Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पूर्वी पाकिस्तान से आए हिन्दू परिवारों का पुनर्वास करेगी योगी सरकार, देगी इतने एकड़ जमीन और मकान

अगामी विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Elections) से पहले उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh ) की योगी सरकार (Yogi government) वर्ष 1970 में पूर्वी पाकिस्तान (East Pakistan) से यूपी के कानपुर में आए 63 हिंदू बंगाली परिवारों (Hindu Bengali Family) का पुनर्वास करेगी।

पूर्वी पाकिस्तान से आए हिन्दू परिवारों का पुनर्वास करेगी योगी सरकार, देगी इतने एकड़ जमीन और मकान
X

आगामी विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Elections) से पहले उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh ) की योगी सरकार (Yogi government) वर्ष 1970 में पूर्वी पाकिस्तान (East Pakistan) से यूपी के कानपुर में आए 63 हिंदू बंगाली परिवारों (Hindu Bengali Family) का पुनर्वास करेगी। उन्हें कृषि कार्य और आवास के लिए कानपुर देहात जिले में लगभग 121.41 हेक्टेयर भूमि दी जाएगी।

मकान बनाने के लिए मुख्यमंत्री आवास योजना (Chief Minister Housing Scheme) से पैसा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने इस प्रस्ताव को कैबिनेट (Cabinet) ने सर्कुलेशन (circulation) से मंजूरी दे दी। इन परिवारों को कृषि कार्य (Agriculture Work) और आवास के लिए कानपुर देहात जिले में लगभग 121.41 हेक्टेयर भूमि दी जाएगी।

उन्हें कृषि के लिए 2 एकड़ जमीन और निवास के लिए 200 वर्ग मीटर क्षेत्र को 30 साल के लिए एक रुपये के पट्टे पर दिया जाएगा, जिसे अगले 30 साल के लिए दो बार बढ़ाया जा सकता है।' घर के निर्माण के लिए मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत 1.2 लाख रुपये दिए जाएंगे। एक अधिकारी ने बताया कि वर्ष 1970 में पूर्वी पाकिस्तान (East Pakistan) से 65 बंगाली परिवार उत्तर प्रदेश से आए थे।

इनको रोजगार देकर मदन कपास मिल हस्तिनापुर मेरठ में पुनर्वास (Rehabilitation in Hastinapur Meerut) किया गया था। यह मिल 8 अगस्त, 1984 को बंद हो गई थी जिसके बाद हिंदू बंगाली परिवारों (Hindu Bengali Family) के सामने रोज-रोटी का संकट खड़ा हो गया था। हालांकि दो परिवारों के सदस्यों की मृत्यु हो चुकी है ऐसे में 63 परिवार पिछले 30 साल से पुनर्वास का इंतजार कर रहे थे।

Next Story