Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मध्यप्रदेश में कांग्रेस के लिए मुश्किल हुई सत्ता की राह, बसपा ने 24 सीट पर उम्मीदवार उतारने का किया ऐलान

कोरोना संकट के बीच उपचुनाव को लेकर राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। अब तक माना जा रहा था कि उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी जंग होगी, लेकिन यह मुकाबला त्रिकोणीय होने वाला है। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मध्यप्रदेश उपचुनाव में सभी 24 सीटों पर उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया है।

कांग्रेस की इस गलती पर खूब उड़ रहा मजाक, बीजेपी भी ले रही है मजे
X

BJP - Congress

कोरोना संकट के बीच उपचुनाव को लेकर राजनीतिक दलों ने अपनी तैयारियां तेज कर दी है। अब तक माना जा रहा था कि उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस के बीच सीधी जंग होगी, लेकिन यह मुकाबला त्रिकोणीय होने वाला है। बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मध्यप्रदेश उपचुनाव में सभी 24 सीटों पर उम्मीदवार उतारने का ऐलान किया है।

साथ ही यह भी साफ कर दिया कि बसपा अपने दम पर अकेले चुनाव लड़ेगी, बिना किसी गठबंधन के बसपा मैदान में उतरेगी। अपने दम पर चुनाव लड़ने के बसपा के ऐलान से कांग्रेस को एक बार फिर झटका लगा है। विधानसभा चुनाव 2018 के समय कांग्रेस और बसपा के बीच गठबंधन होने की चर्चाएं अंतिम समय तक जोरो पर रही। कमलनाथ की ओर से बार-बार कहा गया कि कांग्रेस और बसपा के बीच गठबंधन अंतिम चरण में है।

लेकिन अंतिम समय में गठबंधन की संभावनाओं को बड़ा झटका देते हुए बसपा ने अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया। इस बार पहले ही बसपा ने अपने इरादे साफ कर दिए हैं। ग्वालियर चंबल में बसपा का अपना एक वोट बैंक है। ऐसे में कांग्रेस और भाजपा दोनो के लिए मुश्किलें बढ़ने वाली हैं।

दावेदारी फॉर्म बुलाकर पैनल सूची मायावती को भेजेंगे

बसपा के प्रदेश अध्यक्ष रमाकांत पिप्पल ने बताया कि बसपा की चुनावी तैयारियां जमीनी स्तर पर चल रही है। आगामी सप्ताह में दावेदारी आवेदन फॉर्म दिए जाएंगे। इसके बाद पैनल सूची मायावती जी को भेजी जाएगी। उन्होंने बताया कि बसपा के सभी कार्यकर्ता दिन-रात संगठन को मजबूत करने में लगे हुए हैं। बसपा पूरी तैयारी से चुनावी मैदान में उतरेगी।

और पढ़ें
Next Story