Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव/ चुनावी सरगर्मी के बीच नेताओं की फिसली जुबान, एक दूसरे पर किए ऐसे तीख हमले

चुनावी सरगर्मियां बढ़ने के साथ ही नेताओं की जबानें फिसलनी शुरू हो गई हैं, केरल सीएपीएम की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कोडियारी बालकृष्णन ने संघ की तुलना खालिस्तान समर्थकों से की है, उन्होंने कहा संघ आतंकी संगठन की भांति देश की सामाजिक समरसता नष्ट करने का प्रयास कर रहा है, संघ की गतिविधियों को रोकने की कोशिश की जानी चाहिए, इस पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कड़ी प्रतिक्रिया करते हुए कहा है कि संघ के बारे में जानने के लिए लोगों को कई जन्म लेने होंगे।

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव/ चुनावी सरगर्मी के बीच नेताओं की फिसली जुबान, एक दूसरे पर किए ऐसे तीख हमले
X
चुनावी सरगर्मियां बढ़ने के साथ ही नेताओं की जबानें फिसलनी शुरू हो गई हैं, केरल सीएपीएम की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कोडियारी बालकृष्णन ने संघ की तुलना खालिस्तान समर्थकों से की है, उन्होंने कहा संघ आतंकी संगठन की भांति देश की सामाजिक समरसता नष्ट करने का प्रयास कर रहा है, संघ की गतिविधियों को रोकने की कोशिश की जानी चाहिए, इस पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कड़ी प्रतिक्रिया करते हुए कहा है कि संघ के बारे में जानने के लिए लोगों को कई जन्म लेने होंगे।

आतंकी संगठन की तरह काम करता है संघ, लगनी चाहिए रोक : बालाकृष्णन

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) को लेकर एक बार फिर सीपीएम और भाजपा आमने-सामने आ गए हैं। केरल सीएपीएम के प्रदेश इकाई के अध्यक्ष कोडियारी बालकृष्णन ने संघ की तुलना खालिस्तान समर्थकों से कर दी।

उन्होंने कहा कि संघ आतंकी संगठन की भांति देश की सामाजिक समरसता के माहौल को बिगाड़ने का प्रयास कर रहा है। उन्होंने कहा कि इस स्थिति को किसी भी अनुमति नहीं दी जानी चाहिए।

नहीं तो अगले दिनों में सामाजिक वैमनस्य बहुत बढ़ जाएगा। आश्चर्य की बात है कि संघ की गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए देश के विभिन्न वर्गों ने अब तक प्रतिक्रिया नहीं की है।

कोडियारी बालकृष्णन ने कहा संघ एक आतंकी संगठन है। वह देश के सभी विवादित मसलों में अपना अडंगा डालने की कोशिश करता है। चाहे अयोध्या विवाद हो या फिर सबरीमाला मंदिर विवाद। हर जगह उसकी भूमिका समान रूप से है।
अगर उनकी गतिविधियों को नियंत्रित नहीं किया गया तो अगले िदनों में समाज धार्मिक आधार पर विभाजित हो जाएगा। इससे देश के संतुलित विकास पर प्रतिकूल असर पड़ेगा। उन्होंने कहा कि अगर संघ जैसे संगठनों की गतिविधियों को समय रहते रोका नहीं गया, तो सामाजिक संरचना पूरी तरह बिखर जाएगी।
संघ की गतिविधियां किसी एक क्षेत्र तक सीमित नहीं हैं। यह संगठन जिस तरह अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण को लेकर सक्रिय है, उसी तरह केरल के सबरीमाला मंदिर में भी वह सक्रिय है। सबरीमाला में संघ वही काम करना चाहता है, जो काम खालिस्तान समर्थकों ने स्वर्ण मंदिर में किया था।
उन्होंने कहा कि यह अच्छा संकेत नहीं है। इस पर व्यापक सामाजिक स्तर पर प्रतिक्रियाएं की जानी चाहिए। अगर समय रहते संघ की गतिविधियों पर अंकुश नहीं लगाया गया, तो अगले दिनों में स्थितियां जटिल हो जाएंगी।

नहीं जानते क्या चीज है संघ, जानने को लेने होंगे कई जन्म : गिरिराज

राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत के बिहार दौरे को लेकर राजनीति गरमा गई है। विपक्षी दलों ने उनके इस दौरे पर निशाना साधा है। नवादा से भाजपा सांसद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने पलटवार करते हुए विपक्षी पार्टियों पर जमकर निशाना साधा है।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कांग्रेस हो या आरजेडी, इन्हें यह मालूम नहीं है कि संघ क्या चीज है। संघ को जानने के लिए इन्हें कई जन्म लेने होंगे। उन्होंने कहा कि 1971 के पाकिस्तान युद्ध में आरएसएस ने सिविल पुलिस की भूमिका निभाई थी।
देश की एकता बनाए रखने के लिए संघ के सदस्यों ने अपनी जान की आहुति तक दी है। संघ के स्वयंसेवक और प्रधान देश की एकता और सामाजिक समरसता बनाए रखने के लिए अपने प्राण तक न्योछावर किए हैं।
पूछा तब क्यों नहीं खुलती जुबान
उन्होंने असहिष्णुता पर बोलने वाले लोगों से भी सवालिया लहजे में पूछा कि जब आर्कबिशप फतवा जारी करते हैं और रमजान के महीने में भी पाकिस्तान भारतीय सीमा के अंदर तबाही मचाता है, तो उनकी जबान क्यों नहीं खुलती है?
भाजपा नेता ने कहा अगर पाकिस्तान भारतीय सीमा में हमला करता है तो चुप नहीं बैठेंगे। ऐसा जवाब दिया जाएगा कि वह मुंह दिखाने के लायक नहीं रहेगा। लगातार आतंकवादी गतिविधियां होने के बाद भी असहिष्णुता पर बोलने वालों की जबान बंद क्यों है?
जल्द खत्म होगा यह बेमेल गठबंधन
वहीं कर्नाटक में कांग्रेस की जीत पर गिरिराज ने कहा जेडीएस के साथ उनकी जीत की खुशी नकली खुशी है। कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के बीच गठबंधन का कोई दीर्घकालिक महत्व नहीं है। दोनो ही दल एक दूसरे के खिलाफ अब तक विषवमन कर रहे थे, लेकिन अब एक दूसरे के सहयोगी हैं। उन्होंने कहा यह असामान्य स्थिति ज्यादा दिनों तक नहीं जारी रहने वाली है।

राहुल ने कुतर्कों के मवाली की भूमिका अपनाई : नकवी

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को कुतर्कों का मवाली कहा है। मोदी सरकार के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा राहुल गांधी कुतर्कों के मवाली की भूमिका में आ गए हैं।
कुछ वक्त पहले भी उन्होंने राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए कहा था 'जिस व्यक्ति का पप्पू से लेकर गप्पू तक का सफर झूठ का झुंझुना लेकर शुरू हुआ हो, वह इसी तरह की बहकी-बहकी, बेसुरी और बेहूदा बातें करेगा।

हर समय घोटाला ही देता है दिखाई

उन्होंंने कुछ समय पहले कहा था कि घोटाले के गुरू घंटालों को हर टाइम घोटाला ही नजर आएगा। देश का विकास, प्रगति और सुशासन नहीं। आपको बता दें इससे पहले आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार को 'श्री श्री धिक्कारवादी 420 नीतीश चाचा जी' कहा था जिसके बाद भाजपा ने उनकी शिक्षा और सभ्यता में पिछड़े होने की बात कही थी। इससे पहले बिहार के भाजपा नेता सुशील मोदी ने आरएलएसपी नेता उपेंद्र कुशवाहा पर गठबंधन धर्म के विपरीत आचरण करने का आरोप लगाया था। जिसके बाद कुशवाहा ने भी इशारों-इशारों में उन्हें राजनीतिक पिछलग्गू बता दिया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story