Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्यप्रदेश समाचार : मानवाधिकार आयोग के पूर्व अध्यक्ष ने खुद को मारी गोली, मुंहबोली मामी को कॉल कर कहा- अब मैं बात नहीं कर पाऊंगा

मानवाधिकार आयोग के पूर्व अध्यक्ष धमेंद्र सिंह राठौर ने घर में खुद को गोली मारकर खुदखुशी कर ली। श्री राठौर को गंभीर हालत में इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। धर्मेंद्र ने कनपटी के नीचे खुद को गाली मारी। प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक, फाइनेंशियल कारणों के चलते उसने आत्महत्या की है।

मध्यप्रदेश समाचार : मानवाधिकार आयोग के पूर्व अध्यक्ष ने खुद को मारी गोली, मुंहबोली मामी को कॉल कर कहा- अब मैं बात नहीं कर पाऊंगा
X
इंदौर। मानवाधिकार आयोग के पूर्व अध्यक्ष धमेंद्र सिंह राठौर ने घर में खुद को गोली मारकर खुदखुशी कर ली। श्री राठौर को गंभीर हालत में इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया जहां उनकी मौत हो गई। धर्मेंद्र ने कनपटी के नीचे खुद को गाली मारी। प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक, फाइनेंशियल कारणों के चलते उसने आत्महत्या की है।
बता दें धर्मेंद पहले शराब व्यवसाय से भी जुड़ा था। जिसमें शराब व्यवसाय से संबंधित विवाद के चलते महारानी रोड पर हुए गोलीकांड का वह आरोपी बना था। बाद में वह मोबाइल कंपनी से जुड़ गया था।
बताया जा रहा है खुदकुशी करने से पहले राठौर ने अपने साथी को मैसेज किया, जिसमें आर्थिक हालात की वजह से खुदकुशी की बात कही है। एडीशनल एसपी शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया प्रथम दृष्टया मामला खुदकुशी का प्रतीत हो रहा है। उसने कनपटी के नीचे खुद को गोली मारी। आत्महत्या क्यों की यह भी विवेचना का विषय है।
मिली जानकारी के अनुसार धर्मेंद्र की दो बेटियां हैं और वो अपने किसी परिचित से शादी करना चाहती थीं और उन्होंने फरवरी में शादी की तारीख भी पक्की कर ली थी। लेकिन धर्मेद्र तारीख को आगे बढ़ाना चाहते थे उनका कहना था कि अभी उनकी आर्थिक स्थिति बेहतर नहीं है। बताया जा रहा धर्मेंद्र इस रिश्ते से खुश भी नहीं थे। इसे लेकर दो दिन से घर मे विवाद भी चल रहा था और उनकी दोनों बेटियां और पत्नी घर छोड़कर चली गई थीं। जिसके बाद से मृतक धर्मेंद्र काफी परेशान थे।

धर्मेंद्र जहां इस शादी से खुश नहीं थे, वहीं बच्चे शादी करना चाहते हैं। बातचीत के बाद परिजन अपने घर चले गए, वहीं धर्मेंद्र अपने घर आ गए। सुबह धर्मेंद्र ने अपनी मुहंबोली मामी को कॉल किया और सुसाइड की ओर इशारा करते हुए कहा कि 'आप आ जाना मैं अब बात नहीं कर पाऊंगा'।
इसके बाद इनके दो नौकर और मुंह बोले मामा ने दरवाजे से झांककर देखा तो ये अचेत अवस्था में पड़े थे। नौकरों ने पड़ोसियों की मदद से दरवाजा तोड़कर इन्हें अस्पताल पहुंचाया। मृतक के पास दो हथियार थे। परिजन अभी बाहर हैं। उनके आने के बाद पता चल पाएगा कि आखिर उन्होंने गोली क्यों मारी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story