Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

योगी सरकार की सिफारिश पर महंत नरेंद्र गिरी मौत मामले की जांच करेगी सीबीआई!, सुसाइड नोट पर उठ रहे सवाल

महंत नरेंद्र गिरी के पास से बरामद हुए सुसाइड नोट पर हेड राइटिंग को लेकर उठ रहे अलग अलग सवाल। तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही पुलिस।

योगी सरकार की सिफारिश पर महंत नरेंद्र गिरी मौत मामले की जांच करेगी सीबीआई!, सुसाइड नोट पर उठ रहे सवाल
X

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत मामले की जांच योगी सरकार (Yogi Government) ने सीबीआई (CBI) से कराने की सिफारिश की है। इसकी वजह (Mahant Narendra Giri) महंत नरेंद्र गिरी की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दम घुटने से मौत होने का खुलासा होना है। इसके साथ ही उनके सुसाइड नोट पर लिखी हेडराइटिंग को लेकर भी असमंजस की स्थिती बनी हुई है। इस पर भी सवाल खड़े हो रहे है। इसी को देखते हुए योगी सरकार ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर मामले में सीबीआई जांच की मांग की है। जिसे मामले का जल्द और सही खुलासा हो सके।

पुलिस ने महंत नरेंद्र गिरी के पास से बरामद हुए सुसाइड नोट के आधार पर उनके शिष्य आनंद गिरी, आद्या तिवारी और उनके बेटे संदीप तिवारी को हिरासत में ले रखा है। पुलिस लगातार उनसे पूछताछ कर रही है। इसकी वजह नरेंद्र गिरी महाराज के पास से बरामद हुए सुसाइड नोट में इन तीनों का नाम लिखा होना है। इसमें उन्होंने इन तीनों को आत्महत्या के लिए उकसाने से लेकर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया है।

सुसाइड नोट पर उठने लगे सवाल

वहीं महंत नरेंद्र गिरी के पास से मिले सुसाइड नोट पर भी सवाल खड़े होने लगे हैं। इसकी वजह उन्हीं के कुछ शिष्यों द्वारा कहा जा रहा था कि यह नरेंद्र गिरी का ही लेख है। वहीं मठ के अन्य कुछ लोगों का दावा है कि यह लेख महंत नरेंद्र गिरी का नहीं है। उन्हें काफी समय से किसी ने कुछ लिखते नहीं देखा है। वह अब लिखते नहीं थे। इन तमाम तरह के सवालों ने इस मामले को और भी उलझा दिया है। इसी को देखते हुए सरकार ने केंद्र से मामले में सीबीआई जांच कराने की मांग की है।

विपक्ष दलों ने भी की सीबीआई जांच की मांग

योगी सरकार के अलावा महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत मामले में विपक्षी दल सपा से लेकर कांग्रेस के नेताओं ने भी सीबीआई जांच की मांग की है।

Next Story