Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

madhya pradesh budget 2019 : वित्त मंत्री तरुण ने सदन के पटल में रखा बजट, जानिए बजट की बड़ी बातें

विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही वित्त मंत्री तरुण भनोत ने वर्ष 2019-20 के बजट की कॉपी सदन के पटल में रख दी है। लेकिन कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने हंगामा करना शुरू कर दिया। हंगामे केे ​बीच वित्त मंत्री ने एक शेर के साथ बजट भाषण की शुरुआत की...अपनी लम्बाई का गुरुर है रास्तों को लेकिन वो मेरे क़दमों का मिजाज़ नहीं जानता।

वित्त मंत्री तरुण ने सदन के पटल में रखा बजट
X
finance minister tarun bhanot

भोपाल। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होते ही वित्त मंत्री तरुण भनोत ने वर्ष 2019-20 के बजट की कॉपी सदन के पटल में रख दी है। लेकिन कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने हंगामा करना शुरू कर दिया। हंगामे केे ​बीच वित्त मंत्री ने एक शेर के साथ बजट भाषण की शुरुआत की...'अपनी लम्बाई का गुरुर है रास्तों को लेकिन वो मेरे क़दमों का मिजाज़ नहीं जानता।'

बजट में सभी की निगाहें कांग्रेस के उन वादों पर रही जो उन्होंने विधानसभा चुनाव के दौरान अपने वचन पत्र में कही थी। वित्त मंत्री ने बजट पेश करते हुए कहा कि, केंद्र सरकार ने अपने बजट में मध्य प्रदेश के साथ भेदभाव किया। केंद्र ने मध्य प्रदेश की दी जाने वाली राशि में 2700 करोड़ की कटौती की गई है।

वित्त मंत्री तरुण ने भनोत ने जैसे ही बजट पेश करना शुरू किया विपक्ष्ज्ञ ने टोका टिप्पणी शुरू कर दी। इस बीच नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने महंगाई और पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ने पर सवाल कर दिया। जैसे ही भार्गव ने सवाल किया सदन में बैठे विपक्ष के सदस्यों ने भी हल्ला मचाना शुरू कर दिया।

बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री ने कहा, हमारी सरकार आज के हर वादों को अमल में लाएगी। युवा, किसान और महिलाओं को आत्मनिर्भर करना हमारा लक्ष्य है। लोगों पर कोई नया कर नहीं लगाया जाएगा। हर वर्ग को ध्यान में रखकर बजट तैयार किया गया है। इसमें युवा, बेरोज़गार, मध्य वर्ग सबका ध्यान रखा गया है। हमने जनहित में कई कई फैसले लिए हैं।

गरीबी में देश के 29 राज्यों में 27 वें नंबर पर है मध्यप्रदेश। इसका जिक्र करते हुए वित्त मंत्री ने एक शेर पढ़ा कि 'तेरे पास जो है, उसी की फ़िक्र कर, यहां आसमां के पास भी खुद की ज़मीन नहीं है।'

पहले बजट की बड़ी बातें :-

- 6 महीनों में सड़कों की सूरत बदल देंगे।

- भोपाल, जबलपुर, इंदौर में मेट्रो का ऐलान।

- सिंचाई योजना का होगा विस्तार।

- मध्यान्ह भोजन योजना को सशक्त किया जाएगा।

- राईट टू वायर स्किम लाएंगे।

- सामाजिक सुरक्षा पेंशन को दुगुना किया जाएगा।

- उनन्त खेती के लिए किसानों को ट्रेनिग दी जाएगी।

- दतिया, रीवा, उज्जैन में हवाई सेवा शुरू होगी।

- आदिवासियों के लिए स्पेशल ATM।

- प्राइवेट सेक्टर में 70 फीसदी मध्यप्रदेश के लोगो को रोजगार के लिए कानून बनाया जाएगा।

- मछ्ली पालन के लिए पिछली बार से 16 प्रतिशत अधिक बजट रखा गया है।

- श्रमिकों के लिए नया सबेरा योजना की शुरुआत।

- हाट बाजार में एटीएम लगाये जाएंगे।

- SC वर्ग के लिए 22 हजरा करोड़ का प्रावधान।

- ST के लिए 33 हजार करोड़ का प्रावधान।

- रोजगार गारंटी योजना के तहत युवा स्वाभिमान योजना शुरू होगी।

- 17 हजार युवाओं को ट्रेनिंग दी जा रही है।

- लोगों पर कोई नया कर नहीं लगाया जाएगा।

- वित्त मंत्री ने बताया कि, इस साल 18-19 अक्टूबर को Magnificent MP का आयोजन इंदौर में होगा। इसके जरिए मध्य प्रदेश में निवेश को आकर्षित किया जाएगा।

- भनोत ने कहा शिवराज सरकार ने खाली खज़ाना हमें दिया है। सरकार को काम करने के लिए अभी सिर्फ 128 दिन मिले हैं। फिर भी हम प्रदेश को तरक्की की राह पर आगे लाने की कोशिश कर रहे हैं।

- उद्योग नीति में बड़ा परिवर्तन किया गया है।

- अगले चरण में बचे हुए किसान के क़र्ज़ माफ़ किए जाएंगे।

- इस बार के बजट में कोई नया टैक्स नहीं लगाया गया है।

- मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की राशि बढ़ाई गई है।

- प्रदेश में नई MSME नीति शुरू होगी।

- रोजगार गारंटी योजना के तहत सरकार ने युवा स्वाभिमान योजना शुरू की।

- खेलों के विकास के लिए खिलाड़ियों को अंतर्राष्ट्रीय स्तर की फुटबॉल और स्वीमिंग अकादमी शुरू की जाएगी।

- गौ-शालाओं का विकास प्राथमिकता

- कृषि सलाहकार समिति का गठन किया जाएगा.

- फूड प्रोसेसिंग के लिए सरकार स्पेशल पैकेज लाएगी।

- बागवानी पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

- बागवानी और फूड प्रोसेसिंग के लिए 400 करोड़ रुपए दिए जाएंगे।

स्वास्थ्य के क्षेत्र में

- 6 नए अस्पताल खोले जाएंगे।

- बैकलॉग के 125 पद भरे गए।

- स्वास्थ्य का अधिकार लागू किया जाएगा।

- 30 बेड आयुष चिकित्सालय मंडलेश्वर में खोला जाएगा।

- योग्य चिकित्सकों की भर्ती की जाएगी।

- भोपाल, ग्वालियर, इंदौर, जबलपुर में बर्न यूनिट की शुरुआत की जाएगी।

शिक्षा के क्षेत्र में

- भोपाल में आधुनिक पुस्तकालय खोले जाएंगे।

- 3 नये विश्वविद्यालय शुरू होंगे।

- स्कूल शिक्षा के लिए 24,472 करोड़ का प्रावधान

- शिक्षा को रोज़गार मूलक बनाया जाएगा।

- छिंदवाड़ा में यूनिवर्सिटी खोलने का एलान।

- ग्वालियर में डेयरी और फूड प्रोसेसिंग कॉलेज

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story