Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डॉक्टर को​ मिला जम्मू के बारामूला से उर्दू में लिखा धमकी भरा पत्र अपने कदम वापस खींचो वरना...Video

जम्मू कश्मीर के बारामूला से शहर के डॉक्टर अमरजीत भल्ला को उर्दू में लिखा धमकी भरा पत्र मिला है। जिसमें डॉक्टर को धमकी देते हुए लिखा है ''अपने कदम वापस ​खींच लो नहीं तो वापस नहीं लौट पाओगे''।

डॉक्टर को​ मिला जम्मू के बारामूला से उर्दू में लिखा धमकी भरा पत्र अपने कदम वापस खींचो वरना...Video
X
जावेद खान, ग्वालियर। जम्मू कश्मीर के बारामूला से शहर के डॉक्टर अमरजीत भल्ला को उर्दू में लिखा धमकी भरा पत्र मिला है। जिसमें डॉक्टर को धमकी देते हुए लिखा है 'अपने कदम वापस ​खींच लो नहीं तो वापस नहीं लौट पाओगे'। पत्र मिलने के बाद से डॉक्टर और उनका पूरा परिवार दहशत में है। धमकी मिलने के बाद डॉक्टर ने सोमवार की रात झांसी रोड पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पत्र भेजने वाले ने अपना नाम फारूक अहमद, निवासी बारामूला बताया है।
डॉक्टर को यह पत्र 31 जनवरी को मिला था। उर्दू नहीं आने के कारण जब डॉ. अमरजीत ने इसका कहीं और अनुवाद कराया। जब उसे समझ आया कि उर्दू में लिखे इस पत्र में उन्हें कश्मीर से धमकी मिली है तो उन्होंने तुरंत पत्र पुलिस को सौंप दिया।

बसंत विहार में संचालित सहारा अस्पताल के संचालक डॉ. अमरजीत सिंह पुत्र उजागर सिंह भल्ला को यह पत्र 31 जनवरी को मिला था। उर्दू नहीं आने के कारण जब डॉ. अमरजीत ने इसका कहीं और अनुवाद कराया। उर्दू में लिखे इस पत्र का अनुवाद कराने के बाद उन्हें पता चला कि पत्र में फारूक अहमद निवासी बारामूला ने उन्हें धमकी दी है 'अगर उन्होंने अपने कदम वापस नहीं खींचे तो बारामूला से वापस नहीं लौट पाएंगे'। इसके बाद डॉक्टर एसपी नवनीत भसीन से मिले और उन्हें पत्र सौंपा।
गौरतलब है डॉ. भल्ला को 25 फरवरी को एक मानहानि के नोटिस का जवाब देने बारामूला जाना है। उन्हें यह नोटिस डीपीएस स्कूल का संचालन करने वाली राजीव गांधी एजुकेशन सोसायटी में शामिल साजिद मोहम्मद बांडे ने समिति में लेन-देन में गड़बड़ी के संबंध में की गई शिकायत के कारण दिया है। साजिद को शिकायत की जानकारी उनकी पत्नी ने दी थी। इसी का स्पष्टीकरण देने उन्हें बारामूला जाना है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story