctors suspended for making death report of patient mistakenly

जबलपुर। सरकारी नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज के आईसीयू में भर्ती 60 साल की बुजूर्ग महिला का गुरुवार को डेथ स​र्टिफिकेट बनाने के मामले में दो डॉक्टरों पर गाज गिरी है। मामले को गंभीरता से लेते हुए अस्पताल प्रबंधन ने सीनियर डॉक्टर राजीव शाक्या और जूनियर डॉक्टर रघुराजा मसीहा को निलंबित कर दिया है। प्रबंधन ने इस दौरान पूरे मामले की जांच के भी आदेश भी दिए हैं।

अस्पताल के डीन डॉ. नवनीत सक्सेना ने कहा कि प्रारंभिक जांच में पता चला है कि दूसरे मरीज के साथ इस मरीज की फाइल बदल गई थी, जिससे यह गलती हुई। जिस डॉक्टर ने यह डेथ रिपोर्ट बनाई उसकी हिन्दी कमजोर है और इस वजह से ऐसा हुआ। हालांकि, बाद में जिस मरीज की गलती से डेथ रिपोर्ट बना दी गई थी, उसके कहने से इस रिपोर्ट को सुधार कर ठीक कर दिया गया है।

दरअसल, सरकारी अस्पताल में दमोह निवासी 60 साल की महिला आईसीयू में भर्ती है। जिसे डॉक्टरों ने जिंदा रहते हुए मृत घोषित कर दिया और प्रमाण पत्र परिजनों को थमा दिया। परिजनों ने जब महिला की सांस चलती हुई देखी तो डॉक्टरों को तुरंत बतायाा तब जाकर हरकत में आए और पुन: उसे आईसीयू में भर्ती कराया। इसके बाद ​परिजनों से जबदस्ती जारी किया हुआ डेथ सर्टिफिकेट भी छीन लिया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story