Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, डिप्टी सीएम मोर्या बोले- अखिलेश अब माफी मांगे... यूपी भाजपा ने भी साधा निशाना

अखिलेश यादव ने 2 जनवरी 2021 को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोरोना वैक्सीन को भाजपा की वैक्सीन बताते हुए कहा था कि वह ये टीका नहीं लगवाएंगे। उन्होंने लोगों से भी अपील की थी कि वो भी टीका न लगवाएं। अब जबकि स्वयं उनके पिता मुलायम सिंह ने वैक्सीन लगवाई है तो भाजपा को निशाना साधने का मौका मिल गया है। जानिये किसने और क्या कहा...

सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने लगवाई कोरोना वैक्सीन, डिप्टी सीएम मोर्या बोले- अखिलेश अब माफी मांगे... यूपी भाजपा ने भी साधा निशाना
X

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने सात जून को मेदांता लखनऊ में लगवाई थी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज। 

समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने सोमवार को लखनऊ में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवा ली। 81 वर्षीय मुलायम सिंह के कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाने की खबर सामने आते ही बीजेपी नेताओं ने उन्हें बधाई देना शुरू कर दिया। इस दौरान कुछ नेता मुलायम सिंह के बेटे अखिलेश यादव पर भी तंज कसना नहीं भूले, जिन्होंने हाल में कोरोना वैक्सीन को लेकर विवादित बयान दिया था।

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मोर्या ने ट्वीट कर लिखा, सपा संरक्षक व पूर्व मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव जी स्वदेशी वैक्सीन लगवाने के लिए आपका धन्यवाद। आपके द्वारा वैक्सीन लगवाना इस बात का प्रमाण है कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश जी द्वारा वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाई गयी थी। इसके लिएअखिलेश जी को माफ़ी मांगनी चाहिए।'

यूपी के भाजपा प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने ट्वीट पर लिखा, 'एक अच्छा संदेश…आशा करता हूं कि सपा के कार्यकर्ता एवं उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष भी अपनी पार्टी के संस्थापक से प्रेरणा लेंगे।'

यूपी भाजपा ने साधा निशाना

वहीं यूपी भाजपा के ट्विटर हैंडर पर भी मुलायम सिंह को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लेने पर अखिलेश यादव के ऊपर तीखा तंज कसा गया। यूपी भाजपा ने लिखा, 'अगर अखिलेश यादव की मानें तो आज समाजवादी पार्टी के संस्थापक श्री मुलायम सिंह यादव जी ने 'भाजपा' की वैक्सीन लगवा ली। अब वो भाजपा का प्रचार कर रहे हैं या अपने पुत्र द्वारा फैलाए गए भ्रम को तोड़ रहे हैं... ये आप तय कर लीजिए! हां, वैक्सीन जरूर लगवाइए!'

बता दें कि अखिलेश यादव ने 2 जनवरी 2021 को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोरोना वैक्सीन को भाजपा की वैक्सीन बताते हुए कहा था कि वह ये टीका नहीं लगवाएंगे। उन्होंने लोगों से भी अपील की थी कि वो भी टीका न लगवाए। साथ ही कहा था कि सपा जब सत्ता में आएगी तो सबको टीका मुफ्त में लगाएगी। हालांकि, बाद में अखिलेश यादव ने कहा था कि वह पूर्ण परीक्षण के बाद कोरोना का टीका लगवाएंगे।

Next Story