Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गन्ना किसान को CM योगी ने दिया एक और मौका, आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ़ाई

2022 में यूपी में विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) होने है। जिसके चलते सभी राजनितिक दल राज्य में अपनी सत्ता पाने के लिए प्रदेश की जनता को लुभाने में लग गए है।

गन्ना किसान को CM योगी ने दिया एक और मौका, आवेदन करने की अंतिम तिथि बढ़ाई
X

2022 में यूपी में विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) होने है। जिसके चलते सभी राजनितिक दल राज्य में अपनी सत्ता पाने के लिए प्रदेश की जनता को लुभाने में लग गए है। इसी बीच यूपी (Uttar Pradesh) की योगी सरकार (yogi government) ने गन्ना किसानों (Sugarcane Farmer) को ऑनलाइन अपना घोषणा पत्र भरने का मौका दे दिया है।

सरकार ने ये आवेदन करने की तारीख 15 नवंबर तक बढ़ा दी है। सरकार ने आदेश देते हुए कहा है कि अब और कोई मौका नहीं दिया जाएगा। गन्ना विभाग के मुताबिक ऑनलाइन डिक्लेरेशन फॉर्म (Online Declaration Form) भरने की आखिरी तारीख 31 अक्टूबर थी, जिसे अब बढ़ाकर 15 नवंबर कर दिया गया है। जिला गन्ना अधिकारी डॉ. दुष्यंत कुमार ने कहा कि इस समय खरीफ फसलों और त्योहारों की कटाई में किसानों की व्यस्तता को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है।

यदि किसान इस अंतिम तिथि (Last Date) तक भी अपना घोषणा पत्र नहीं भरते हैं तो उनका गन्ना दांव संचालित नहीं होगा। इस संबंध में गन्ना आयुक्त ने किसानों से इस अंतिम अवसर का लाभ उठाकर 15 नवंबर तक अपने आवेदन जमा करने की भी अपील की है। वही किसानों को आदेश देते हुए कृषि विभाग ने कहा कि इस बार कोई भी अपने खेतो में पराली न जलाये अगली फसल को देख कर ही यह सुनिश्चित किया जाए। साथ ही किसानों को जागरूक किया जाए।

उन्होंने कहा पेराई सीजन की शुरुआत में ही किसान गन्ने की कटाई के बाद खेत में एकत्रित पराली को नष्ट कर देते हैं। किसानों से सरकार हर साल पराली (Parali) न जलाने की अपील करती है, और उसे खेत में ही जोत देने के लिए कहती है। ताकि पराली से खाद भी बन जाए, लेकिन किसान खेतों में जमा हुई पराली को जला देते हैं। इससे पर्यावरण को बहुत नुकसान भी होता है। वही जिला कृषि अधिकारी ने कहा कि कोई भी किसान हर साल की तरह इस साल खेतों में पराली न जलाए। इसके लिए गांवों में पर्यवेक्षक नियुक्त किए गए हैं।

Next Story