Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्य प्रदेश की ढाई लाख गायों को मिली पहचान, आधार जैसा होगा नंबर

मध्य प्रदेश में रहने वाले सभी पशुओं के लिए अब सरकार ने एक खास पहचान वाली स्कीम शुरू की है। सरकार इंसानों की तरफ अब पशुओं को भी उनकी पहचान देने जा रही है।

मध्य प्रदेश की ढाई लाख गायों को मिली पहचान, आधार जैसा होगा नंबर
X

मध्य प्रदेश में रहने वाले सभी पशुओं के लिए अब सरकार ने एक खास पहचान वाली स्कीम शुरू की है। सरकार इंसानों की तरफ अब पशुओं को भी उनकी पहचान देने जा रही है।

इसे भी पढ़े- Video: केजरीवाल की रैली में बुलाए गए 'दिहाड़ी मजदूर', पैसा-खाना न मिलने पर मजदूरों ने किया AAP के खिलाफ विरोध

बता दें कि एमपी सरकार राज्य की ढाई लाख गायों को पीला कार्ड देने जा रही है। जिसमें उस गाय के बारे में पूरी जानकारी होगी साथ ही आधार की तरफ उसमें भी 12 विशिष्ट नंबर होंगे जैसे की एक आदमी का पहचान पत्र होता है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि इस पीले कार्ड को मवेशियों के मालिक के आधार कार्ड से लिंक कर दिया जाएगा। जिससे पहचान रहेगी कि ये गाय या पशु किसका है और कौन इसका मालिक है। पशु की गर्दन पर टैग लगा दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें- मोदी ने वाराणसी को बना दिया 'वायरलेस शहर', अब नहीं हैं यहां खम्भे और तारें

बता दें कि पशुओं के कान में टैग लगाने की मुहिम ‘राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड’ की महत्वाकांक्षी योजना के तहत शुरू की गयी है। सरकार ने ये फैसला राज्य में पशुओं की तस्करी और लावारिस छोड़कर चले जाने वालों पर नकेस कसने के लिए की है।

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक, पशुपालन विभाग के संयुक्त संचालक और इनाफ के नोडल अधिकारी ने बताया कि हमने राज्य में दुधारू पशुओं को अद्वितीय पहचान संख्या देने का काम बड़े स्तर पर शुरू कर दिया है।

बता दें कि पहले चरण में 40 लाख टैग बांटे गए हैं। अब तक ढाई लाख मवेशियों के कान में ये टैग लगाये जा चुके हैं।। इस काम को अब और भी आगे बढ़ाया जाएगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story