Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कांग्रेस महिलाओं को करेगी सुरक्षित, 40 प्रतिशत बजट से बनेंगे थाने-चौकी और गश्तीदल

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर हाल ही में कांग्रेस ने 973 बिंदुओं का वचन पत्र जारी किया है। इसमें महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण को लेकर अधिक जोर दिया गया है। इस बात की पुष्टि रविवार को कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान की है।

कांग्रेस महिलाओं को करेगी सुरक्षित, 40 प्रतिशत बजट से बनेंगे थाने-चौकी और गश्तीदल
X
विधानसभा चुनाव के मद्देनजर हाल ही में कांग्रेस ने 973 बिंदुओं का वचन पत्र जारी किया है। इसमें महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण को लेकर अधिक जोर दिया गया है। इस बात की पुष्टि रविवार को कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान की है।
उन्होंने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद बजट का 40 प्रतिशत हिस्सा महिला सुरक्षा और सशक्तिकरण में खर्च किया जाएगा। बेटियों और बहनों के जन्म, शिक्षा, शादी, स्वास्थ्य, संपत्ति और सम्मान की पूरी जिम्मेदारी कांग्रेस पार्टी उठाएगी।
वर्तमान में जो हालत प्रदेश की महिलाओं के है। वह किसी से छिपे नहीं है। प्रदेश में दुष्कर्म की घटनाएं 52000 के आंकड़े पर पहुंच गई है। इसके बावजूद प्रदेश सरकार कोई कदम नहीं उठा रही। जबकि कांग्रेस ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए प्रदेश में रानी दुर्गावती महिला पुलिस बटालियन का गठन करेगी।
साथ ही शैक्षणिक संस्थान और महिला कामकाजी क्षेत्रों को सुनिश्चित करके महिला चौकी और गश्त की व्यवस्था करेगी।

2004 की कांग्रेस और अब की भाजपा में अंतर

उन्होंने कहा कि जब 2004 में सत्ता की चांबी भाजपा को मिली थी। तब प्रदेश में महिलाओं और बेटियों के अपहरण की 584 घटनाएं होती थी। अब ये घटनाएं वर्ष 2016 में आठ गुना बढ़कर 4994 हो गई है।
कांग्रेस के शासनकाल में प्रदेश में महिला अपराध के 7000 मुकदमें लंबित थे, जो बढ़कर 85383 हो गए है। इन मामलों और घटनाओं को रोकने के लिए विशेष सेल गठित की जाएगी। साथ ही फास्ट ट्रेक कोर्ट का भी गठन किया जाएगा। 17 से 45 वर्ष की महिलाओं को आत्मरक्षा के लिए एप इन्स्टॉल कर नि:शुल्क स्मार्ट फोन भी दिए जाएंगे।

सवाल पर विफरी प्रियंका, पत्रकारों ने की मांफी मांगने की अपील

एक पत्रकार द्वारा दीपक बाबरिया को लेकर पूंछे गए सवाल पर कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी विफर गई। उन्होंने अधूरा जबाव देते हुए कहा कि ये सब बातें सिर्फ भाजपा के लोग ही करते है। मैं इस पर कोई टिका-टिप्पणी नहीं करुंगी।
इस बात पर पीसीसी में बैठे कई पत्रकार भड़क गए और प्रवक्ता चतुर्वेदी से अपनी बात वापस लेकर माफी मांगने की अपील करने लगे। बाद में कांग्रेस के नेता भूपेंद्र सिंह और नरेंद्र सलूजा ने बीच में आकर मामले को शांत किया।
इसके बाद प्रवक्ता प्रिंयका ने जबाव देते हुए कहा कि जिसने बाबरिया पर आरोप लगाए थे। वह स्वयं खंडन कर चुका है। बता दें कि पत्रकार ने सवाल किया था कि पिछले चार दिन से बाबरिया का कोई अता-पता नहीं है।
मप्र प्रभारी होने के बावजूद वचन पत्र कार्यक्रम में शामिल नहीं हुए। साथ ही उन पर पैसा देकर टिकट बेचने का आरोप लगा है। इसके पहले कार्यकर्ताओं उनसे हाथापाई भी कर चुके है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story