Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ओंकार पर्वत से खाई में गिरा बुजुर्ग, रात भर झाड़ियों के बीच फंसे रहने बाद भी नहीं आई कोई चोंट Watch Video

'जाको राखे साइयां, मार सके न कोय'। ये कहावत आपने कई बार सुनी होगी। यह कहावत एक फिर सार्थक हुई है खंडवा स्थित ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग दर्शन करने आए राजस्थान के 75 वर्षीय काजोरिया पर।

ओंकार पर्वत से खाई में गिरा बुजुर्ग, रात भर झाड़ियों के बीच फंसे रहने बाद भी नहीं आई कोई चोंट Watch Video
X

खंडवा। 'जाको राखे साइयां, मार सके न कोय'। ये कहावत आपने कई बार सुनी होगी। यह कहावत एक फिर सार्थक हुई है खंडवा स्थित ओंकारेश्वर ज्योतिर्लिंग दर्शन करने आए राजस्थान के 75 वर्षीय काजोरिया पर। जब पहाड़ी पर ज्योतिलिंग की परिक्रमा के दौरान जत्थे में से एक बुजुर्ग पावं फिसलने के कारण पहाड़ी से गिरकर रातभर 50 फीट नीचे झाड़ियों में लटका रहा। सुबह घाट पर मौजूद श्रद्धालुओं की नजर पड़ी तो बुजुर्ग को सुरक्षित उतारकर अस्पताल पहुंचया गया।

दरअसल, राजस्थान के चितौड़गढ़ जिले से 20 श्रद्धालुओं जत्था ओंकारेश्वर समेत अन्य धार्मिक स्थलों की यात्रा पर आया था। बामनोस थाना बसोड़ माधवनगर के श्रद्धालु बुजुर्ग काजोलिया भी इसमें शामिल थे। गुरुवार को सभी श्रद्धालुओं ने नर्मदा स्नान कर ओंकारजी के दर्शन किए और ओंकार पर्वत की परिक्रमा के लिए रवाना हो गया। इस दौरान मेंहदीघाट सिद्धवरकूट क्षेत्र की परिक्रमा मार्ग पर 150 फीट उंची पहाड़ी पर अचानक काजोलिया का पैर फिसल गया और वे 50 फीट नीचे पेड़ झाड़ियों के बीच फंस गए। गहराई और रात होने के कारण उनकी चीख आवाज किसी को सुनाई नहीं दी।

उनके साथ आगे श्रद्धालु आगे निकल गए और काजोलिया पूरी रात झाड़ियों में फंसे रहे। शुक्रवार सुबह श्रद्धालुओं की उन पर नजर पड़ी तो पुलिस को सूचना दी गई। जिसके बाद पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिलकर रेस्क्यू कर घायल वृद्ध को निकाला। इसके बाद प्राथमिक उपचार के बाद ओंकारेश्वर स्थित वृद्धाश्रम में रखा गया है। पुलिस ने उनके साथियों की तलाश की लेकिन कोई नहीं मिल सका परिजनों को सूचित किया है।


और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story