Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

डेंगू के डंक का कहर: पहली बार एक दिन में 12 मरीज, 150 पहुंची संख्या, हर दिन 100 जगहों पर मिल रहा डेंगू का लार्वा

राजधानी में डेंगू का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। जगह जगह भरा बारिश का पानी और विभागीय लापरवाही से डेंगू के लार्वा को पनपने का बेहतर मौका भी मिल रहा है।

डेंगू के डंक का कहर: पहली बार एक दिन में 12 मरीज, 150 पहुंची संख्या, हर दिन 100 जगहों पर मिल रहा डेंगू का लार्वा
X

भोपाल। राजधानी में डेंगू का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। जगह जगह भरा बारिश का पानी और विभागीय लापरवाही से डेंगू के लार्वा को पनपने का बेहतर मौका भी मिल रहा है। यही कारण है कि बीते एक सप्ताह में ही डेंगू के 30 मरीज मिल चुके हैं। शुक्रवार को भी डेंगू के 12 मरीज मिले। इस सीजन में पहला मौका है जब इतने मरीज एक साथ सामने आए।

मालूम हो कि शहर में अब तक 150 मरीज मिल चुके हैं। हर रोज चार से पांच मरीज सामने आ हैं, इसके बावजूद न तो ढंग से लार्वा सर्वे हो रहा है न नगर निगम की फॉगिंग। विभाग ने टीमों की संख्या बढ़ाई न ही लार्वा पालने वालों पर जुमार्ना लगाया जा रहा है।

इस साल अगस्त माह 115 मरीज सामने आ चुके हैं जबकि बीते साल अगस्त तक 45 मरीज ही सामने आए थे। इसका सबसे बड़ा कारण यह था कि पिछले पूरे साल 125 से ज्यादा टीम लार्वा सर्वे करती रहीं। वहीं इस बार अब तक सिर्फ 39 टीमें ही काम कर रही हैं।

इसलिए बढ़ रहे मरीज

लार्वा मिलने पर नगर निगम को मकान मालिक पर 200 से 5 हजार रुपए तक जुमार्ने का अधिकार है, लेकिन जुमार्ना तब किया जाता है जब डेंगू-चिकनगुनिया के हर दिन 5 से ज्यादा मरीज आने लगते हैं। लावा सर्वे में आशा कार्यकताओं की टीमें लगाई जाती हैं लेकिन उन्हें लार्वा की सही तरीके से पहचान नहीं है। बार-बार मौसम बदलने मच्छर पनपने को मौका मिला है।

शुक्रवार को लार्वा सर्वे स्थिति

सर्वे किए गए घर 1300

कितने घरों में लार्वा मिला 239

कितने बर्तनों में लार्वा सर्वे किया गया 10040

कितने बर्तनों में लार्वा मिला 125

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story