Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्य प्रदेश/ EVM की सुरक्षा पर विवाद, सीईओ ने बुलाई आपात बैठक...चार जिलों से मांगी रिपोर्ट

मध्य प्रदेश के विभिन्न जिला मुख्यालय में बनाए गए ईवीएम स्ट्रांग रूम की व्यवस्थाओं में कमी को लेकर विवाद उठ रहे हैं। भोपाल, सतना, सागर, खरगोन आदि जिलों में हंगामा और विरोध प्रदर्शन के बाद निर्वाचन आयोग भी सकते में है।

मध्य प्रदेश/ EVM की सुरक्षा पर विवाद, सीईओ ने बुलाई आपात बैठक...चार जिलों से मांगी रिपोर्ट
X

मध्य प्रदेश के विभिन्न जिला मुख्यालय में बनाए गए ईवीएम स्ट्रांग रूम की व्यवस्थाओं में कमी को लेकर विवाद उठ रहे हैं। भोपाल, सतना, सागर, खरगोन आदि जिलों में हंगामा और विरोध प्रदर्शन के बाद निर्वाचन आयोग भी सकते में है।

शनिवार को मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी व्ाीएल कांताराव ने इस मसले पर भोपाल स्थित अपने कार्यालय में आपात बैठक बुलाई। इस बैठक में ईवीएम की सुरक्षा को लेकर अफसरों को स्पष्ट हिदायत दी। साथ ही चार जिलों में हुए हंगामे के बाद इन जिलों के निर्वाचन अधिकारियों से सुरक्षा को लेकर पूरी रिपोर्ट बुलाई गई है।

बैठक के दौरान कांताराव ने खासकर स्ट्रांग रूम की सुरक्षा व्यवस्था और रिजर्व ईवीएम को लेकर समीक्षा की। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ और राज्यसभा सांसद व सुको के वकील विवेक तन्न्खा द्वारा सुरक्षा व्यवस्था को लेकर सवाल उठाने के बाद मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कांताराव ने भी ट्विटर पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर आयोग की तरफ से सफाई दी है।

इसे भी पढ़ें- G-20 Summit: अमेरिका-चीन में ट्रेड वार से जारी तनाव के बीच मिलेंगे ट्रंप और जिनपिंग

कमलनाथ ने ट्विटर पर ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर आशंका जताई है। इसके अलावा जनता की तरफ से भी इस मामले में ट्विटर पर प्रतिक्रयाएं दी गई हैं। कुछ लोगों ने कांताराव से सवाल पूछे हैं, तो राव ने उनके जवाब भी दिए हैं।

सभी प्रत्याशी और निर्वाचन एजेंट विशेष सावधानी बरते

ईवीएम को लेकर प्रदेश के विभिन्न जिलों में सामने आए ताजा विवाद के बाद कांग्रेस नेताआें की टेंशन बढ़ गई है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने जहां मशीनों में गड़बड़ी की आशंका जताई है, वहीं अपने सभी प्रत्याशियाें और निर्वाचन एजेंट, मतगणना एजेंटों से मतगणना दिनांक को विशेष तौर पर सावधानी बरतने के लिए कहा है।

इसके साथ ही नाथ ने 11 दिसंबर मतगणना दिनांक तक स्ट्रांग रूम पर निगरानी रखने के लिए कहा है। साथ ही स्ट्रांग रूम के आसपास किसी संदिग्ध गतिविधि की सूचना तत्काल प्रदेश कार्यालय को भेजने की बात भी कही है।

इसे भी पढ़ें- राजस्थान चुनाव/ 'वोट फॉर नोटा' अभियान ने पकड़ा जोर, मनाने में जुटी कांग्रेस और भाजपा

नाथ ने चुनाव कार्य में संलग्न अधिकारियों व कर्मचारियों से भी अपील की है, कि लोकतंत्र के महापर्व निर्वाचन के लिए मतगणना तक निष्पक्ष आचरण करें। नाथ ने हिदायत भी दी है कि मतदान के दौरान कुछ अधिकारियों द्वारा गड़बड़ी करने की शिकायत हमें मिली है।

ईवीएम में गड़बड़ी को लेकर कांग्रेस ने की शिकायत

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी ईवीएम गड़बड़ी की आशंका को लेकर मुख्य निर्वाचन आयुक्त् दिल्ली को पत्र लिखा है। प्रदेश कांग्रेस निर्वाचन सेल प्रमुख जेपी धनोपिया ने भी ईवीएम गड़बड़ी को लेकर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को शिकायत सौंपी है।

कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता जहां स्ट्रांग रूम के पास दिन रात जागकर ड्यूटी कर रहे हैं। वहीं कांग्रेस के बड़े नेता और प्रत्याशी भी लगातार जायजा लेने पहुंच रहे हैं। शनिवार को मप्र कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अरुण यादव भी पुरानी जेल परिसर भोपाल पहुंचे और ईवीएम की सुरक्षा को लेकर कार्यकर्ताआें को चौकन्ना रहने की हिदायत दी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story