Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्यप्रदेश की राजनीति में भूचाल: मुख्यमंत्री के सबसे करीबी हैं ये शख्स, टूरिस्ट बनकर पहुंचे थे अधिकारी.. देखें फोटो

आयकर विभाग ने रविवार तड़के बड़ी कार्रवाई करते हुए मध्यप्रदेश की राजनीति में भूचाल ला दिया है। आईटी टीम ने मुख्यमंत्री के सबसे करीबी माने जाने वाले निजी सचिव प्रवीण कक्कड़, सलाहकार राजेंद्र मिगलानी, भांजे रातुल पुरी, प्रतीक और अश्विनी के ठिकानों पर छापेमार कार्रवाई कर सबको सकते में डाल दिया है।

मध्यप्रदेश की राजनीति में भूचाल: मुख्यमंत्री के सबसे करीबी हैं ये शख्स, टूरिस्ट बनकर पहुंचे थे अधिकारी.. देखें फोटो
X
भोपाल। आयकर विभाग ने रविवार तड़के बड़ी कार्रवाई करते हुए मध्यप्रदेश की राजनीति में भूचाल ला दिया है। आईटी टीम ने मुख्यमंत्री के सबसे करीबी माने जाने वाले निजी सचिव प्रवीण कक्कड़, सलाहकार राजेंद्र मिगलानी, भांजे रातुल पुरी, प्रतीक और अश्विनी के ठिकानों पर छापेमार कार्रवाई कर सबको सकते में डाल दिया है।
आयकर सूत्रों के मुताबिक, मध्यप्रदेश के आयकर अफसरों को कार्रवाई की जानकारी नहीं दी गई थी। दिल्ली की टीम ने मध्यप्रदेश पुलिस की भी मदद नहीं ली। पहली बार सीआरपीएफ को छापेमारी की कार्रवाई में शामिल किया गया।
Image may contain: tree, plant, sky, outdoor and nature
दिल्ली की टीम ने प्रदेश पुलिस की मदद की जगह पहली बार सीआरपीएफ की टीम को छह गाड़ियों में दिल्ली से अपने साथ लेकर आई। आयकर विभाग की टीम दिल्ली से चार अप्रैल को भोपाल के लिए निकली। छापा मारने के लिए छुट्टी पर गई महिला कर्मियों को छुट्टी कैंसिल कर भोपाल बुलाया गया।
Image may contain: one or more people and outdoor
टीम ने ट्रैवल एजेंसी हायर की गाड़ी
इनकम टैक्स के अधिकारी टूरिस्ट बनकर पहुंचे थे छापा डालने के लिए। किसी को इसकी भनक तक न लगे इसलिए ट्रैवल एजेंसी की गाड़ी को हायर किया था। रात 12:00 बजे गाड़ी हायर करने के बाद 3 घंटे तक छापे की प्लानिंग करने के बाद देर रात 3 बजे प्रवीण कक्कर के घर पर एक साथ दबिश दी। छापे की कार्रवाई में 12 से 15 इनकम टैक्स के अधिकारी शामिल थे।
Image may contain: 1 person, standing and outdoor
कौन हैं कक्कड़
प्रवीण कक्कड़ पूर्व पुलिस अधिकारी हैं। उन्हें राष्ट्रपति पुरस्कार से सम्मानित भी किया जा चुका है। 2004 में नौकरी छोड़कर वे कांग्रेस नेता कांतिलाल भूरिया के ओएसडी बने थे। दिसंबर 2018 में कमलनाथ के ओएसडी बन गए। बताया जा रहा है कि नौकरी में रहते हुए उनके खिलाफ कई मामले सामने आए जिनकी अभी जांच चल रही है।
Image may contain: Tilakrajsaluja Salujatilakraj, smiling, standing and outdoor
कौन हैं राजेंद्र मिगलानी
आरके मिगलानी करीब 30 साल से कमलनाथ से जुड़े हैं। जब कमलनाथ मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री बने तो उन्होंने मिगलानी को अपना सलाहकार नियुक्त किया। मुख्यमंत्री के राइट हैंड माने जाने वाले मिगलानी कौन-कब मिलेगा इसके साथ ही उनके अन्य कामों को भी संभालते हैं। आयकर विभाग ने मिगलानी के दिल्ली में ग्रीन पार्क कॉलोनी स्थित घर पर कार्रवाई की है।
Image may contain: 1 person

कौन हैं प्रतीक और अश्विन
प्रतीक जोशी और अश्विन शर्मा भोपाल के आर्म्ड डीलर हैं। दोनों आपस में रिश्तेदार भी हैं। आयकर विभाग ने घर से नौ करोड़ रुपए मिलने की पुष्टि की है। दोनों की सीएम हाउस तक सीधे पहुंच है। बताया जा रहा है कि प्रवीण कक्कड़ इन्हीं के माध्यम से डीलिंग करता था। अश्विन शर्मा की कई भाजपा नेताओं से भी नजदीकी की बात सामने आई है। भोपाल में प्लेटिनम प्लाजा की छठी मंजिल पर प्रतीक जोशी और अश्विन शर्मा का आवास है। दोनों ही प्रवीण कक्कड़ के बेहद करीबी माने जाते हैं। यहीं पर दोनों के ऑफिस भी हैं। कक्कड़ के भोपाल में रहने के दौरान दोनों उनसे मिलने आते थे। प्रतीक के घर से बड़ी मात्रा में नकदी जब्त की गई।

कार से मिले डॉलर
आयकर विभाग को प्लेटीनम प्लॉजा की पॉर्किंग में अश्विन की करीब दो दर्जन लग्जरी कारें मिली हैं। इसमें आधा दर्जन विंटेज कारें भी शामिल हैं। आयकर विभाग की टीम ने कारों की तलाशी भी ली है। उधर दिल्ली में मृगलानी की दो लग्जरी कारों से टीम ने डॉलर बरामद किए हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story