Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खंडवा में आयरन की गोली खाने से 40 बच्चे हुए बीमार, प्रशासन में मचा हड़कंप

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में उस समय हड़कंप मच गया जब मूंदी से करीब 12 किमी दूर स्थित ग्राम शिवरिया टांडा के शासकीय माध्यमिक शाला के 40 बच्चे अचानक बीमार हो गए।

आयरन की गोली खाने से 40 बच्चे बीमार
X
कूटू का आटा खाने से बीमार (प्रतीकात्मक फोटो)

मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में उस समय हड़कंप मच गया जब मूंदी से करीब 12 किमी दूर स्थित ग्राम शिवरिया टांडा के शासकीय माध्यमिक शाला के 40 बच्चे अचानक बीमार हो गए। सिर दर्द, पेटदर्द और उल्टी दस्त की शिकायत होने के बाद बच्चों को तत्काल गुरुवार शाम को एंबुलेंस से मूंदी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया। प्रारंभिक उपचार के बाद ही अधिकांश बच्चों की तबीयत में सुधार होने पर उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। फिलहाल बाकी बच्चों की हालत खतरे से बाहर बतााई जा रही है।

दरअसल पूरा मामला, मूंदी से करीब 12 किमी दूर स्थित ग्राम शिवरिया टांडा के शासकीय माध्यमिक शाला का है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बच्चों को आयरन गोलियां खिलने के लिए 600 गोली स्कूल को दी गई थी। जिसे बच्चों को खाना खाने के बाद देने की जानकारी स्वास्थ्य विभाग कर्मियों के द्वारा दी गई थी और यह गोलियां मंगलवार को या बुधवार को देना था। परंतु माध्यमिक शाला के शिक्षकों द्वारा बच्चों को गुरुवार को 11 बजे गोली दी गई। उसके बाद मध्यान भोजन दिया गया था।


गोली खाते ही कुछ बच्चोंं को स्कूल में ही पेट दर्द और घबराहट होने लगी। स्कूल से छुट्टी होने के बाद बच्चे घर लौटे तो एक के बाद एक बच्चों को उल्टियां होने लगी। बच्चे पेट दर्द की शिकायत करने लगे। कुछ बच्चे सिर दर्द की बात कहने लगे। इससे गांव मे हड़कंप मच गया।

जिसके बाद घबराकर ग्रामीणों ने 108 एंबुलेंस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस व प्रशासन के अधिकारी भी अलर्ट हो गए। सभी बीमार बच्चों को मूंदी अस्पताल ले जाने पर वहां भीड़ लग गई। जो कि गंभीर चूक का परिणाम है, शिवरिया टांडा निवासियो लोगों ने इस मामले में पुलिस को जानकारी दी।

खाली पेट बच्चों की दी गई गोलियां

आयरन गोली भूखे पेट बच्चों को खिलाने के कारण तकलीफ हुई है। आयरन गोली खाना खाने के बाद वितरण करने के निर्देश हमेशा ही दिए जाते हैं। सभी बीमार बच्चों का उपचार दिया गया है। सभी की हालत नियंत्रण में है।

- डॉ.शांता तिर्की, ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर,सीएचसी मूंदी

प्राथमिक उपचार दे दिया

बच्चों को खाली पेट आयरन की गोली देने के कारण उन्हें उल्टी दस्त, पेट दर्द और घबराहत की शिकायत हो रही है। प्राथमिक उपचार दे दिया गया है सभी जल्द स्वस्थ्य हो जाएंगे।

-शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर गगन दिलावरे

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story