Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कांग्रेस के ''नाथ'' के हाथ MP की कमान, दिनभर माथापच्ची के बाद रात में खिला कमल

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों (Madhya Pradesh Assembly election Result 2018) के दो दिन बाद भोपाल में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (Indian National Congress) के कमलनाथ के नाम का ऐलान किया गया।

कांग्रेस के नाथ के हाथ MP की कमान, दिनभर माथापच्ची के बाद रात में खिला कमल
X

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव के नतीजों (Madhya Pradesh Assembly election Result 2018) के दो दिन बाद भोपाल में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (Indian National Congress) के कमलनाथ को मध्य प्रदेश का मुख्या (Madhya Pradesh CM Kamal Nath) बनाने का फैसला किया गया। कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद कमलनाथ के नाम का ऐलान किया गया। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सोमवार को कमलनाथ शपथ ले सकते हैं। एमपी चुनाव में कांग्रेस को 114 सीटें मिली थीं जबकि भाजपा को 109 सीटें मिली थीं, लेकिन बहुजन समाज पार्टी (बसपा) (Bahujan Samajwadii Party) सुप्रीमो मायावती ने दो सीटें जीतकर कांग्रेस को समर्थन दे दिया जिसके बाद 6 निर्दलियों ने भी कांग्रेस को समर्थन दे दिया और बहुमत को पूरा कर दिया, जिसके बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनना तय हो गई और दो दिन की माथापच्ची के बाद कमलनाथ को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाने का ऐलान करा दिया गया।

कमलनाथ के नाम के ऐलान से पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ एक फोटो ट्वीट की, जिसमें उन्होंने Leo Tolstoy का एक कथन लिखा, 'धैर्य और समय दो सबसे ताकतवर योद्धा होते हैं।' उनके इस कथन से साफ़ हो गया कि राहुल गांधी ने ज्योतिरादित्य को धैर्य रखने के लिए कहा है।

राहुल गांधी के ट्वीट के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी वही फोटो लगाकर ट्विटर पर लिखा, 'ये कोई रेस नहीं और ये कुर्सी के लिए नहीं, हम यहां मध्य प्रदेश की जनता की सेवा के लिए हैं, मैं भोपाल आ रहा हूं, और आज ही CM के नाम का ऐलान होगा।' इससे साफ़ हो गया था कि ज्योतिरादित्य ने कमलनाथ के सामने हाथ खड़े कर दिए हैं।

बता दें कि अगर मुख्यमंत्री का नाम पहले से तय ना हो तो चुनाव जीतने के बाद मुख्यमंत्री चुनने में सबको वक्त लगता है। हालांकि इन दो दिनों में कांग्रेस की गुटबाजी खुलकर सामने आ गई है और पार्टी में दो भाग खुलकर देखे गए, हालांकि नाम के ऐलान के बाद दोनों गुट शांत हो गए थे।

इन मुख्यमंत्रियों के नाम ऐलान में भी हुई देरी

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) Bharatiya Janata Party (BJP) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नाम का ऐलान 7 दिन में किया था।

त्रिपुरा में भाजपा को मुख्यमंत्री (बिप्लब कुमार देब) को चुनने में तीन दिन का वक्त लगा था।

हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भी भाजपा ने सीएम चुनने में छह दिन का वक्त लगा दिया था।

महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नाम पर भाजपा ने नौ दिन का लंबा वक्त लिया था।

हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का नाम तय करने में भाजपा को दो दिन लगे थे।

गोवा में एक ही दिन में सीएम पद के लिए मनोहर पर्रिकर के नाम तय हो गया था।

हालांकि असम और गुजरात में मुख्यमंत्री का नाम पहले से ही तय कर दिया गया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story