Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कानपुर के कारोबारियों का फैसला, बोले चीन से आने वाले लोगों को न ही होटल में कमरा दिया जाएगा और न होगी एडवांस बुकिंग

कारोबारियों ने यह भी कहा, कारपोरेट मीटिंग की भी इजाजत नहीं होगी। बताया जा रहा है, कारोबारियों ने यह फैसला स्वेच्छा से लिया है। इसके अलावा सभी पदधिकारियों और सदस्यों को इस फैसले का सर्कुलर जारी कर दिया गया है।

कानपुर के कारोबारियों का फैसला, बोले  चीन से आने वाले लोगों को न ही होटल में कमरा दिया जाएगा और न होगी एडवांस बुकिंग
X
कानपुर होटल फोटो फाइल

भारत और चीन तनाव के बीच उत्तर प्रदेश के कानपुर में कारोबारियों ने चीनी अंगतुकों से दूरी बनाने का निर्णय लिया है। खबरों की मानें तो कानपुर शहर के होटल और रेस्टारेंट कारोबारियों का कहना है कि चीन से आने वाले लोगों को न ही होटल में कमरा दिया जाएगा और न ही उनकी एडवांस बुकिंग की जाएगी।

कारोबारियों ने यह भी कहा, कारपोरेट मीटिंग की भी इजाजत नहीं होगी। बताया जा रहा है, कारोबारियों ने यह फैसला स्वेच्छा से लिया है। इसके अलावा सभी पदधिकारियों और सदस्यों को इस फैसले का सर्कुलर जारी कर दिया गया है।

कानपुर होटल, गेस्टहाउस, स्वीटस एंड रेस्टारेंट एसोसिएशन के अध्यक्ष सुखवीर सिंह मलिक और महामंत्री राजकुमार भगतानी ने कहा है कि कानपुर में चमड़ा, रेडीमेड कपड़े और टैक्सटाइल का बड़े स्तर पर काम होता है।

चीन ने देश के जवानों के साथ कि कायराना हरकत

वहीं चीन से बड़े पैमाने पर केमिकल, मशीनें और कच्चा माल आता है। उन्होंने कहा कि शहर के कारोबारी चीन से आने वाले लोगों को यहां के होटलों में ठहराते हैं। इसके अलावा मोबाइल और इलेक्ट्रानिक्स कंपनियों की साल भर में कई-कई कॉरपोरेट बैठक भी इन होटलों में होती है। इन बैठकों में बड़ी संख्या में चीनी प्रतिनिधि शामिल होते हैं। अब तय हुआ कि चीन से आने वाले लोगों की होटलों में बुकिंग नहीं होगी। यदि वो आ भी जाते हैं तो कमरें नहीं दिए जाएंगे। उनका कहना है कि चीन ने गलवान घाटी में देश के जवानों के साथ कायराना हरकत की है।

Next Story
Top