Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

AAP Kisan Mahapanchayat : अरविंद केजरीवाल ने कृषि कानूनों को बताया किसानों का डेथ वारंट, बोले- इतने जुल्म अंग्रेजों ने भी नहीं किए

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने लाल किला कांड को केंद्र सरकार की साजिश बताया। उन्होंने केंद्र की मोदी सरकार के साथ यूपी की योगी सरकार पर भी जमकर निशाना साधा। कहा कि योगी की ऐसी क्या कमजोरी है, जो मिल मालिकों को ठीक नहीं कर सकते। आप सुप्रीमो ने किसान नेता राकेश टिकैत के आंसुओं का भी जिक्र किया।

AAP Kisan Mahapanchayat : अरविंद केजरीवाल ने कृषि कानूनों को बताया किसानों का डेथ वारंट, बोले- इतने जुल्म अंग्रेजों ने भी नहीं किए
X

मेरठ में आम आदमी पार्टी की किसान महापंचायत को संबोधित करते दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल। (फोटो एएनआई)

आम आदमी पार्टी (AAP) की ओर से मेरठ में आयोजित किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने केंद्र की मोदी सरकार पर जमकर निशाना साधा। आप सुप्रीमो ने जहां तीनों कृषि कानूनों को किसानों का डेथ वारंट बता दिया, वहीं लाल किला कांड के लिए भी मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया। यही नहीं, केजरीवाल ने राकेश टिकैत के आंसूओं का भी जिक्र किया।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि लाल किले का पूरा कांड इन्होंने खुद कराया। मैं दिल्ली का मुख्यमंत्री हूं। उत्तर प्रदेश, पंजाब के लोगों और किसानों ने मुझे बताया कि ये जानबूझकर उधर भेज रहे थे। लाल किले पर जिन्होंने झंडे फहराए वो इनके अपने कार्यकर्ता थे। केजरीवाल ने कहा कि पीएम मोदी ने अपने पूंजीपति मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिए ये कानून पास कराया है। केंद्र के तीनों कानून किसानों के डेथ वारंट हैं। ये तीनों कानून लागू होने के बाद किसानों की बची कुची खेती केंद्र सरकार अपने तीन-चार बड़े पूंजीपति साथियों के हाथों में सौंपना चाहती है। सबकी खेती चली जाएगी।

आप सुप्रीमो केजरीवाल ने किसान नेता राकेश टिकैत के आंसुओं का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा कि राकेश टिकैत जिस दिन रो रहे थे, उनसे उनके आंसु देखे नहीं गए। कहा कि आज देश का किसान बहुत पीड़ा में है। 95 दिनों से कड़कती ठंड में किसान भाई दिल्ली के बॉर्डर पर बैठे हैं। 250 से ज़्यादा​ किसान शहीद हो चुके हैं लेकिन सरकार पर जूं नहीं रेंग रही। पिछले 70 साल में इस देश के किसान ने ​केवल धोखा देखा है। किसानों पर लाठियां बरसाई जा रही है, किसानों का रास्ता रोकने के लिए सड़कों पर कीलें ठोकी जा रही है। अंग्रेजों ने भी हमारे किसानों पर इतने जुल्म नहीं किए थे, जितने भाजपा कर रही है।

सीएम योगी पर बरसे

अरविंद केजरीवाल ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि योगी की ऐसी क्या मजबूरी है कि मिल मालिकों को नहीं कर सकते। कहा कि हमने दिल्ली में सरकार बनाने के बाद बिजली कंपनियों को ठीक कर दिया। पहले दिल्ली में 20-20 हजार रुपए का बिल आता था। आज दिल्ली में मुफ्त में बिजली मिलती है और 24 घंटे बिजली मिलती है। उन्होंने कहा कि योगी सरकार अगर किसानों को उनकी फसल के पैसे भी नहीं दिला सकती तो लानत है आप (योगी) पर। अरविंद केजरीवाल यही नहीं रूके। उन्होंने सभी पार्टियों को निशाने पर ले लिया। कहा कि सभी पार्टी की सरकारों ने 70 सालों में किसानों को धोखा ही दिया है। सभी के चुनावी घोषणापत्र में लिखा होगा कि हमें जीता दो हम सही दाम दे देंगे, लेकिन अगर सही दाम दे देते तो किसान आत्महत्या नहीं करता।

बता दें कि आप सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल बहुत पहले ही कह चुके हैं कि यूपी विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी भी हिस्सा लेगी। ऐसे में इस किसान महापंचायत को आप की चुुनावी तैयारियों के आगाज से जोड़कर देखा जा रहा है। किसान महापंचायत को सफल बनाने के लिए आप नेता संजय सिंह ने पिछले काफी समय से मेरठ में डेरा डाल रखा था। उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ गांव गांव जाकर लोगों को इस महापंचायत में आने का न्यौता दिया था। आज महापंचायत शुरू होने से पहले संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा, 'मेरठ की क्रान्तिधरा पर पहुंच चुका हूं, कुछ साथी तो रात को ही मैदान में पहुंच गए थे आप भी आइये 11 बजे का समय है। किसान महापंचायत में अरविंद केजरीवाल जी को सुनने भारी संख्या में पहुंचेंगे किसान भाई।'


Next Story