Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सपा सांसद आजम खान की तबीयत में सुधार, जमानत देने से हाई कोर्ट ने किया इनकार

लखनऊ खंडपीठ के समक्ष इस याचिका पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई हुई। आजम खान की याचिका पर वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल और आईबी सिंह ने दलीलें रखीं और उन्हें जमानत दिए जाने की मांग की।

सपा सांसद आजम खान की तबीयत में सुधार, जमानत देने से हाई कोर्ट ने किया इनकार
X

सपा सांसद आजम खान की जमानत याचिका खारिज। 

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान की तबीयत में तेजी से सुधार आ रहा है। अब उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत नहीं पड़ रही है। इस बीच इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने जल निगम में 1300 पदों पर नियुक्तियों से जुड़े धांधली के मामले उन्हें जमानत देने से इनकार कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आजम खान पर 25 अप्रैल 2018 को इस मामले में लखनऊ में केस दर्ज हुआ था। लखनऊ के मेदांता अस्पताल में कोरोना संक्रमण के चलते इलाज करा रहे आजम खान की ओर से इस मामले में जमानत याचिका लगाई गई थी। लखनऊ खंडपीठ के समक्ष इस याचिका पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सुनवाई हुई। आजम खान की याचिका पर वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल और आईबी सिंह ने दलीलें रखीं और उन्हें जमानत दिए जाने की मांग की।

सरकारी वकील ने हाई कोर्ट को बताया कि आजम खान रामपुर जिले के दो आपराधिक मुकदमों में पहले से न्यायिक हिरासत में जेल में है। सक्षम न्यायालय की ओर से आजम खान के खिलाफ इस मामले में 18 अप्रैल 2020 को बी वारंट जारी किया जा चुका है। जस्टिस राजीव सिंह की सिंगल बेंच ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी।

आजम खान की तबीयत में सुधार

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आजम खान की तबीयत में सुधार आ रहा है। उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत नहीं पड़ रही है। शुक्रवार शाम को आई रिपोर्ट में बताया गया कि उनके फेफड़ों और गुर्दे में संक्रमण भी कम हुआ है। हालांकि आजम खान को अभी भी 24 घंटे चिकित्सकीय निगरानी में रखा जा रहा है। बता दें कि सीतापुर जेल में बंद आजम खान को कोरोना संक्रमण हुआ था। उन्हें जेल में ही इलाज दिया जा रहा था, लेकिन तबीयत ज्यादा बिगड़ने के बाद नौ मई को मेदांता लखनऊ में शिफ्ट किया गया था।

Next Story