Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उज्जैन में गुर्जर गैंग और पुलिस के बीच मुठभेड़, इनामी बदमाश रौनक को लगी तीन गोलियां, 6 सदस्य गिरफ्तार

आंतक का पर्याय बन चुके कुख्यात बदमाश रौनक गुर्जर और पुलिस के बीच शुक्रवार देर रात जोरदार मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में रौनक गुर्जर को पैर में तीन गोलियां लगी।

उज्जैन में गुर्जर गैंग और पुलिस के बीच मुठभेड़
X
gangster raunak gurjar

उज्जैन। आंतक का पर्याय बन चुके कुख्यात बदमाश रौनक गुर्जर और पुलिस के बीच शुक्रवार देर रात जोरदार मुठभेड़ हुई। इस मुठभेड़ में रौनक गुर्जर को पैर में तीन गोलियां लगी। उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है। मुठभेड़ में गुर्जर के दो और साथी भी घायल बताए जा रहे हैं। मुठभेड़ की सूचना के बाद मौके पर एसपी सचिन अतुलकर सहित तमाम बड़े पुलिस अधिकारी पहुंचे।

पिछले एक हफ्ते में रौनक गुर्जर गैंग ने तीन बार गोली बारी की घटना को अंजाम दिया था जिसकी वजह शहर में तनाव का माहौल बना हुआ था। दो दिन पहले गुरुवार रात को बदमाश रौनक गुर्जर और उसकी गैंग ने उज्जैन के दो व्यापारियों से वसूली की कोशिश की थी। इस दौरान चली गोली से एक व्यापारी घायल हो गया था। तब से पुलिस की कई टीमें उसकी तलाश में लगी थीं।

देर रात पुलिस को मुखबिर से लोकेशन की जानकारी मिलने के बाद पुलिस उन्हें पकड़ने गई थी इसी दौरान बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसके जवाब में पुलिस की तरफ से भी क्रॉस फायरिंग की गई। अब तक गैंग के कुल 6 सदस्य पुलिस गिरफ्त में आ चुके हैं। लेकिन इन्हें पकड़ने के लिए पुलिस को काफी मशक्कत करना पड़ी। रौनक गुर्जर की लोकेशन ट्रेस होने पर जब पुलिस की टीम मौके पर पहुंची तो कार में मौजूद रौनक और उसके एक साथी ने पुलिस पार्टी पर अंधाधुंध गोलियां बरसाना शुरू कर दिया।


रौनक और उसके साथी ने 10 गोलियां पुलिस पर चलाई। जवाबी कार्रवाई में पुलिस को भी गोलियां चलानी पड़ी। मुठभेड़ में रौनक गुर्जर के पैर में तीन गोलिया लगीं हैं। यहां से पुलिस ने रौनक और उसके एक साथी को पकड़ा। रौनक गुर्जर गैंग को पकड़ने के लिए एसपी सचिन अतुलकर ने 4 टीमों का गठन किया था। पुलिस की एक अन्य टीम ने अन्य जगह से भागने की कोशिश कर रहे उसके भाई रोशन, अनमोल दीपक परमार आशीष शर्मा और अजय लोधी सहित अन्य सदस्यों को पकड़ा है।


बता दें कि सप्ताहभर के भीतर रौनक और उसकी गैंग के गुर्गों ने तीन लोगों पर गोलियां बरसाई थी जिनका सीसीटीवी भी सामने आया था। इनमें से दो को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती किया गया था। वर्चस्व की लड़ाई के चलते रौनक ने उसके ममेरे भाई मोंटू गुर्जर को गोली मारकर जानलेवा हमला किया था। इसके अलावा दो व्यापारियों पर हफ्ता वसूली के चलते जानलेवा हमले किए गए थे। एक के बाद एक घटनाओं को अंजाम देने के बाद भी ये गुंडे पुलिस गिरफ्त से दूर थे।

जिसके चलते इन पर एसपी ने 40 हजार का ईनाम घोषित किया था। पुलिस ने सख्ती बरतते हुए गुंडे रौनक द्वारा बनाए गए अवैध मकान को भी निगम द्वारा तुड़वा दिया था।बता दें गुर्जर गेंग के सदस्य बीजेपी के करीबी रहे है जिसमे केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, विधायक पारस जैन, रमेश मंदोला सहित कई नेताओं के साथ फोटो में दिखयी दे रहा है

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story