Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यूपी पुलिस ने मजबूर पिता से कहा, हमारे पास तुम्हारे बेटे को ढूंढ़ने का वक्त नहीं

उत्तरप्रदेश में पुलिस के काम करने के तरीके पर लगातार उंगलियां उठ रही हैं। इसी क्रम में अब फतेहपुर से भी एक मामला सामने आया है। जिसमें पुलिस ने सारी सीमाएं तोड़ कर रख दी हैं।

यूपी पुलिस ने मजबूर पिता से कहा, हमारे पास तुम्हारे बेटे को ढूंढ़ने का वक्त नहीं
X
यूपी पुलिस ने मजबूर पिता से कहा, हमारे पास तुम्हारे बेटे को ढूंढ़ने का वक्त नहीं

उत्तरप्रदेश में पुलिस के काम करने के तरीके पर लगातार उंगलियां उठ रही हैं। इसी क्रम में अब फतेहपुर से भी एक मामला सामने आया है। जिसमें पुलिस ने सारी सीमाएं तोड़ कर रख दी हैं। सूत्रों के मुताबिक, एक पिता अपने बेटे के लिए 11 महीने से रो रहा है। लेकिन पुलिस कहती है कि तुम्हारे बेटे को ढुंढ़ने का हमारे पास वक्त नहीं है।

11 महीने से है लापता

उत्तरप्रदेश के फतेहपुर के किसान विकास मिश्रा का बेटा 11 महीने से लापता है। जानकारी के मुताबिक, कानपुर में उसका बेटा विनय मिश्रा एयरफोर्स की तैयारी कर रहा था। वो कल्याणपुर के एक हॉस्टल में रहता था। करीब 11 महीने पहले विनय ने अपने पिता से कहा कि उसके कोचिंग में छुट्टी हो गई है और वो घर आ रहा है। लेकिन उसके बाद से ही वो लापता है।

विकास ने अपने बेटे के बारे में कई बार थाने के चक्कर काटे। एसएसपी ऑफिस भी गया। लेकिन पुलिस ने कहा कि तुम्हारे बेटे को ढुंढ़ने का वक्त नहीं है हमारे पास। इससे भी बड़े-बड़े मामले पेंडिंग पड़े हैं।

फिर विकास अपने गांव लौट तो आता है। लेकिन हर बार बेटे की याद आने पर वो बेचैन हो जाता है और थाने पहुंचकर पुलिसवालों से मिन्नतें करता है। उसने पुलिस से ये तक कह दिया कि अगर उनका बेटा जिंदा नहीं है तो आप मुझे उसकी लाश ही दिखा दो।

डीआईजी ने दी तसल्ली

बता दें कि कानपुर के नये डीआईजी ने कहा है कि इस मामले की गंभीरता से जांच की जाएगी। साथ ही उन्होंने आश्वासन दिया है दोबारा पुलिस की ऐसी हरकत सामने नहीं आएगी। इसके अलावा डीआईजी ने ये भी कहा है कि लापता लोगों की तलाश अब नए सिरे से की जाएगी।

Next Story