Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गुना से गायब 4 बच्चे ग्वालियर ट्रेन में मिले, बोले- PUBG ने दिया था टारगेट और घूमना भी था मॉल

गुना में रविवार रात उस समय अफरा तफरी मच गई जब एक ही परिवार के नाबालिग बच्चे अचानक घर से घायब हो गए। लापता बच्चों में दो लड़के और दो लड़कियां शामिल थीं। जिन्हें सोमवार सुबह ग्वालियर GRP ने ट्रेन में बरामद किया। पूछताछ में बच्चों ने बताया कि उन्होंने कभी मॉल नहीं देखा था इसलिए मॉल घूमने के लिए चले गए ​थे।

गुना से गायब 4 बच्चे ट्रेन में मिले
X
four missing minor's found in train

मध्यप्रदेश के गुना में रविवार रात उस समय अफरा तफरी मच गई जब एक ही परिवार के नाबालिग बच्चे अचानक घर से घायब हो गए। लापता बच्चों में दो लड़के और दो लड़कियां शामिल थीं। जिन्हें सोमवार सुबह ग्वालियर GRP ने ट्रेन में बरामद किया। पूछताछ में बच्चों ने बताया कि उन्होंने कभी मॉल नहीं देखा था इसलिए मॉल घूमने के लिए चले गए ​थे।

गुना के सिटी कोतवाली क्षेत्र अंतर्गत राधा कॉलोनी रविवार रात उस समय खलबली मच गई जब क्षेत्र के एक ही परिवार के किशोर बच्चे लापता हो गए। क्रेशर संचालक हरि सिंह जाट की दो लड़कियां जिनकी उम्र 13 व 14 है और राजेन्द्र ​जाट के दो लड़के जिनकी उम्र 9 व 10 साल है। रविवार रात में सबके सोने के बाद मकान की कुंडी लगाकर मॉल घूमने के उद्देश्य से ट्रेन में बैठकर रवाना हो गए। इस दौरान उन्होंने अपनी दादी के एक लाख रुपए भी साथ ले लिए थे।

रात में जब परिजनों को खबर लगी तो बच्चों की तलाश शुरू की जब कोई पता नहीं चला तो पुलिस में इसकी सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए उनकी तलाश शुरू कर दी। इसी सूचना के आधार पर सब इंस्पेक्टर रामवीर सिंह राजावत, साइबर सेल प्रभारी मर्सीह खान, दीवान हरीश राजपूत ने सूत्रों तक बच्चों के गायब होने की सूचना पहुंचाई।

आॅनलाइन पप्ची गेम में मिला था टारगेट

जिसके बाद ग्वालियर GRP टीम ने चार बच्चों को देखा जिनका हुलिया गुना से गायब हुए बच्चों से मिलता था। जब GRP ने उनसे पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि चारों मॉल घूमने के लिए घर से भागे थे। वहीं बच्चों ने यह भी बताया कि वे लोग आॅनलाइन गेम पप्ची भी खेलते थे जिसमें उन्हें 500 किलोमीटर रन करने का टारगेट मिला था। यही सोचकर की टारगेट भी पूरा हो जाएगा और मॉल भी घूमना हो जाएंगे घर से निकल गए थे। बच्चों के पास से GRP टीम को 98 हजार रुपए भी मिले जो उन्होंने दादी के पास से चोरी कर लिए थे।

बच्चों को सुरक्षा में लेने के बाद GRP ने गुना कोतवाली और परिजनों को सूचना दी। लेकिन GRP पुलिस ने फैसला किया कि परिजनों के आने से पहले बच्चों की वो इच्छा पूरी करेंगे जिसके चलते बच्चों ने अनजाने में अपराधिक कदम उठाया। पुलिस चारों भाई बहनों को लेकर डीबी मॉल पहुंची जहाँ बच्चों ने जमकर मस्ती की।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story