Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने बिजली बिलों की जलाई होली, कलेक्टर को ज्ञापन सौंप विरोध में फूंका बिगुल Watch Video

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मंदसौर ( Mandsaur) में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिह (Former Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने आज सुशासन भवन के सामने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर बिजली के बिलों की होली जलाई। साथ ही उन्होंन धरना स्थल पर कलेक्टर मनोज पुष्प (Collector Manoj Pushp) को मंच बुलाकर ज्ञापन भी सौंपा।

पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज ने बिजली बिलों की जलाई होली, कलेक्टर को ज्ञापन सौंप विरोध में फूंका बिगुल Watch Video
X

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के मंदसौर ( Mandsaur) में पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिह (Former Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने आज सुशासन भवन के सामने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर बिजली के बिलों की होली जलाई। साथ ही उन्होंन धरना स्थल पर कलेक्टर मनोज पुष्प (Collector Manoj Pushp) को मंच बुलाकर ज्ञापन भी सौंपा। जिसमें बाढ़ पीड़ितों को तुरंत सहायता देने के कई बिंदुओं को बताया। साथ ही कमलनाथ सरकार पर वादा खिलाफी का निशाना साधते हर कहा कि समूह लोन माफी की बात कमल नाथ सरकार (KamalNath Government) द्वारा कही गई थी। शिवराज ने मंच से महिलाओं से आह्वान किया कि कोई भी समूह लोन नही दे। अगर कोई स्व सहायता समूह लोन लेने आए तो पिटाई कर दी जाए।

कमलनाथ सरकार (KamalNath Government) द्वारा बिजली के बिल हाफ किए जाने के वादे के बाद भी किसानों को भारी बिजली के बिल दिए जा रहे है। जिसके विरोध में बिजली के बिलों की होली जलाई। शिवराजसिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने बिजली के बिलो के विरोध में अवज्ञा आंदोलन का बिगुल फूंका। कोई भी बिल न दे और बिजली के बिलो की तहसील स्तर पर भाजपा कमिटी बनाए और आंदोलन शुरू करें।


बात दें शनिवार दोपहर से 24 घंटे के लिए धरने पर बैठे शिवराज को जब प्रशसन से धरने के लिए जगह नहीं मिली तो वह भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ सड़क पर ही धरने पर बैठ गए। दिनभर धरने पर बैठने के शिवराज सहित सभी कार्यकर्ताओं ने रात को भजन कीर्तन करना शुरू कर दिया।


भाजपा नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने मंदसौर में कलेक्टर कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन के दौरान कहा,, कांग्रेसी भोपाल में बैठे.बैठे स्टेटमेंट दे रहे हैं कि शिवराज जनता की अदालत लगा रहे हैं। आप जनता की मदद नहीं करोगे, उसकी तकलीफों के प्रति असंवेदनशील रहोगे, तो जनता कहां जाएगी। मैंने आज जनता की अदालत लगाई है और जब तक जनता को न्याय नहीं दिला देता चैन से नहीं बैठूंगा। पूर्व मुख्यमंत्री ने इस धरने को जनता की अदालत नाम दिया और बाढ़ पीड़ितों की समस्याएं भी सुनीं।

चौहान ने कहा कि आज का आंदोलन रचनात्मक आंदोलन है। हम सोती हुई सरकार को कुंभकरणी निद्रा से जगाने आए हैं। हम चाहते तो आज ही कलेक्ट्रेट घेर लेते, लेकिन हमने आज जनता की अदालत लगाई है। इसमें जनता अपनी तकलीफें बताएगी और हम उन्हें नोट करेंगे। इन तकलीफों को दूर करने का प्रयास भी करेंगे। हम कमलनाथ को चैन से सोने नहीं देंगे। एक बुजुर्ग महिला ने मुझसे रोते-रोते कहा कि बेटी की शादी है, अब मेरे पास कुछ नहीं बचा। बच्चों की किताबें.कॉपी बह गई, अर्धवार्षिक परीक्षा है उनकी। बच्चे मुझसे लिपट के रो रहे थे।


कल एक गांव के सरपंच ने आत्महत्या कर ली। सोयाबीन की फसल गल गई, फली लगी नहीं। कर्जा आपने माफ किया नहीं, कर्ज के बोझ तले उन्होंने कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली। सरकार सुन नहीं रही है। इस अवसर पर सांसद सुधीर गुप्ता, पूर्व मंत्री कैलाश चावला, विधायक जगदीश देवडा, जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सुराना, नीमच जिलाध्यक्ष हेमंत हरित, विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया, ओमप्रकाश सखलेचा, दिलीप सिंह परिहार, माधव मारू, देवीलाल धाकड़, राधेश्याम पाटीदार, चंदर सिंह सिसोदिया सहित अनेक नेता व कार्यकर्ता उपस्थित थे।

पहले जो पैसा रखा है, उसे तो खर्च करो

चौहान ने कहा कि प्रदेश सरकार ने डीजल पेट्रोल के दाम बढ़ा दिए । कांग्रेस सरकार के मंत्री कहते हैं केंद्र ने दाम बढ़ा दिए हैं। मंत्री कह रहे हैं कि टैक्स बढ़ाने से जो पैसा आएगा उसे बाढ़ पीड़ितों पर, किसानों पर खर्च करेंगे। मैं कहता हूं कांग्रेसियो कुछ तो शर्म करो, ढोंग मत करो। पहले से जो पैसा सरकार के पास रखा है, उसे तो खर्च करो। हम डीजल पेट्रोल के दाम बढ़ाने का विरोध करते हैं, इसकी निंदा करते हैं। संकट की घड़ी में हम आप को अकेला नहीं छोड़ेंगे। हम समाधान चाहते हैं और सरकार के ऊपर दबाव बनाएंगे कि जनता को जल्द से जल्द मुआवजा दे, उन्हें राहत पहुंचाए। मांगों के लिए सरकार को समय सीमा देंगे। समय सीमा में मांगे पूरी नहीं हुई तो आंदोलन करेंगे ।


और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story