Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ऑक्सिजन की सप्लाई रोके जाने से नाराज क्लीनिक और नॉन काेविड अस्पतालों ने प्रशासन को दिया अल्टीमेटम, सप्लाई न होने उठा लेंगे बड़ा कदम

ऑक्सिजन की बढ़ती खपत के बीच नॉन कोविड अस्पताल और क्लीनिकों पर ऑक्सिजन न पहुंचाने से नाराज संचालकों ने प्रशासन के खिलाफ नाराजगी व्यक्त की है।

ऑक्सिजन की सप्लाई रोके जाने से नाराज क्लीनिक और नॉन काेविड अस्पतालों ने प्रशासन को दिया अल्टीमेटम, सप्लाई न होने उठा लेंगे बड़ा कदम
X

ग्रेटर नोएडा के दादरी स्थित समस्त निजी क्लीनिक, अस्पताल के मालिक और संचालकों ने शासन द्वारा नॉन कोविड-19 अस्पतालों से सौतेला व्यवहार करते हुए उनकी ऑक्सीजन की सप्लाई रोके जाने पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन की सप्लाई नियमित नहीं की गई तो उन्हें मजबूर होकर अपने अस्पतालों निजी क्लीनिक को को बंद करने पड़ेंगे। इसके लिए डॉक्टरों ने प्रशासन को अल्टिमेटम दिया है। अगर ऑक्सीजन की सप्लाई नियमित रूप से नहीं मिली तो 5 मई से दादरी के समस्त अस्पतालों और क्लिनिकों को बंद कर दिया जाएगा। और इस दौरान ऑक्सीजन की कमी से कोई भी दुर्घटना होने पर उसकी सारी जिम्मेदारी शासन और प्रशासन की होगी।

दादरी में एक मीटिंग करने के बाद समस्त निजी क्लीनिक, अस्पताल के मालिक और संचालकों मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि मीटिंग में कोविड़ की इस महामारी के दौरान शासन और प्रशासन द्वारा समस्त नॉन कोविड-19 अस्पतालों को ऑक्सीजन की सप्लाई रोकने पर दिए जाने पर चर्चा की गई। शासन द्वारा नॉन कोविड-19 अस्पतालों से सौतेला व्यवहार करते हुए उनकी अपनी ऑक्सीजन की सप्लाई रोक दिया गया है। जिसकी वजह से नॉन कोविड-19 अस्पतालों कार्डिक, न्यूरो, आरटीई, गायनी, नवजात शिशु और अन्य मरीजों जिन्हें ऑक्सीजन आवश्य की तुरंत आवश्यकता होती है उनका इलाज करने में वे अस्पताल अपने आप को असमर्थ आ रहे हैं।

अस्पताल के मालिकों का कहना है कि 29 अप्रैल को इस संबंध में एक मीटिंग दादरी क्षेत्र के विधायक तेजपाल नागर के साथ उनकी हुई थी जिसमें विधायक ने तुरंत डीएम गौतमबुध नगर, उप जिलाधिकारी दादरी को टेलीफोन पर इस इस समस्या के बारे में अवगत कराया था और निवारण हेतु डीएम गौतमबुध नगर का आश्वासन मिला था कि इस सप्लाई को जल्द सुनिश्चित कर दिया जाएगा । लेकिन डॉक्टरों का कहना है कि 1 मई को तो उन्हें ऑक्सीजन की सप्लाई मिली लेकिन 2 तारीख के बाद फिर बंद कर दी गई।

डॉक्टरों ने कहा 2 और 3 तारीख को कोई सप्लाई नहीं हुई इसकी वजह से जो हमारे इमरजेंसी में मरीज हैं जो सीरियस है उन्हें परेशानी हो रही है हम यह निवेदन करते हैं और जो हमारी समस्त जनता है दादरी की उसे इलाज नहीं मिल पा रहा है हमारा निवेदन है कि प्रदेश सरकार से, प्रशासन से, हमारे जनप्रतिनिधि से कि कृपा करके ऑक्सीजन की सप्लाई कराई जाए नहीं तो, हमारे सामने कोई विकल्प नहीं रह जाएगा अस्पताल को बंद करने के सिवा। जब हमारे पास ऑक्सीजन ही नहीं रहेगी तो हम कैसे इलाज कर पाएंगे, हम प्रशासन से निवेदन कर रहे हैं यदि ऑक्सीजन नहीं मिली तो 5 तारीख से हम अपने अस्पतालों को बंद कर देंगे।

Next Story