logo
Breaking

फेल हुए विद्यार्थियों के लिए एक और मौका, 'रुक जाना नहीं' योजना, MPSOS से जुड़कर फिर दे सकते है परीक्षा

MPBSE का 10th-12th कक्षा का रिजल्ट बुधवार को घोषित हो गया। एक ओर जहां कई बच्चे पास हुए तो वहीं कुछ फेल भी। ऐसे बच्चे जो रिजल्ट में फेल हो गए हैं उन्हें हौसला और हिम्मत हारने की जरूरत नहीं, क्योंकि 2018 में माशिमं ने 'रुक जाना नहीं' योजना शुरू की है।

फेल हुए विद्यार्थियों के लिए एक और मौका,

भोपाल। माध्यमिक शिक्षा मंडल का 10 वीं और 12वीं कक्षा का रिजल्ट बुधवार को घोषित हो गया। एक ओर जहां कई बच्चे पास हुए तो वहीं कुछ फेल भी। ऐसे बच्चे जो रिजल्ट में फेल हो गए हैं उन्हें हौसला और हिम्मत हारने की जरूरत नहीं, क्योंकि 2018 में माशिमं ने 'रुक जाना नहीं' योजना शुरू की है।

'रुक जाना नहीं' परीक्षा भी होगी नतीजों के तुरंत बाद, मध्य प्रदेश स्टेट ओपन स्कूल MPSOS कक्षा 10वीं और कक्षा 12वीं के छात्रों के लिए 'रुक जाना नहीं' परीक्षा का आयोजन करेगा। जो बोर्ड परीक्षा में शामिल हुए थे लेकिन इसे क्लियर नहीं कर सके। उसी के परिणाम जुलाई 2019 में ओपन स्कूल द्वारा घोषित किए जाएंगे। इस तरह से छात्र एक साल भी नहीं चूकेंगे।

माशिंम की इस योजना के तहत कई बच्चे ओपन स्कूल से फेल हुए विषयों की परीक्षा देकर फिर से मुख्यधारा में जुड़ गए। इस योजना के तहत कुछ बच्चों ने तो 84 फीसदी तक नंबर लाए हैं। मप्र राज्य ओपन परिषद के डायरेक्टर पीआर तिवारी ने बताया कि जो बच्चे तीन विषय में फेल हुए थे। उसमें कई फर्स्ट डिवीजन में पास हुए। 'रुक जाना नहीं' के तहत बच्चों का साल बर्बाद नहीं होता। फेल होने वाले स्टूडेंट रिजल्ट के बाद से राज्य ओपन में आवेदन कर सकते हैं।

एक साल में 3 बार परीक्षा

इस स्कीम में एक साल में तीन बार परीक्षा होती है। जून, सितंबर और दिसंबर में। उन्होंने बताया 2016 से शुरू हुई योजना में 2 लाख 1 हजार बच्चे पास हाे चुके हैं। इस बार सीबीएसई में फेल होने वाले बच्चों के लिए योजना शुरू की है। अधिक जानकारी मप्र राज्य ओपन स्कूल शिक्षा परिषद की वेबसाइट से ले सकते हैं।

हेल्पलाइन से भी ले सकते हैं सलाह

हेल्पलाइन के प्रभारी डॉ. हेमंत शर्मा का कहना है कि बच्चे रिजल्ट को सकारात्मक तरीके से लें। नतीजे घोषित होते समय एवं उसके बाद परिवार के सदस्य बच्चे के साथ रहें। करियर को लेकर या विषय चयन को लेकर किसी तरह की मुश्किल है, ताे विशेषज्ञों से मार्गदर्शन लें। माशिमं की हेल्पलाइन 1800-233-0175 में सुबह 8 से रात्रि 8 के बीच परामर्श ले सकते हैं।

Share it
Top