Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सहारनपुर का 'मजदूर' नसीम निकला तीन मिलों और 600 बीघा जमीन का मालिक, पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेजा

पुलिस को पूछताछ में पत चला कि पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के यहां नौकरी करने वाले नसीम के पास करोड़ों रुपये की संपत्ति भी मिली है। उसका बेटा भी मजदूरी करता है और उसके नाम पर भी 35 बीघा जमीन और बाग है। जानें पूरा मामला...

सहारनपुर का मजदूर नसीम निकला तीन मिलों और 600 बीघा जमीन का मालिक, पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेजा
X

पुलिस पूछताछ में आरोपी नसीम ने चौंकाने वाले खुलासे किए। 

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के सहारनपुर (Saharanpur) में चर्चित खनन कारोबारी (Mining Dealer) और बसपा (BSP) के पूर्व एमएलसी मोहम्मद हाजी इकबाल (Mohd Haji Iqbal) के यहां नौकरी करने वाला नसीम तीन चीनी मिलों (Sugar Mills) का मालिक निकला। उसके पास 600 बीघा जमीन भी निकली। पुलिस की गिरफ्त में आए नसीम ने कई चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। पुलिस आरोपी के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट (Gangster Act) में कार्रवाई कर रही है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मिर्जापुर पुलिस ने गैंगस्टर एक्ट में वांछित अभियुक्त नसीम पुत्र अब्दुल गफ्फार उर्फ गफुर को गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान पता चला कि नसीम ने पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल के साथ मिलकर बैनामी संपत्ति अर्जित की। नसीम के नाम पर लखीमपुर खीरी, सीतापुर और गोरखपुर की चीनी मिलें उसके नाम है। इन चीनी मिलों के दस्तावेजों के नाम पर नसीम को डायरेक्टर बनाया गया है।

इसके अलावा नसीम के पास गोल्डन एग्रीकल्चर लिमिटेड के नाम से शाहपुर गाड़ा, फतेहपुर टांडा, सफीपुर में करीब 600 बीघा जमीन और बाग है। बताया जा रहा है कि नसीम के नाम से भी 87 बीघा जमीन और बाग है। नसीम का बेटा नदीम भी मजदूरी का काम करता था और उसके नाम भी 35 बीघा जमीन व बाग है। पुलिस ने नसीम को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मामले की आगे की जांच भी कर रही है।

और पढ़ें
Next Story