Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Lakhimpur Kheri Case : हिंसा में मारे गए BJP कार्यकर्ताओं के घर पहुँचे UP के कानून मंत्री, किसानों के परिजनों से नहीं की मुलाकात

उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक (Brijesh Pathak) ने बुधवार को लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) हिंसा में मारे गए बीजीपी कार्यकर्ताओं के परिजनों से मुलाकात की। मगर वह किसानों के परिजनों से मिलने नहीं गए। मंत्री की इस नजर अंदाजी पर सवाल खड़े हो रहे हैं।

Lakhimpur Kheri Case : हिंसा में मारे गए BJP कार्यकर्ताओं के घर ही गए UP के कानून मंत्री,किसानों के परिजनों से नहीं मिले
X

Lakhimpur Kheri Case : हिंसा में मारे गए BJP कार्यकर्ताओं के घर ही गए UP के कानून मंत्री,किसानों के परिजनों से नहीं मिले

Lakhimpur Kheri Case : उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक (Brijesh Pathak) ने बुधवार को लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) हिंसा में मारे गए बीजीपी कार्यकर्ताओं के परिजनों से मुलाकात की। मगर वह किसानों के परिजनों से मिलने से परहेज करते हुए नजर आएं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, कानून मंत्री बृजेश पाठक बुधवार को बीजेपी कार्यकर्ता शुभम मिश्रा और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के ड्राइवर हरिओम मिश्रा (Hari Om Mishra) के परिवार से मिलने पहुंचे थे। जहां उन्होंने परिवार को आश्वसान दिया कि हरसंभव मदद की जाएगी। बता दें कि ब्रजेश पाठक ही एक ऐसे बीजेपी (BJP) नेता है, जो हिंसा के बाद यहां आएं। वरना विपक्षी दल का कोई न कोई नेता किसानों के परिवारों से मिलने आ रहा है। हालांकि मंत्री ने एक अंग्रेजी अखबार से बात करते हुए कहा कि हालात सामान्य होने पर वह सभी परिवारों से मुलाकात करेंगे।

राष्ट्रपति से मिले थे राहुल और प्रियंका गांधी

लखीमपुर हिंसा को लेकर राहुल और प्रियंका गांधी ने कांग्रेस प्रतिनिधिनमंडल के साथ बुधवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की थी। राष्ट्रपति ने आश्वासन दिया था कि वह सरकार से इस मामले में बात करेंगे।

3 अक्टूबर को हुई थी हिंसा

गोरतलब है कि लखीमपुर हिंसा में चार किसानों, तीन बीजेपी कार्यकर्ताओं और एक पत्रकार रमन कश्यप की जान चली गई थी। यह हिंसा 3 अक्टूबर को हुई थी।



और पढ़ें
Next Story