Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सीएम योगी आजमगढ़ को आज देंगे 143 करोड़ की रिटर्न गिफ्ट, पढ़िये उनके दौरे के खास मायने

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ आज दोपहर करीब 12 बजे आजमगढ़ पहुंच जाएंगे। आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव के नतीजे आने के बाद सीएम योगी का यहां पहला दौरा है। पढ़िये उनके दौरे के खास मायने...

सीएम योगी आजमगढ़ को आज देंगे 143 करोड़ की रिटर्न गिफ्ट, पढ़िये उनके दौरे के खास मायने
X

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ की फाइल फोटो। 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) आज दोपहर को आजमगढ़ (Azamgarh) पहुंचकर 143 करोड़ रुपये की लागत वाली विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे। आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव (Azamgarh Lok Sabha Byelection) के परिणाम आने के बाद सीएम योगी का यह पहला दौरा है। वे जहां जनसभा करेंगे तो साथ ही मंडलीय समीक्षा बैठक लेंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आजमगढ़ लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी प्रत्याशी निरहुआ ने सपा प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव को 8679 वोटों के अंतर से हरा दिया था। बीजेपी चाहती है कि सपा गढ़ में बीजेपी आगे भी विजयी रहे। इसी कवायद में बीजेपी कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही। चुनाव नतीजे आने के बाद सीएम योगी ने कहा था कि आजमगढ़ अब दोगुनी रफ्तार से विकास के पथ पर आगे बढ़ेगा।

अब सीएम योगी इस वादे को पूरा करने के लिए आजमगढ़ पहुंच रहे हैं। वे दोपहर करीब 12 बजे आजमगढ़ पहुंचेंगे और करीब साढ़े चार घंटे तक जिले में रहेंगे। इस दौरान जिले के लोगों को 143 करोड़ की सौगात देंगे। सीएम 50 परियोजाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे। वे जनसभा को संबोधित करेंगे तो वहीं साथ ही मंडलीय समीक्षा बैठक को संबोधित करेंगे।

सुरक्षा के कड़े इंतजाम

सीएम योगी आदित्यनाथ के आगमन को लेकर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। वाराणसी जोन के 8 जिलों की फोर्स चप्पे-चप्पे पर तैनात की गई है। एडीजी जोन रामकुमार स्वयं सीएम की सुरक्षा के इंतजाम की निगरानी कर रहे हैं। इसके अलावा पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने सभी पुलिसकर्मियों को उनकी ड्यूटी के साथ ही जिम्मेदारियों से अवगत कराया है। उन्होंने बताया कि सीएम की सुरक्षा के लिए जिले के बाहर से 30 एडिशनल व सीओ, 300 सब इंस्पेक्टर के अलावा 1500 कांस्टेबल व हेड कांस्टेबल को बुलाकर तैनात किया गया है।

जनता दरबार लगाया

सीएम योगी आदित्यनाथ ने आज गोरखपुर में सुबह जनता दरबार लगाया और लोगों की समस्याओं को सुना। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि तमाम शिकायतों और समस्याओं का प्राथमिकता के आधार पर समाधान होना चाहिए।

और पढ़ें
Next Story