Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

उत्तराखंड : चुनाव से पहले राहुल ने दिया कांग्रेस नेताओं को बड़ा झटका, लागू की ये स्कीम

आगामी विधानसभा चुनाव (upcoming assembly elections) से पहले उत्तराखंड कांग्रेस (uttarakhand congress) को बड़ा झटका लगा है। पार्टी में परिवारवाद पर लगाम लगाने के लिए राहुल गांधी (rahul gandhi) ने उत्तराखंड (uttarakhand) में भी एक परिवार-एक टिकट (one family-one ticket) की नीति को लागू करने का फैसला किया है।

उत्तराखंड : चुनाव से पहले राहुल ने दिया कांग्रेस नेताओं को बड़ा झटका, लागू की ये स्कीम
X

आगामी विधानसभा चुनाव (upcoming assembly elections) से पहले उत्तराखंड कांग्रेस (uttarakhand congress) को बड़ा झटका लगा है। पार्टी में परिवारवाद पर लगाम लगाने के लिए राहुल गांधी (rahul gandhi) ने उत्तराखंड (uttarakhand) में भी एक परिवार-एक टिकट (one family-one ticket) की नीति को लागू करने का फैसला किया है।

राहुल के इस फैसले से परिवार के लिए टिकट मांग रहे पूर्व मुख्यमंत्री मुख्यमंत्री हरीश रावत ( harish rawat) समेत उत्तराखंड कांग्रेस के कई बड़े नेताओं को झटका लगा है। इससे पहले प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोंदियाल (ganesh gondiya) ने एक परिवार के लोगों को ज्यादा टिकट देने की वकालत की थी। हालांकि गोंडियाल का गांधी परिवार के करीबी और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय (kishore upadhyay) ने खुलकर विरोध किया था।

उन्होंने साफ कहा था कि परिवारवाद लगातार कार्यकर्ताओं की भावनाओं को आहत कर रहा है। अब पंजाब की तर्ज पर उत्तराखंड विधानसभा चुनाव (uttarakhand assembly elections) में एक परिवार से एक ही टिकट देने का नियम लागू करने का फैसला लिया गया है।

आपको बता दें कि चुनाव प्रचार समिति के मुखिया और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत सिर्फ अपने बेटे या बेटी के लिए टिकट मांग रहे हैं। उनके अलावा विधायक दल के नेता प्रीतम सिंह भी अपने बेटे के लिए और कार्यकारी अध्यक्ष रंजीत रावत (ranjit rawat) भी अपने बेटे के लिए टिकट मांग रहे हैं।

वहीं इंदिरा हृदयेश के निधन से उनके बेटे को टिकट मिलने की संभावना जताई जा रही है। हालांकि इस नियम में ढील दी गई है। माना जा रहा है कि बीजेपी (bjp) से वापस आए यशपाल आर्य और उनके बेटे को टिकट दिया जाएगा, ऐसा इसलिए भी है क्योंकि दोनों मौजूदा विधायक हैं।

Next Story