Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लोकसभा चुनाव 2019 : मध्यप्रदेश की आठ सीटों पर बंपर वोटिंग, 75.51 प्रतिशत मतदान दर्ज

मध्य प्रदेश की आठ लोकसभा सीटों के 1.49 करोड़ से अधिक मतदाता चुनाव में 82 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला करेंगे। इसमें एक करोड़ 49 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करके 82 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे।

लोकसभा चुनाव 2019 : मध्यप्रदेश की आठ सीटों पर बंपर वोटिंग,  75.51 प्रतिशत मतदान दर्ज
X

लोकसभा चुनाव 2019 के सातवें (Lok Sabha Elections 2019 Phase 7) और अंतिम चरण के तहत मध्यप्रदेश की आठ लोकसभा सीटों पर आज 19 मई को सुबह सात बजे मतदान होगा। इन आठ लोकसभा सीटों के 1.49 करोड़ से अधिक मतदाता चुनाव में 82 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला करेंगे। इसमें एक करोड़ 49 लाख से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करके 82 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। इन आठ सीटों पर कुल 82 प्रत्याशी मैदान में हैं, जिनमें से देवास में 6, उज्जैन में 9, मंदसौर में 13, रतलाम में 9, धार में 7, इंदौर में 20, खरगोन में 7 और खण्डवा में 11 उम्मीदवार शामिल हैं। वर्ष 2014 में इन सभी आठ सीटों पर भाजपा ने कब्जा किया था। हालांकि, रतलाम सीट के सांसद दिलीप सिंह भूरिया के निधन के बाद इस पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने इस सीट को भाजपा से छीन लिया था और कांतिलाल भूरिया सांसद बने।

Lok Sabha Elections 2019 Phase 7 Live Updates

- अब तक एमपी की आठ सीटों पर 75.51 प्रतिशत मतदान हुआ है।

- झाबुआ में बीजेपी प्रत्यशी गुमान सिंह डोमर भी अपनी पत्नी और मां के साथ मतदान केंद्र पहुंचे।


- धार में बीजेपी प्रत्याशी छतर सिंह ने वोट डाला।


- मंदसौर नीमच से कांग्रेस प्रत्याशी मीनाक्षी नटराजन ने मंदसौर में वोट डाला। वो मतदाताओं के साथ कतार में लगी रहीं।


- लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण में मध्यप्रदेश के धार में भी युवाओं ने काफी उत्साह से मतदान कर देश का महात्यौहार मनाया। अगर आपने अभी तक मतदान नहीं किया तो देर मत कीजिए घर से निकलिए और मतदान कीजिए।


ठाकुर परिवार के 50 लोगों ने किया मतदान

इंदौर में करीब 50 मतदाताओं के ठाकुर परिवार ने आज पूरे उत्साह के साथ मतदान कर देश का महान त्यौहार मनाया। एकजुट होकर शुभकार्य करना इस देश की संस्कृति है और इस परिवार ने भारतीय संस्कृति की एक मिसाल पेश की है।


- दोपहर में इंदौर के अधिकांश मतदान केंद्रों पर सन्नाटा। ग्रामीण इलाकों में भी इक्का-दुक्का मतदाता ही पहुंच रहे मतदान करने।

पैर के अंगूठे से डाला वोट

स्कीम नंबर 78 में रहने वाले विक्रम अग्निहोत्री ने बचपन में एक एक्सीडेंट में दोनों हाथ खो दिए थे। विक्रम पैरों से कार चलाने के साथ अपने कई काम कर लेते हैं। उन्होंने रविवार को स्कीम नंबर 78 के मतदान केंद्र पर वोट डाला। उनके पैरों पर स्याही लगाई गई। गौरतलब है कि विक्रम को जिला निर्वाचन कार्यालय ने चुनाव के लिए दिव्यांग आइकॉन बनाया है।


मतदान करने आई महिला की मौत

रतलाम जिले के सरवन थाना क्षेत्र अंतर्गत बैडदा चौकी के पास चंदेरा गांव निवासी एक महिला सुबह पोलिंग बूथ क्रमांक 72 खड़ी थी तभी अचानक तबीयत खराब हुई और उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मिली जानकारी के अनुसार गेन्दी बाई पति नरसिंह मईड़ा उम्र 65 वर्ष वोट डालने के लिए पोलिंग बूथ पर आई थी। जहां महिला की तबीयत खराब होने पर अचानक चक्कर खाकर गिर गई और घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। घटना के बाद कुछ देर तक मतदान केंद्र में अफरा तफरी मच गई। लेकिन बाद में महिला के परिजन उसे घर ले गए। सूत्रों ने यह भी बताया कि महिला बीमार अवस्था में थी।


वोटर लिस्ट में नाम न होने से नहीं डाल पाए वोट

इंदौर के कसेरा बाजार स्कूल के ममतदान केंद्र क्रमांक 83 पर ईवीएम खराब होने के कारण एक घंटे तक रूका रहा मतदान। मूसाखेड़ी क्षेत्र में कई वोटर्स के नाम मतदाता सूची से गायब होने के कारण वो वोट नहीं डाल पाए।


अमेरिका से आया पोती का भावुक पत्र, परंपरा तोड़ते दादी ने किया मतदान

अमेरिका में रहने वाली पोती लवी बोथरा ने दादा के निधन से व्यथित दादी को एक भावुक पत्र लिखा था। पोती के पत्र को पढ़कर दादी ने मतदान करने का फैसला लिया और परिवार के साथ वोट देने पहुंची। इस दौरान उन्होंने सवा महीने घर से नहीं निकलने वाली सामाजिक परंपरा को तोड़ते हुए राष्ट्रधर्म का निर्वहन करते हुए मतदान किया।


पिता के निधन के बाद भी किया मतदान

सेंधवा शहर के सुदामा कॉलोनी निवासी वृद्ध की शनिवार शाम मौत हो गई थी पिता की मौत के बावजूद पुत्र भरत शिंदे ने पत्नी को बच्चों के सहित रविवार सुबह मतदान किया।


- खरगोन के कसरावद में जापान से आकर पूनम पटवारी ने अपने परिवार के साथ मतदान किया।


- इंदौर के निगमायुक्त आशीष सिंह ने भी परिवार के साथ मतदान किया।


तीन साल से बिस्तर पर पर आज वोट देने पहुंची

खरगोन निवासी शारदा गोपाल कृष्ण अमझरे लिवर की बीमारी से पीड़ित हैं। वे तीन साल से बिस्तर पर ही लेटी रहती हैं। लेकिन मतदान को लेकर उनका उत्साह इतना ज्यादा है कि परिवार वालों से सुबह उठकर कहा कि सब काम छोड़कर सबसे पहले मुझे वोट देने ले चलो, मतदान क्रमांक 103 पर उन्होंने वोट दिया।


- रतलाम लोकसभा क्षेत्र में दोनों हाथों से दिव्यांग ने वोट दिया। इस दौरान मतदान केंद्र पर मौजूद कर्मचारियों ने उनके पैर की अंगुली में वोटिंग की स्याही लगाई।


- मध्यप्रदेश में दोपहर 2 बजे तक का मतदान प्रतिशत 46.03 प्रतिशत रहा। इसमें अभी तक सबसे ज्यादा मतदान देवास में 51.48 प्रतिशत और इंदौर में सबसे कम 38.11 प्रतिशत रहा।


देवास मतदान करने पहुंचे तारक मेहता के कृष्णन

टीवी कार्यक्रम तारक मेहता का उल्टा चश्मा में कृष्णन अय्यर का किरदार निभाने वाले तनुज महाशब्दे अपने गृहनगर देवास में वोट डालने के लिए पूरे परिवार के साथ पहुंचे। उन्होंने सभी से वोट देने की भी अपील की।


- रतलाम शहर विधायक चेतन्य कुमार कश्यप ने अपनी माता तेजकुंवर बाई कश्यप, पत्नी नीता कश्यप व पुत्र सिद्धार्थ कश्यप के साथ मतदान किया। मतदान के बाद मीडिया से चर्चा में विधायक कश्यप ने कहा कि रतलाम शहर लगभग 50 हजार से अधिक की लीड भाजपा को मिलेगी।


वोट डालने पहुंची पता चला पहले ही कोई वोट डाल गया

विधानसभा केंद्र नंबर 1 के रानी पैलेस निवासी जुबैदा सिरपुर के मतदान केंद्र क्रमांक 279 पर 11.45 पर जब वोट डालने के लिए पहचान पत्र लेकर पहुंची तो उन्हें पता चला कि उनका वोट कोई ओर डाल गया है। ऐसे में उन्हें बिना मतदान किए ही वापस लौटना पड़ा।


- सेंधवा में ढाई फीट ऊंची 20 वर्षीय शीतल चौहान ने मतदान किया।



- इंदौर के स्कीम 114 में ग्रीन फील्ड स्कूल के बूथ 102 पर दृष्टिहीन युवाओं ने वोट डाले। यहां सामाजिक न्याय विभाग के अधिकारी भी पहुंचे।


- इंदौर के नयापुरा में वैदिक स्कूल पोलिंग बूथ पर दूल्हे गौरव यादव के साथ वोट डालने पहुंची दुल्हन सोनल यादव।


पानी को तरस गए मतदान कर्मी

इंदौर के तलावली चांदा के बूथ नंबर 220, 221 और 222 पर मतदान कर्मी पानी के लिए मोहताज हो गए। रात को भी उन्हें पीने के लिए पानी नहीं मिला। नगर निगम की थी जिम्मेदारी। मतदान कर्मियों ने खुद पैसे देकर दूर से बुलवाया पानी। बाथरूम भी साफ नहीं हुए। मतदान कर्मियों ने खुद बूथ पर झाडू लगाई। इसमें नगर निगम कर्मियों की लापरवाही सामने आई है।

25 सदस्यों ने एक साथ वोट डालने पहुंचे

नंदा नगर में रहने वाले सागरे परिवार के 25 सदस्यों ने सरकारी स्कूल के बूथ पर एक साथ जाकर वोट डाला। विधानसभा चुनाव में भी परिवार के सदस्य एक साथ वोट डालने पहुंचे थे और इस चुनाव में परिवार के सभी सदस्एक साथ पहुंचे।


शाजापुर में झड़प के बाद पुलिए बल तैनात

शाजापुर में पोलिंग क्रमांक 156 और 157 जनपद पंचायत में भाजपा और कांग्रेस के पोलिंग एजेंट आपस में भिड़ गए थे। सूचना मिलते ही तत्काल पुलिस मौके पर पहुंची और सभी को अलग अलग किया। मामले को तत्काल पुलिस ने शांत करवाया और वहां पर भारी मात्र में बल तैनात किया गया।

दो कर्मचारियों की हार्ट अटैक से मौत

निर्वाचन पदाधिकारी वीएल कांताराव ने प्रेस कांफ्रेस में बताया कि मतदान कार्य में लगे दो कर्मचारियों की हार्ट अटैक से मौत हो गई। पहली घटना बीती रात शाजापुर में मतदान केंद्र पर पीठासीन अधिकारी अनिल नेमा की मौत हो गई। वहीं, रविवार सुबह कुक्षी विधानसभा क्षेत्र के जलवट में मतदान कर्मी गारू सिंह चोगड़ की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई।


BJP ने प्रत्याशी अरुण के खिलाफ चुनाव आयोग में की शिकायत

भारतीय जनता पार्टी ने खंडवा से कांग्रेस प्रत्याशी अरुण यादव के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई है। भाजपा ने कांग्रेस प्रत्याशी अरुण पर मतदाताओं को रुपए बांटने का आरोप लगाया है भाजपा ने रुपए बांटते हुए वीडियोय भी जारी किया है।

महिला के पास मिले 59 फर्जी वोटर कार्ड

वार्ड नंबर 22 जिनेश्वर स्कूल की आगनवाड़ी कार्यकर्ता महिला से पकड़ाएं 59 फर्जी वोटर कार्ड। इस महिला को हीरानगर थाना पुलिस थाने लेकर गई।

- बीजेपी नेता थावरचंद गहलोत ने अपनी पत्नी के साथ किया मतदान।


- इंदौर में गुलियन बैरे सिंड्रोम (जीबीएस) से पीड़ित राहुल चौरसिया को परिजन वोट डालने के लिए कार में लेकर पहुंचे। गुलियन बैरे सिंड्रोम एक ऐसा विकार है, जिसमें रोगी के शरीर में पहले सिहरन या दर्द होने लगता है और फिर उसके बाद उसकी मांसपेशियां कमजोर होने लगती हैं। लक्षण पता लगते ही इलाज न होने पर ब्रीदिंग मसल्स तक कमजोर हो जाती है। कई बार मरीज को लकवा तक हो जाता है।


- देश के राष्ट्रीय पर्व लोकसभा चुनाव में जिला कलेक्टर श्रीकांत बनोठ एवं पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र सिंह चौहान ने शाजापुर पोलिंग क्रमांक 153 अपने मत का उपयोग किया। साथ ही उन्होंने आम जनों से भी मतदान करने की अपील की। कलेक्टर और एसपी ने विधिवत लाइन में लगकर अपना वोट डाला।


- मध्यप्रदेश में लोकसभा की 8 सीटों के लिए दोपहर 12 बजे तक 29.48 प्रतिशत मतदान हुआ। इसमें सबसे ज्यादा देवास में 34.61 प्रतिशत और सबसे कम इंदौर में 23.40 प्रतिशत।


रतलाम में 1000 ग्रामीणों ने नहीं किया अभी तक मतदान

रतलाम में वार्ड क्रमांक 5 के अंबिका नगर के पीछे स्थित सर्वोदय नगर के रहवासियों ने सुबह 11 बजे तक मतदान नहीं किया। लगभग 1000 मतदाताओं के इस वार्ड में अपनी मूलभूत सुविधाओं की मांगों को लेकर मतदान का बहिष्कार किया। मतदाताओं का कहना है कि सर्वोदय नगर को अभी तक वैध नही किया गया है। वहीं पानी की पाइप लाइन से नहीं जोड़ा गया और न ही सड़क का निर्माण किया गया। आज तक किसी भी अधिकारी ने कोई सर्वे नही किया। नगर के किसी भी जनप्रतिनिधि ने मतदाताओं की कभी कोई सुध नहीं ली इसी कारण सभी क्षेत्रवासियों ने एक जुट होकर मतदान नहीं करने का बहिष्कार का निर्णय लिया।


- उज्जैन के महिदपुर विधानसभा के गांव ग्राम पिपलिया हरजी में ग्रामीणों ने किया मतदान का बहिष्कार। लंबे समय से पानी की समस्या से झूझ रहे करीब 1000 ग्रामीणों ने बहिष्कार किया है।

- लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण के मतदान में खंडवा डीएम विशेष्ज्ञ गढ़पाले और एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने मतदान कर देश के प्रति अपना फर्ज निभाया।


- मध्यप्रदेश में आखिरी चरण के चुनाव में रतलाम रूचिका चौहान ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर लोकतंत्र में अपनी भागीदारी सुनिश्चित की।



- कैबिनेट मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधो ने मतदान किया। उन्होंने कहा देश में कांग्रेस शत प्रतिशत सरकार बनाने जा रही है।


- देवास की बागली विधानसभा के कवटीयापानी गांव से मतदाता बैलागड़ी पर बैठकर तीन किमी दूर पलासी में मतदान करने पहुंचे।


- लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन सुबह अपने परिवार के साथ वोट डालने पहुंची। इस दौरान उनके साथ भाजपा प्रत्याशी शंकर लालवानी भी मौजूद रहे।


- बुज़ुर्ग मतदाताओं में काफी उत्साह देखा गया। सुबह से मतदान केंद्र पहुंचे और अपनी बारी आने का इंतज़ार करते रहे।


आगर मालवा में कलेक्टर की समझााईश के बाद मतदान शुरू

कलेक्टर के समझाईश के बाद ग्रामीणों ने मतदान करना शुरू किया। आगर विधानसभा क्षेत्र के गांव बरखेड़ा में सड़क नहीं होने के कारण महिलाएं एवं पुरुषों ने लोकसभा चुनाव का किया था बहिष्कार। गांव में सड़क बनाने की मांग के साथ लगाए थे बैनर पोस्टर। ग्रामीणों ने नेताओं व प्रशासन पर गांव की अनदेखी का आरोप लगाया था। कलेक्टर अजय कुमार गुप्ता ने ग्रामीणों से की बात।

- खरगोन लोकसभा के बड़वानी में मतदान केंद्र 222 में पिंक ड्रेस पहन कर मतदान करने पहुंचे हैं।


- देवास के टोंक खुर्द मतदान केंद्र 54 में दोनों पैरों से दिव्यांग को स्ट्रेचर पर लाकर मतदान कराया गया।


- इंदौर में 3 फीट की विनीजा ने डाला वोट। उन्होंने कहा, राहुल कहते भ्रष्टाचार का जोर है चौकीदार चोर है। मोदी जी कहते हैं जो भी भ्रष्ट है मेरे से त्रस्त है... और हम कहते हैं हमें देश का विकास करना है जो देश के विकास के साथ है हम उसके साथ हैं फिर चाहे वह कमल हो या हाथ।


शाजापुर में सर्विस रोड की मांग करते ग्रामीणों ने किया बहिष्कार

जिले के शाजापुर विधानसभा के अभयपुर गांव के स्थित पीरखेड़ी गांव के मतदान केंद्र क्रमांक 95 ग्रामीणों ने चुनाव का बहिष्कार किया। यहां पर कुल 457 मतदाताओं में से 11 ने मतदान किया जिनमें 8 कर्मचारी शामिल हैं। आपको बता दें कि यहां पर ग्रामीणों ने पूर्व में भी वोट ना डालने की चेतावनी देकर प्रदर्शन किया था ग्रामीणों की मांग है कि यहां से निकले नेशनल हाईवे पर सर्विस रोड बनाया जाए इसी के चलते यहां के लोग वोट नहीं डाल रहे हैं।


सीहारे के आष्टा में ग्रामीणों ने किया चुनाव ​बहिष्कार

सीहोर के देवास लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत जिले की आष्टा सुरक्षित विधानसभा क्षेत्र में सुबह 7 बजे से शांतिपूर्वक तरीके से मतदान चल रहा है। एक ओर मतदान केंद्रों पर लंबी लंबी लाइनें लगी हुई हैं वहीं आष्टा विधानसभा क्षेत्र के मतदान केंद्र क्रमांक 122 में बापचा बरामद गांव की सड़क ना बनने से गुस्साए मतदाताओं ने अचानक बहिष्कार कर दिया है। इस मतदान केंद्र में कुल 12 सौ 2 मतदाता शामिल हैं। जिनमें से केवल 8 कर्मचारियों ने अपने मत का प्रयोग किया है। मतदान के बहिष्कार की जानकारी लगते ही माइक्रो ऑब्जर्वर और अधिकारियों ने ग्रामीणों से संपर्क किया। मगर ग्रामीणों का कहना है कि जब तक वरिष्ठ अधिकारी मौके पर आकर हमसे चर्चा नहीं करेंगे हम मतदान नहीं करेंगे। पिछले 50 सालों से गांव में रोड की मांग की जा रही है लेकिन आज तक रोड नहीं बन पाई है।


- मध्यप्रदेश में आठ सीटों पर चल रहे लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में सुबह 10 बजे तक मतदान 13.19 प्रतिशत रहा। जिसमें खरगोन में सबसे ज्यादा 14.66 प्रतिशत और सबसे कम इंदौर में 10.84 प्रतिशत रहा।


- इंदौर की महापौर मालिनी गौड परिवार के साथ लोधीपुरा बूथ पर मतदान करने पहुंची।


- खंडवा में नवचंडी मंदिर के पास मतदाता साधना डोंगरे ने अपनी बेटी आकृति के साथ मतदान किया। उन्होंने भी बेटी को विशेष तौर पर ससुराल से वोट डालने के लिए मायके बुलाया था।


देर से शुरू वोटिंग, लोगों ने किया हंगामा

शाजापुर जिले में सुबह 7 बजे से वोटिंग शुरू हो गई थीं लेकिन जिले के सुंदरसी में मशीन खराब होने के कारण करीब सवा 2 घंटे बाद वोटिंग शुरू हो पाई। जिसकी वजह से यहां पर वोट डालने आए घंटों से लाइन में खड़े मतदाताओं ने मतदान केंद्र पर हंगामा खड़ा कर दिया।


- लकवे की बीमारी से 8 वर्ष से ग्रसित चंद्र मोहन शर्मा ने शाजापुर के पोलिंग नंबर 193 पर अपने मताधिकार का प्रयोग किया। उन्होंने चर्चा के दौरान बताया कि सभी को वोट डालना चाहिए और मतदान केंद्र पर वोटिंग की व्यवस्था काफी अच्छी है।


आपस में उलझे भाजपा और कांग्रेसी कार्यकर्ता

झाबुआ मेें मतदान केंद्र के बाहर कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं में झड़प, आपस में लट्ठ भी चले। पेटलावद जनपद के ग्राम उमरकोट में मतदान केंद्र के बाहर कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं में आपसी झड़प हो गई है। विवाद होने का कारण फिलहाल स्पष्ठ नहीं हो पाया है। जिसके बाद वहां कुछ देर के लिए अफरा तफरी का माहौल बन गया।



- खंडवा में जयंती साकल्ले ने परिवार सहित वोट डाला। उन्होंने वोट डालने के लिए खासतौर पर अपनी बेटी को ससुराल से बुलाया।


- इंदौर में कैलाश विजयवर्गीय ने परिवार के साथ वोट दिया। इस दौरान विधायक रमेश मेंदोला और विधायक आकाश विजयवर्गीय भी उनके साथ मौजूद रहे।

Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story