Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मुख्तार अंसारी ने पंजाब से यूपी लाने के एक सप्ताह बाद मांगी ये सुविधाएं, बांदा जेल प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक गैंगस्टर एक्ट के तहत दर्ज मामले में मुख्तार अंसारी की जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बांदा की CJM कोर्ट में पेशी हुई। इस दौरान मुख्तार अंसारी ने आरोप लगाया कि बांदा जेल प्रशासन उसे जेल मैन्युअल के हिसाब से तय बुनियादी सुविधाएं भी उपलब्ध नहीं करा रहा है।

मुख्तार अंसारी ने पंजाब से यूपी लाने के एक सप्ताह बाद मांगी ये सुविधाएं, बांदा जेल प्रशासन पर लगाए गंभीर आरोप
X
यूपी की बांदा जेल में बंद है कुख्यात गैंगस्टर मुख्तार अंसारी। 

उत्तर प्रदेश के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) ने पंजाब से लाए जाने के एक सप्ताह बाद अपने लिए बांदा जेल (Banda Jail) में सुविधाएं मांगी हैं। उसका आरोप है कि बांदा जेल प्रशासन बुनियादी सुविधाएं भी मुहैया नहीं करा रहा। आज गैंगस्टर एक्ट (Gangster Act) के तहत दर्ज एक मामले की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये सुनवाई के दौरान मुख्तार अंसारी ने जेल प्रशासन पर कई आरोप लगाए। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो बांदा की सीजेएम कोर्ट (Banda CJM Court) ने जेल प्रशासन को जेल मैनुअल के हिसाब से मुख्तार अंसारी को तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए आदेश दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मुख्तार अंसारी ने गैंगस्टर एक्ट के तहत दर्ज मामले की सुनवाई के दौरान बांदा की सीजेएस कोर्ट के समक्ष कहा कि उसे बांदा जेल के भीतर किसी भी प्रकार की सुविधा नहीं दी गई है। अंसारी ने कहा कि पंजाब में उसकी चिकित्सकीय जांच के बाद डॉक्टरों ने सलाह दी थी कि किसी सख्त बेड पर सोना ठीक रहेगा और सोते समय सिर के नीचे तकिया अवश्य लगाए। साथ ही उसे फिजियोथेरेपी कराने की भी सलाह दी गई थी।

अंसारी ने बांदा जेल प्रशासन पर जेल मैनुअल के हिसाब से व्यवस्थाएं उपलब्ध न कराने का आरोप लगाते हुए कोर्ट से बेड और तकिये के अलावा कुर्सी, कूलर के साथ-साथ फिजियोथेरेपी की सुविधा मुहैया कराने की मांग की। इस पर कोर्ट ने जेल प्रशासन को जेल मैनुअल के हिसाब से मुख्तार अंसारी को तमाम सुविधाएं उपलब्ध कराने के आदेश दे दिए।

मुख्तार अंसारी के अधिवक्ता दरोगा सिंह ने इसके साथ ही यह भी बताया कि सीजेएम कोर्ट ने मुख्तार अंसारी को व्यक्तिगत रूप से मऊ न्यायालय में पेश करने की पुलिस की मांग खारिज कर दी और 60 दिनों का ज्यूडिशियल रिमांड दे दिया। अब 11 जून 2021 को अगली सुनवाई होगी। बता दें कि मुख्तार अंसारी के खिलाफ दोहरे हत्याकांड के मामले में भी आज मऊ की MP/MLA कोर्ट में बहस होनी है।

अंसारी पर 2009 में ठेकेदार अजय प्रकाश सिंह उर्फ मन्ना की दिनदाहड़े हत्या कराने का आरोप है। इस हत्याकांड के चश्मदीद गवाह मुनीम राम सिंह मौर्य और उसके सरकारी गनर सतीश की भी हत्या कर दी गई थी। इसमें भी मुख्तार और उसके करीबियों पर केस दर्ज हुआ था, जिनका ट्रायल अंतिम चरण में है।

बांदा जेल में आज सातवीं रात

मुख्तार अंसारी पर यूपी में हत्या और लूट जैसे कई संगीन मामले दर्ज हैं, जिनमें उसे उम्रकैद से लेकर फांसी तक की सजा हो सकती है। मुख्तार अंसारी को छह अप्रैल को पंजाब की रोपड़ जेल से लेकर यूपी पुलिस निकली थी और सात अप्रैल को बुधवार सुबह बांदा जेल पहुंच गई थी। बांदा जेल में आज मुख्तार अंसारी की सातवीं रात होगी। जेल प्रशासन ने अंसारी की चिकित्सकीय जांच कराई थी, लेकिन वह किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित नहीं मिला है।

ये भी पढ़ें : यूपी के बाहुबली मुख्तार अंसारी पर बांदा जेल में 'टॉर्चर', अब रात की नींद भी गायब

Next Story