Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आखिर बीजेपी ने क्यों कहा- कांग्रेस ने कुत्तों को भी नहीं छोड़ा...

डॉग्स के तबादले पर बीजेपी ने सोशल मीडिया में सरकार को घेर लिया है. बीजेपी ने कांग्रेस पर जमकर तंज कसा है. बीजेपी ने ट्वीट कर कहा कि तबादला उद्योग में कांग्रेस ने कुत्तों को भी नहीं छोड़ा. एमपी में 15 साल सत्ता में कांग्रेस सरकार तबादलों को लेकर शुरुआत से ही तबादलों को लेकर सुर्ख़ियों में है, जिसकी गूँज विधानसभा में भी सुनाई दी.

MP में डॉग स्क्वायड के तबादले पर राजनीति, बीजेपी ने कहा- तबादला उद्योग में कांग्रेस ने कुत्तों को भी नहीं छोड़ाDog Squad

भोपाल. डॉग्स के तबादले पर बीजेपी ने सोशल मीडिया में सरकार को घेर लिया है. बीजेपी ने कांग्रेस पर जमकर तंज कसा है. बीजेपी ने ट्वीट कर कहा कि तबादला उद्योग में कांग्रेस ने कुत्तों को भी नहीं छोड़ा. एमपी में 15 साल सत्ता में कांग्रेस सरकार तबादलों को लेकर शुरुआत से ही तबादलों को लेकर सुर्ख़ियों में है, जिसकी गूँज विधानसभा में भी सुनाई दी. जब विपक्ष ने तबादलों की जल्दबाजी में एक सरपंच का ही तबादला करने का आरोप लगाते हुए सरकार को घेरा. अब पुलिस विभाग में डॉग्स के तबादले हुए, जिसको लेकर बीजेपी नेता सरकार पर तंज कस रहे हैं.





दरअसल, 23वीं वाहनी विशेष सशस्त्र बल में 46 डॉग हैंडलर के ट्रांसफर के आदेश जारी हुए हैं. इन डॉग हैंडलर्स को उनके डॉग के साथ ही ट्रांसफर किया गया है. इससे 46 खोजी कुत्ते इधर से उधर हो गए हैं. इनमें स्निफर, नार्को और ट्रेकर डॉग्स शामिल हैं. ख़ास बात ये है कि इन नए आदेश में अब मुख्यमंत्री कमलनाथ के बंगले की सुरक्षा के लिए छिंदवाड़ा से डफी डॉग को खासतौर पर बुलाया गया है. इसके साथ ही डफी का साथ देने के लिए अब रेणु और सिकंदर भी उनके साथ होंगे. ये तीन स्निफर डॉग है, जिन्हें सीएम हाउस की सुरक्षा के लिए विशेष तौर पर तैनात किया जाएगा. हालाँकि यह एक प्रक्रिया है, लेकिन बड़ी संख्या में डॉग्स को इधर से उधर करना विपक्ष के लिए मुद्दा बन गया है.





प्रदेश में जिस तरह से बीजेपी शुरुआत से सरकार पर तबादला उद्योग चलाने के आरोप लगा रही है, ऐसे में अब कुत्तों के तबादले को लेकर बीजेपी ने सरकार को घेरना शुरू कर दिया है. इतनी बड़ी संख्या में कुत्तों के तबादलों के बाद भाजपा ने कमलनाथ सरकार पऱ तंज कसा है. भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष विजेश लुणावत ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 'वाह रे कमलनाथ सरकार तबादल उद्योग में कुत्तों को भी नहीं छोड़ा, मध्यप्रदेश के डॉग स्क्वाड के ट्रांसफर। वहीं भाजपा विधायक रामेश्वर शर्मा ने कमलनाथ सरकार पर कटाक्ष करते हुए लिखा कि हाय रे बेदर्दी कांग्रेस सरकार कुत्तों को तो छोड़ देते. भाजपा नेताओं ने सीएम हाउस में छिंदवाड़ा से डफी डॉग को बुलाए जाने को परिवारवाद बताकर भी तंज कसा है.

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने भी पुलिस डॉग्स तबादले को लेकर प्रदेश सरकार पर तंज कसा है. उन्होंने कहा कि ये हास्य परिहास का विषय बन गया है कि अब कमलनाथ सरकार पुलिस डॉग्स के भी तबादले कर रही है. राकेश सिंह ने कहा कि अधिकारियों से अपेक्षा की पूर्ति होना न होना ये अलग बात है, पर बेजुबान जानवरों से सरकार कि ऐसी क्या अपेक्षा है कि सरकार ने अब डॉग और डॉग स्क्वायड का भी ट्रांसफर कर दिया है और वो भी 500-500 किलोमीटर दूर है. उन्होंने कहा इस सरकार का सिवाय मध्यप्रदेश में तबादले के अलावा और किसी विषय मे फोकस नहीं है.

इधर प्रदेश के वित्त मंत्री तरुण भनोत ने भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह के तबादले को लेकर दिए गए बयान पर पलटवार किया है. वित्त मंत्री ने तबादले को प्रशासनिक व्यवस्था बताते हुए कहा कि अब भाजपा के पास करने और कहने को कुछ नही है. सत्ता जाने के दर्द से वो निकल नही पा रहे है इसलिए तबादले को लेकर राजनीति कर रहे है. वित्त मंत्री ने ट्रांसफर को प्रशासनिक व्यवस्था बताया और कहा कि ये सरकार का अधिकार है. वित्त मंत्री की माने तो भाजपा नेताओं ने भी अपने अपने भाई-भतीजे ओर रिश्तेदारों का तबादला करवाया है जिसे हमने किया भी है और अगर ये उधोग की श्रेणी में आते है तो इसमें भाजपा की भी हिस्सेदारी है.

Share it
Top