Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

​खून बहाने की धमकी देने वाले पूर्व MLA सुरेंद्रनाथ को पुलिस ने किया गिरफ्तार, कहा- अभी अंदर जा रहा हूं बाहर आउंगा फिर निपटूंगा

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मुख्यमंत्री का खून बहा देने की धमकी देने वाले बीजेपी नेता और भोपाल के पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह को आज टीटी नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

​खून बहाने की धमकी देने वाले पूर्व MLA सुरेंद्रनाथ को पुलिस ने किया गिरफ्तार,  कहा- अभी अंदर जा रहा हूं बाहर आउंगा फिर निपटूंगा
X

मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में मुख्यमंत्री का खून बहा देने की धमकी देने वाले बीजेपी नेता और भोपाल के पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह को आज टीटी नगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सुरेन्द्र नाथ सिंह के खिलाफ नगर निगम की ओर से उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी थी। गिरफ्तारी के बाद भी सुरेंद्रनाथ सिंह ने कहा कि अभी अंदर जा रहा हूं बाहर आउंगा फिर निपटूंगा।

बता दें पूर्व ​​विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह ने गुरुवार को गुमठियां हटाने और झुग्गीवासियों को मिल रहे भारी बिजली बिल को लेकर रोशनपुरा चौराहे पर प्रदर्शन कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ के लिए अपशब्दों को प्रयोग करते हुए प्रशासन को खुली चुनौती दे डाली।

गुमठी व्यवसायियों से नारे लगवाते हुए बोले- हमारी मांगें पूरी नहीं हुईं तो सड़कों पर खून बहेगा। फिर बोले, और यह खून कमलनाथ का होगा। जिसके बाद सरकार अधिकारियों के खिलाफ भीड़ को उकसाने के आरोप में उनके खिलाफ भोपाल के टीटी नगर थाने में एफआईआर दर्ज हो चुकी है। इधर संगठन में भी बयान पर नाराजगी जताई है।

कोई बिजली का बिल मांगने आए तो मारो

सुरेन्द्र नाथ सिंह गुरुवार को भोपाल में गुमठी वालों के साथ विधानसभा का घेराव करने निकले थे। उस दौरान उन्होेेंने नगर निगम अफसर को धमकाया और फिर बिजली के मुद्दे पर विवादित बयान भी दे दिया था। सुरेन्द्र नाथ सिंह ने लोगों को सम्बोधित करते हुए कहा था-अगर कोई बिजली का बिल मांगने आए तो उसे मारो और विधानसभा, मंत्रालय और सीएम हाउस की बिजली काट दो।

मांफी मांगने से सुरेंद्रनाथ ने किया इंकार

बिजली बिल के लिए सड़क पर खून बहाने की धमकी देने वाले भाजपा नेता और भोपाल के पूर्व विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह साफ कर दिया है कि वह अपने इस बयान पर के​ लिए मांफी नहीं मांगेंगे। उन्होंने कहा मैंने कोई अनुशासनहीनता नहीं कि है संगठन चाहे तो इसके लिए उन्हें पार्टी से निकाल दे। सुरेंद्र नाथ सिंह ने कहा-कई बार धरना देने के बाद भी सरकार ने हमारी एक नहीं सुनी। इसलिए इस तरह की बयानबाज़ी करना पड़ी। कहीं सुनवाई ना होने के बाद ही हमने प्रदर्शन किया। अब उस बयान के लिए पार्टी भले ही कोई भी कार्रवाई करे। चाहे तो निष्कासित कर दे, लेकिन मैं माफ़ी नहीं मांगूंगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story