Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'राकेश टिकैत परिवार की संपत्ति जांची जाए', पुराने करीबी मांगेराम त्यागी ने किया बड़ा खुलासा

भाकियू के एनसीआर अध्यक्ष रहे मांगेराम त्यागी ने भाकियू अराजनैतिक संगठन से जुड़े हैं। टिकैत बंधुओं के करीबी रहे त्यागी ने उन पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पढ़िये यह रिपोर्ट...

राकेश टिकैत परिवार की संपत्ति जांची जाए, पुराने करीबी मांगेराम त्यागी ने किया बड़ा खुलासा
X

किसान नेता राकेश टिकैत और नरेश टिकैत की संपत्ति की जांच करने की मांग। 

भारतीय किसान यूनियन (BKU) के अध्यक्ष नरेश टिकैत (Naresh Tikait) और उनके भाई राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) की संपत्ति की जांच करने की मांग की गई है। यह मांग टिकैत बंधुओं के करीबी रहे मांगेराम त्यागी (BKU Leader Mange Ram Tyagi) ने की है। त्यागी ने भाकियू अराजनैतिक को जॉइन किया है। उन्होंने कहा कि हम किसानों की हितों की रक्षा के लिए लड़ाई लड़ेंगे और किसानों के नाम पर लूट करने वालों के खिलाफ भी अभियान चलाएंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भाकियू के एनसीआर अध्यक्ष रहे मांगेराम त्यागी ने पत्रकारवार्ता में कहा कि चौधरी नरेश टिकैत और राकेश टिकैती किसान आंदोलन के बाद से भटक गए हैं। उनका उद्देश्य महज राजनीति करना रह गया है। उन्होंने कहा कि टिकैत बंधुओं की संपत्ति की जांच होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि किसानों के मसीहा महेंद्र सिंह टिकैत की हम सभी सम्मान करते हैं, लेकिन टिकैत बंधुओं ने उनके आदर्शों और उनकी नीतियों को कुचल दिया है। उन्होंने कहा कि हम शुरू से ही बाबा टिकैत साहब की नीतियों पर चलते आए हैं और आगे भी चलते रहेंगे। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि भाकियू अराजनैतिक के लिए किसानों से संपर्क करते रहेंगे और विभिन्न मंचों पर उन लोगों की पोल भी खोलेंगे, जो निजी स्वार्थों के लिए किसानों के हितों को कुलचने से पीछे नहीं रहते।

बता दें कि बीकेयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंह चौहान ने 15 मई को बीकेयू अराजनैतिक संघ बनाने का ऐलान किया था। उन्होंने कहा था कि इस नए संघ का नाम 'भारतीय किसान संघ गैर राजनीतिक' होगा। उन्होंने कहा था कि राकेश टिकैत और नरेश टिकैत पहले की तरह बीकेयू के नेता होंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि दोनों भाई किसान आंदोलन के बाद संगठन किसानों के मुद्दों से भटक गई और राजनीतिक मुद्दों की ओर जाने लगी है। ऐसे में उन्होंने नया बीकेयू संघ बनाने का ऐलान किया है।

भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने भाकियू अराजनैतिक संघ के ऐलान पर कहा था कि यह सरकार के दबाव में बनाया गया संघ है। हालांकि उन्होंने 15 मई को भाकियू अराजनैतिक संघ के सात पदाधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया था। इसमें बीकेयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राजेश सिंह चौहान, राष्ट्रीय महासचिव अनिल तालान, प्रदेश उपाध्यक्ष हरिनाम वर्मा, यूपी एनसीआर अध्यक्ष मांगेराम त्यागी, मंडल अध्यक्ष मुरादाबाद दिगंबर सिंह, मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक, प्रदेश उपाध्यक्ष राजबीर सिंह (गाजियाबाद) शामिल हैं।

बीकेयू अराजनैतिक संघ के पदाधिकारी

बीकेयू अराजनैतिक संघ के संस्थापक राजेश चौहान को अध्यक्ष बनाया गया है। राजेश चौहान अध्यक्ष, मांगेराम त्यागी को उपाध्यक्ष और अनिल तालान को राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया है। धर्मेंद्र मलिक को इस नए संगठन का राष्ट्रीय प्रवक्ता बनाया है, जबकि कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी बिन्दु कुमार को सौंपी गई है।

और पढ़ें
Next Story