Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण के घर रात 3 बजे आयकर का छापा, दिल्ली, मप्र और गोवा के 50 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण कक्कड़ के घर आयकर विभाग की टीम ने शनिवार देर रात अचानक धावा बोल दिया।

मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण के घर रात 3 बजे आयकर का छापा, दिल्ली, मप्र और गोवा के 50 ठिकानों पर एक साथ छापेमारी
X
महेश मिश्रा, इंदौर। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के निजी सचिव प्रवीण कक्कड़ के घर आयकर विभाग की टीम ने शनिवार देर रात अचानक धावा बोल दिया। प्रवीण कक्कड़ के विजय नगर स्थित स्कीम नंबर 74 बंगले में इनकम टैक्स की 15 से अधिक अधिकारियों की टीम ने देर रात 3 बजे अचानक छापा मार दिया।
इसके साथ ही विजय नगर स्थित शोरूम, बीएमसी हाइट्स स्थित ऑफिस, शालीमार टाउनशिप और जलसा गार्डन, भोपाल स्थित घर श्यामला हिल्स, प्लेटिनम प्लाजा कॉलोनी सहित अन्य स्थानों पर भी जांच की जा रही है। बताया जा रहा है प्रवीण जब पुलिस महकमे में अधिकारी थे तभी उनके खिलाफ कई मामले सामने आए थे। मुख्यमंत्री कमलनाथ के राइट हैंड माने जाने वाले सलाहकार राजेंद्र कुमार मिगलानी (आरके मिगलानी) के दिल्ली स्थित निवास ग्रीन पार्क में आयकर की टीम ने दबिश दी है।
बताया जा रहा है कि जब आयकर विभाग की टीम देर रात पहुंची तो प्रवीण कक्कड़ के परिवार के लोग घबरा गए थे। जब उन्हें पूरी तरह से यकिन हो गया कि ये सभी आयकर के अधिकारी हैं तो उन्होंने जांच में सहयोग किया। भोपाल में भी मुख्यमंत्री के कुछ करीबियों के ठिकानों पर छापेमारी चल रही है। बताया जा रहा है कि अब तक नौ करोड़ रुपए की नकदी जब्त की जा चुकी है।

Image may contain: one or more people and people standing

आयकर विभाग के सूत्रों ने न्यूज एजेंसी को बताया कि 500 अफसर इंदौर, भोपाल, गोवा और दिल्ली समेत 50 ठिकानों पर एक साथ कार्रवाई कर रहे हैं। इनमें रातुल पुरी, अमिता ग्रुप, मोजर बियर शामिल हैं। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रतीक जोशी के आवासीय परिसर में छापेमारी के दौरान बरामद नकदी के आयकर स्रोतों द्वारा उपलब्ध कराए गए चित्र।
आयकर सूत्रों के मुताबिक, मध्यप्रदेश के आयकर अफसरों को कार्रवाई की जानकारी नहीं दी गई थी। दिल्ली की टीम ने मध्यप्रदेश पुलिस की भी मदद नहीं ली। पहली बार सीआरपीएफ को छापेमारी की कार्रवाई में शामिल किया गया।
भोपाल में प्लेटिनम प्लाजा की छठी मंजिल पर प्रतीक जोशी और अश्विन शर्मा का आवास है। दोनों ही प्रवीण कक्कड़ के बेहद करीबी माने जाते हैं। यहीं पर दोनों के ऑफिस भी हैं। कक्कड़ के भोपाल में रहने के दौरान दोनों उनसे मिलने आते थे। प्रतीक के घर से बड़ी मात्रा में नकदी जब्त की गई।
जानिए कौन हैं कक्कड़
बता दें प्रवीण कक्कड़ को पुलिस विभाग में रहने के दौरान उन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित भी किया गया था। इसके बाद उन्होंने 2004 में अपने नौकरी छोड़ दी और कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के ओएसडी बन गए। कहा जाता है कि 2015 में कांतिलाल भूरिया को रतलाम-झाबुआ सीट पर मिली जीत प्रवीण कक्कड़ द्वारा बनाई रणनीति से मिली। दिसंबर 2018 में वे सीएम कमलनाथ के ओएसडी बने थे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story