Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नाबालिग प्रेमिका ने की साथ चलने की जिद, प्रेमी ने गर्दन पर ब्लेड चलाकर कर दी निर्मम हत्या

गौतम नगर थाना क्षेत्र स्थित नारियलखेड़ा रेशम केन्द्र के पास खंडहर में बुधवार को मिली अज्ञात लाश की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। लाश 16 साल की किशोरी की थी और उसकी हत्या प्रेमी ने गर्दन पर ब्लेड से हमला कर की थी।

नाबालिग प्रेमिका ने की साथ चलने की जिद, प्रेमी ने गर्दन पर ब्लेड चलाकर कर दी निर्मम हत्या

भोपाल। गौतम नगर थाना क्षेत्र स्थित नारियलखेड़ा रेशम केन्द्र के पास खंडहर में बुधवार को मिली अज्ञात लाश की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है। लाश 16 साल की किशोरी की थी और उसकी हत्या प्रेमी ने गर्दन पर ब्लेड से हमला कर की थी। करीब तीन साल से दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था। आरोपी प्रेमी ने बताया कि दिनभर यहां-वहां घुमाने के बाद उसने लड़की को घर जाने को कहा था, लेकिन वह घर जाने के लिए तैयार नहीं थी। उसे डर था कि यदि नाबालिग उसके साथ जाएगी तो उसे जेल जाना पड़ सकता है।

पुलिस के अनुसार 11 सितंबर की दोपहर गौतम नगर स्थित नारियलखेड़ा में रेशम केन्द्र के पास खंडहर से एक महिला की लाश बरामद की थी। मृतका की गर्दन पर धारदार हथियार के चोट के निशान थे। पुलिस आरोपी के पर हत्या का दर्ज कर जांच कर रही थी। इस दौरान पुलिस की टीम ने घटनास्थल व बोट क्लब का बरीकी से निरीक्षण किया। लोगों से घटना के संबंध में पूछताछ की गई थी। पुलिस को पता चला कि पूजा कॉलोनी से बुलबुल नाम की नाबालिग लड़की विगत आठ सितंबर से लापता है। 9 सितंबर की दोपहर तीन-चार बजे उसे अभिषेक जाट के साथ पल्सर बाइक पर देखा गया है। लिहाजा पुलिस ने संदेही अभिषेक जाट की तलाश करते हुए उसे करोंद चौराहे से हिरासत में लिया था। हिरासत में लेकर की गई पूछताछ करने पर उसने बताया कि उक्त नाबालिग की हत्या उसने की है।

तीन साल से था प्रेम प्रसंग

निशातपुरा थाना प्रभारी महेन्द्र सिंह चौहान ने बताया कि पूजा कॉलोनी निवासी बुलबुल मालवीय साढ़े 16 साल और अभिषेक जाटव से पिछले तीन साल से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। यह बात बुलबुल के परिजनों के अलावा आसपास के लोगों को भी पता थी। अगस्त में भी बुलबुल बिना बताए कहीं चली गई थी। निशातपुरा पुलिस ने बुलबुल के पिता की शिकायत पर अपहरण का मामला दर्ज किया था। पुलिस को बुलबुल अभिषेक जाटव के पास मिली थी। उस समय उसने साफ-तौर पर कह दिया था कि वह अभिषेक जाट के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं चाहती। कोर्ट में भी उसने अभिषेक के खिलाफ कोई बयान नहीं दर्ज किया था। लिहाजा पुलिस ने अभिषेक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की थी। वैसे आरोपी अभिषेक पर निशातपुरा थाने में आबकारी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज है।

बार-बार चली जाती थी नाबालिग

निशातपुरा पुलिस ने बताया कि अगस्त माह में बुलबुल मालवीय सातवीं बार घर से भागी थी। वह अपने सौतेले पिता से परेशान थी। पुलिस ने नाबालिग के वीडियो रिकार्डिंग बयान भी किए थे। बुलबुल ने अपने बयान में कहा था कि उसके सौतेले पिता उसके साथ छेड़छाड़ करते है। वह अभिषेक के साथ रहना चाहती है, लेकिन उसका पिता यह नहीं चाहता था। इस माह आठ सितंबर को बुलबुल आठवीं बार घर से गायब हुई थी।

नहीं समझी तो उतारा मौत के घाट

अभिषेक ने पुलिस पूछताछ में बताया कि बुलबुल को मैं अपनी बाइक से बोट क्लब व पुराने भोपाल में घुमाता रहा। 9 सितंबर को देर रात करीब सवा 11 बजे वह बुलबुल को गौतम नगर थाना क्षेत्र स्थित रेशम केन्द्र के पास सूने खंडहर में ले गया। अभिषेक करीब आधा घंटे तक बुलबुल को समझाता रहा, पर वह घर जाने को तैयार नहीं थी। वह जोर-जोर से रोने लगी। मैंने उससे कहा कि ठीक है, मैं बाहर देखकर आता हूं फिर कहीं चलते हैं। मैं पास की एक दुकान से ब्लेड लेकर आया और खंडहर में नाले की तरफ उसे ले जाकर उसकी गर्दन पर ब्लेड से हमला कर दिया।

Next Story
Share it
Top