Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

MP Election: सातों विधानसभाओं में सीधा मुकाबला, 47 निर्दलीयों को बचानी पड़ेगी जमानत

जिले की सातों विधानसभाओं में भाजपा, कांग्रेस सहित अन्य उम्मीदवारों ने चुनाव प्रचार शुरु कर दिया है। इस बार भी इन विस में उम्मीदवारों के बीच सीधा मुकाबला नजर आ रहा है। राजधानी की नरेला विस में इस बार 20 निर्दलीय उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, ऐसे में इन उम्मीदवारों को अपनी जमानत बचाना पड़ेगी।

MP Election: सातों विधानसभाओं में सीधा मुकाबला, 47 निर्दलीयों को बचानी पड़ेगी जमानत
X
  • पिछले चुनाव में भी निर्दलीयों ने गंवाई थी जमानत राशि
  • सात विस में 111 उम्मीदवारों ने शुरु किया चुनाव प्रचार
जिले की सातों विधानसभाओं में भाजपा, कांग्रेस सहित अन्य उम्मीदवारों ने चुनाव प्रचार शुरु कर दिया है। इस बार भी इन विस में उम्मीदवारों के बीच सीधा मुकाबला नजर आ रहा है। राजधानी की नरेला विस में इस बार 20 निर्दलीय उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं, ऐसे में इन उम्मीदवारों को अपनी जमानत बचाना पड़ेगी।
जबकि यहां के वर्तमान विधायक विश्वास सारंग और कांग्रेस उम्मीदवार डॉ महेंद्र सिंह चौहान आमने-सामने हैं। इस विस में अन्य पार्टियों के उम्मीदवार भी चुनाव मैदान में डटे हुए हैं। इसी तरह मध्य विस में भी भाजपा ने वर्तमान विधायक सुरेंद्रनाथ सिंह को टिकट दिया है, जबकि पिछली बार हारने वाले कांग्रेस उम्मीदवार आरिफ मसूद भी जोर-आजमाइश कर रहे हैं।
इस विस में क्रांतिकारी समाजवादी पार्टी के शमसुल हसन सहित अन्य पार्टियों के उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। यहां भी चार निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।
जिले की सात विस में भाजपा ने गोविंदपुरा और उत्तर को छोड़कर अपने वर्तमान विधायकों को चुनाव मैदान में उतारा है, जबकि कांग्रेस ने हुजूर, नरेला, गोविंदपुरा, दक्षिण-पश्चिम और बैरसिया में नए उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारे हैं, जबकि उत्तर से वर्तमान विधायक आरिफ अकील और मध्य से आरिफ मसूद को टिकट दिया है।
मसूद इस सीट पर 6 हजार 981 वोटों से हारे थे, जिसको देखते हुए पार्टी ने इन्हें दोबारा से टिकट दिया है। मसूद इस बार यहां से जोर आजमाइश कर रहे हैं, जबकि उत्तर के वर्तमान विधायक आरिफ अकील के खिलाफ भाजपा ने नए उम्मीदवार को मैदान में उतारा है।
इसी तरह दक्षिण पश्चिम विस में वर्तमान विधायक उमाशंकर गुप्ता के खिलाफ कांग्रेस के पीसी शर्मा चुनाव लड़ रहे हैं। इस विस में 18 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, जिनमें 5 निर्दलीय के रूप में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।
इसी तरह बैरसिया में भी वर्तमान विधायक विष्णु खत्री के खिलाफ कांग्रेस की जयश्री हरिकरण चुनाव मैदान में हैं, यहां भाजपा के बागी ब्रहमानंद रत्नाकर भी निर्दलीय के रूप में चुनाव मैदान में डटे हुए हैं, यहां कुल आठ उम्मीदवार हैं, जिसमें दो निर्दलीय हैं।

डाले गए वोट के 8 प्रतिशत पर बचेगी जमानत

चुनाव आयोग ने एससी के उम्मीदवारों से पांच हजार और अन्य उम्मीदवारों से दस हजार रुपए की जमानत राशि जमा करवाई गई है। ऐसे में जिले की सात विस में 111 उम्मीदवारों में राजनैतिक दलों सहित निर्दलीय उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। ऐसे में संबंधित विस में डाले गए वोटों के हिसाब से आठ फीसदी वोट मिलना जरूरी है। नहीं मिलने की स्थिति में उम्मीदवार की जमानत राशि जब्त कर ली जाएगी।

उम्मीदवारों ने शुरु किया प्रचार

सबसे ज्यादा उम्मीदवार 31 नरेला विस में हैं। जबकि बैरसिया में 8, उत्तर 9, मध्य 15, दक्षिण पश्चिम 18, गोविंदपुरा 17, नरेला 31 और हुजूर में 13 उम्मीदवार चुनाव मैदान में बचे हैं। अब इन उम्मीदवारों के बीच ही हार-जीत का फैसला होगा। इन उम्मीदवारों ने अपने-अपने क्षेत्र में चुनाव प्रचार शुरु कर दिया है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story