Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Farmer Protests: स्मृति ईरानी बोलीं- 20 सालों से चर्चाओं में था यह बिल, विपक्ष के बहकावे में ना आएं किसान

Farmer protests: नये कृषि कानूनों के विरोध के बीच आज केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी मेरठ में पहुंची। जहां उन्होंने किसानों को नये कृषि कानूनों के फायदे बताये। साथ ही किसानों से विपक्ष के बहकावे में नहीं आने की अपील भी की।

smriti irani counted benefits of new agricultural laws in meerut amid farmer protests
X

मेरठ में किसान सम्मेलन को संबोधित करतीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी। 

Farmer protests: नये कृषि कानूनों के विरोध के बीच आज केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी मेरठ में पहुंची। जहां उन्होंने किसानों को नये कृषि कानूनों के फायदे बताये। साथ ही किसानों से विपक्ष के बहकावे में नहीं आने की अपील भी की।

केंद्र सरकार द्वारा लाये गये नये कृषि कानूनों के खिलाफ लगातार विरोध जारी है। इस बीच शुक्रवार की दोपहर को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी मेरठ पहुंची। जहां उन्होंने किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुये किसानों को नये कृषि कानूनों के फायदे गिनवाये। इस दौरान स्मृति ईरानी द्वारा किसानों को लेकर राहुल गांधी के परिवार पर भी जोरदार हमला बोला गया।

नये कृषि कानूनों को लेकर मंत्री स्मृति ईरानी ने किसानों को बताया कि इस बिल को लेकर करीब 20 वर्षों से चर्चाएं चल रही थीं। ईरानी ने बताया कि संसद में यह बिल 6 महीने पहले पास हुआ। इस बिल को लेकर उस समय किसानों एवं किसान संगठनों से चर्चा भी की गई। फिर यह बिल देश की संसद में प्रस्तुत किया गया। ईरानी ने किसानों से कहा कि सदन में भरोसा दिलाया गया कि एमएसपी (MSP) बंद नहीं होगी। साथ ही केंद्रीय मंत्री ईरानी इस दौरान किसानों से नये कृषि कानूनों को लेकर विपक्ष के बहकावे में नहीं आने की अपील की।

किसान सम्मेलन में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने किसानों के मुद्दों को लेकर राहुल गांधी के परिवार समेत कांग्रेस के खिलाफ जमकर निशाने साधे। स्‍मृति ईरानी ने कहा कि अमेठी में 50 वर्षों तक राज करके गांधी परिवार ने किसानों की जमीनें हड़प ली हैं। ईरानी ने कहा कि अब यही गांधी परिवार अब किसान हित की बात कर रहा है। ईरानी ने पूछा कि क्‍या यही लोग किसानों को इंसाफ दिलाएंगे। वहीं स्मृती ईरानी ने कहा कि अमेठी की जनता ने बड़े विश्‍वास के साथ मुझे वहां से जिताया है। ईरानी ने कहा कि 40 इंच का आलू बताने वाले राहुल गांधी संसद में मिर्च का रंग तक नहीं बता सके थे। वहीं स्मृती ईरानी ने कहा कि यह गांधी परिवार किस आधार पर किसान के भले की बात कर रहा है।

इस दौरान स्मृति ईरानी ने किसानों को नये कृषि कानून की विशेषतायें भी बताईं। उन्होंने कहा कि नया कृषि कानून किसानों को आजादी दिलायेगा। इसके बाद किसान पूरे देश में कहीं भी अपनी उपज को बेच सकेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के एजेंडे में किसान हित सबसे ऊपर है। ईरानी ने कहा कि किसानों के साथ नाइंसाफी नहीं होने दी जाएगी। ईरानी ने बताया कि 6 महीनों तक करीब डेढ़ लाख किसानों के साथ सरकार ने आनलाइन चर्चा करके ही यह नया कृषि कानून बनाया है।

ईरानी ने कहा कि अब गांधी परिवार, इसी ने कांग्रेस को डुबोया है। यही अब किसानों के कंधे से हल उतारकर सियासी बंदूक चला रहा है। ईरानी ने कहा कि दिल्‍ली के दंगों में जो संदिग्ध शामिल रहे वहीं लोग आज विरोध प्रदर्शनों के दौरान किसानों के हित में पोस्‍टर लिए घूम रहे हैं। इस दौरान स्मृति ईरानी ने केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान का नाम भी लिया व साथ ही उनके कार्यों की सराहना की।

Next Story