Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारतीय सेना में भर्तियों को लेकर कल रहेगा भारत बंद, किसान नेता राकेश टिकैत ने दिया समर्थन

भारतीय सेना में भर्तियों को लेकर रविवार को संपूर्ण भारत बंद का आह्वान किया गया है। निजी डिफेंस एकेडमी एसोसिएशन के साथ सैन्य भर्ती युवा संघर्ष समेत तमाम संगठन सैन्य भर्ती न होने से नाराज हैं।

भारतीय सेना में भर्तियों को लेकर कल रहेगा भारत बंद, किसान नेता राकेश टिकैत ने दिया समर्थन
X
भाकियू ने आठ मई के भारत बंद को दिया समर्थन। 

भारतीय सेना में भर्तियों (Indian Army Recruitment) को लेकर आठ मई को भारत बंद (Bharat Bandh) का आह्वान किया गया है। भारतीय किसान यूनियन टिकैत (BKU Tikait) ने भी भारत बंद को समर्थन दिया है। इसके अलावा अन्य किसान संगठनों (Farmer's Organizations) से भी आह्वान किया गया है कि इस मुद्दे पर एकजुट होकर भारत बंद को सफल बनाएं ताकि केंद्र सरकार (Central Government) पर दबाव बनाया जा सके कि सेना भर्ती का आयोजन हो सके।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने भाकियू राजस्थान के प्रदेशाध्यक्ष राजाराम मील के ट्वीट को रिट्वीट किया है। राजाराम मील ने लिखा, 'पिछले 2 साल से केंद्र सरकार द्वारा सेना भर्ती का आयोजन नही करवाने के विरोध में 8 मई को भारत बंद का आह्वान किया है। भारत बंद में प्रदेश के युवाओं को हमारा पूर्ण समर्थन रहेगा। साथ ही केंद्र सरकार से अपील है कि जल्द से जल्द भर्ती शुरू करे।'

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भारतीय सेना में भर्तियों को लेकर रविवार को संपूर्ण भारत बंद का आह्वान किया गया है। निजी डिफेंस एकेडमी एसोसिएशन के साथ सैन्य भर्ती युवा संघर्ष समेत तमाम संगठन सैन्य भर्ती न होने से नाराज हैं। युवा पिछले दो वर्ष से अधिक समय से सैन्य भर्तियों का इंतजार कर रहे हैं। यूपी में भी विधानसभा चुनाव शुरू से पहले ही विपक्ष ने इस मुद्दे को जोरशोर से उठाया था। विपक्ष ने आरोप लगाया था कि उम्र निकले जाने से कई युवा तो हताश हो गए और कई ने तो सुसाइड तक कर लिया।

अब केंद्र सरकार पर सैन्य भर्ती शुरू कराने के लिए दबाव बनाने की रणनीति बनाई है। इसके तहत आठ मई यानी रविवार को भारत बंद का आह्वान किया है। ऐसे में यूपी के राजनीतिक दलों की ओर से प्रतिक्रिय सामने नहीं आई है, लेकिन किसान संगठनों ने लोगों को भारत बंद सफल बनाने का आह्वान किया है। उत्तर प्रदेश के साथ हरियाणा और राजस्थान में भारत बंद का ज्यादा असर पड़ सकता है।

और पढ़ें
Next Story