Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जिसकी गोदी में खेलती थी वहीं निकला वहशी-दरिंदा, ईट से सिर कुचला फिर जिंदा ही नदी में फेंक दिया मासूम को

पिता के साथ सो रही 5 साल की मासूम का अपहरण कर उससे दुष्कर्म और फिर निर्ममता से उसकी हत्या करने के मामले में पुलिस ने हैवान को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी कोई और नहीं मासूम का हार-फूल बेचने बेचने वाला पड़ोसी युवक शिवा राव मराठा (18) ही निकला।

जिसकी गोदी में खेलती थी वहीं निकला वहशी-दरिंदा, ईट से सिर कुचला फिर जिंदा ही नदी में फेंक दिया मासूम को
X

उज्जैन। पिता के साथ सो रही 5 साल की मासूम का अपहरण कर उससे दुष्कर्म और फिर निर्ममता से उसकी हत्या करने के मामले में पुलिस ने हैवान को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी कोई और नहीं मासूम का हार-फूल बेचने बेचने वाला पड़ोसी युवक शिवा राव मराठा (18) ही निकला। पुलिस ने ईंट-भट्‌टे पर काम करने वाले 70 लोगोें से पूछताछ कर परिचित आरोपी को खोजा।

पीएम रिपोर्ट के अनुसार आरोपित ने पहले मासूम के साथ ज्यादती की और फिर खुद की पहचान छुपाने के लिए र्ईंट से चेहरा कुचल कर बच्ची को जिंदा ही शिप्रा नदी में फेंक दिया। जिसके बाद पानी में डूबने से मासूम की मौत हो गई। घटना के वक्त मासूम अपने पिता के साथ सो रही थी। जहां से युवक नींद से ही उसे उठाकर ले गया था। मामले में पुलिस ने युवक के खिलाफ पॉस्को, हत्या सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है।

पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा 449, 376 ए, बी, 366, 302, 201, पाक्सो एक्ट की धारा 5, 6 और एससीएसटी एक्ट की धारा 3(2)(5) में कायमी की है। एसपी ने कहा है कि मामले में जल्द ही चालान पेश कर दिया जाएगा। फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकदमा चलेगा। आरोपित को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाएगी। उधर, ऐसी हैवानियत देख शहर के नाराज नागरिकों ने भी आवाज उठाई है। उनका कहना है कि दरिंदे को जल्द से जल्द फांसी दी जाए।

मासूम बच्ची आरोपी की गोद में खिलखिलाया करती थी। उस मासूम को क्या पता था कि जिसकी गोद में वह खेल रही है वही युवक उसके साथ हैवानियत की घटना को अंजाम देगा। उज्जैन शहर में शनिवार को क्षिप्रा नदी के घाट पर 5 साल की मासूम का अर्धनग्न हालत में शव मिला था। जो पास ही में संचालित ईंट-भट्‌टे पर काम करने वाली दिहाड़ी मजदूर की बेटी थी। मासूम के साथ दुष्कर्म कर उसका सिर ईंट से कुचलकर नदी में फेंक दिया गया था। मासूम के गुमशुदगी की रिपोर्ट उसके पिता ने पुलिस के पास लिखाई थी।

अश्लील फिल्म देखकर आया था आरोपी शिवा

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी आरोपी को ढूंढनें में जुट गए और करीब आधा दर्जन संदेहियों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की गई। मामले में पुलिस और पीएम करने वाली डॉक्टर्स की पैनल दोनों को आरोपी के परिचित होने की आशंका थी। जिसके चलते पड़ोस में रहने वाले युवक शिव राव मराठा से पूछताछ की गई। पड़ोसी शिवा राव (19) ने पूछताछ में कबूल किया कि बच्ची का अपहरण कर उसने ही इस घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। इस दौरान उसने शराब पी रखी थी। वह मंदिर के बाहर मोबाइल पर अश्लील फिल्म भी देखकर आया था। इससे वह अपने होश खो बैठा और बच्ची का अपहरण कर लिया।

आरोपी का परिवार ईंट-भट्‌टे पर ही रहता है

आरोपी युवक हार-फूल बेचने का काम करता है जबकि इसके पिता ईंट-भट्‌टे पर मजदूरी करते हैं। शिवा का पूरा परिवार ईंट-भट्‌टे पर ही रहता है। जब पुलिस ने शिवा को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो पहले तो उसने पुलिस को बरगलाने की कोशिश की। लेकिन जब पुलिस ने उसके द्वारा दिए गए बयान और उसकी सत्यता की जांच की तो सच सामने निकलकर आ गया। एसपी सचिन अतुलकर ने बताया कि मामले में हत्या, दुष्कर्म, अपहरण, पॉस्को सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है। शिवा को कोर्ट में पेश कर पुलिस रिमांड मांगा जाएगा।

24 घंटे में खुलासा, आईजी ने टीम को दिया 30 हजार रुपए इनाम

आईजी राकेश गुप्ता ने 24 घंटे में मामले का खुलासा करने और आरोपित को गिरफ्तार करने पर टीम को 30 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की है। टीम में एएसपी नीरज पांडेय, सीएसपी ऋतु केवरे, हंसराज सिंह, टीआई अरविंद तोमर, सायबर प्रभारी आरआर वास्कले, एसआई गगन बादल, ओपी जोशी, एएसआई लोकेंद्र, धर्मेंद्र तोमर, आरक्षक प्रमोद और मनीष आदि शामिल थे।

गौरतलब है बच्ची 6 जून गुरुवार की रात अपने पिता के साथ सो रही थी। रात को 2 बजे जब बच्ची के दादा की आंख खुली तो वह वहां पर नहीं दिखी। जिसके बाद रात भर बच्ची को ढूंढा गया, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल सका।

जब बच्ची का रात भर कुछ पता नहीं चल सका तो पुलिस को इसकी जानकारी दी गई। सूचना मिलने पर महाकाल पुलिस मौके पर पहुंची और बालिका की तलाश की। दोपहर करीब तीन बजे भूखी माता मंदिर के समीप शिप्रा नदी में नहा रहे कुछ बच्चों ने बालिका का शव देखा और समीप के खेत में काम कर रही महिला को इसकी जानकारी दी। इस पर पुलिस को सूचना की गई।

पुलिस को जब बच्ची का शव मिला उसके शरीर पर एक भी कपड़े नहीं थे और पूरा शरीर खून से लथपथ था। बच्ची पर ईंट के साथ ही बोतलों से भी वार किया गया था। जिसके बाद सनसनी खेज हत्या के मामले को गंभीरता से लेते हुए उज्जैन एसपी ने एसआईटी का गठन कर दिया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story