Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Ayodhya : पीएम मोदी ने रखी राम मंदिर की आधारशिला, बोले- आज का दिन तप, त्याग और संकल्प का प्रतीक, यहां पढ़ें पूरा अपडेट

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर की नींव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा रखी गई है। राम मंदिर का भूमि पूजन संपन्न हो गया है। पीएम मोदी ने नींव के दौरान उसकी मिट्टी का तिलक अपने माथे पर लगाया। जन्मभूमि की मिट्टी से पीएम मोदी ने तिलक किया। उसके बाद रामलीला के सामने दंडवत प्रणाम किया।

Ayodhya : पीएम मोदी ने रखी राम मंदिर की आधारशिला, बोले- आज का दिन तप, त्याग और संकल्प का प्रतीक, यहां पढ़ें पूरा अपडेट
X

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में राम मंदिर की नींव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा रखी गई है। राम मंदिर का भूमि पूजन संपन्न हो गया है। पीएम मोदी ने नींव के दौरान उसकी मिट्टी का तिलक अपने माथे पर लगाया। जन्मभूमि की मिट्टी से पीएम मोदी ने तिलक किया। उसके बाद रामलीला के सामने दंडवत प्रणाम किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सुबह करीब साढ़े 11 बजे अयोध्या पहुंचे। जबकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, जो पहले पहुंच चुके थे। प्रधान मंत्री पहले हनुमानगढ़ी मंदिर में 'दर्शन' के लिए रुके। जिसके बाद वे 'श्री राम जन्मभूमि' पहुंचे और 'भगवान श्री रामलला विराजमान' की पूजा और दर्शन में भाग लेते देखे।

सीएम आदित्यनाथ के साथ पीएम मोदी और 175 लोग जो चुनिंदा गेस्ट लिस्ट में शामिल हैं। समारोह में शामिल हुए पीएम नरेंद्र मोदी, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत अयोध्या में राम जन्मभूमि स्थल पर 'भूमि पूजन' में हिस्सा लिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में राम जन्मभूमि स्थल पर 'भूमि पूजन' करते हैं। उनका 3 घंटे का पूरा कार्यक्रम है।

जानकारी के लिए बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा इस कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश की राज्यपाल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल शामिल हुए। इसके अलावा श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास भी मौजूद रहे।

राम मंदिर भूमि पूजन के बाद बोले पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि देश भर के धामों और मंदिरों से लाई गई मिट्टी और नदियों का जल, वहां के लोगों, वहां की संस्कृति और वहां की भावनाएं, आज यहां की शक्ति बन गई हैं। वाकई ये न भूतो न भविष्यति है। श्रीराम ने सामाजिक समरसता को अपने शासन का आधार बनाया था।

उन्होंने गुरु वशिष्ठ से ज्ञान, केवट से प्रेम, शबरी से मातृत्व, हनुमानजी एवं वनवासी बंधुओं से सहयोग और प्रजा से विश्वास प्राप्त किया। यहां तक कि एक गिलहरी की महत्ता को भी उन्होंने सहर्ष स्वीकार किया। बरसों से टाट और टेंट के नीचे रह रहे हमारे रामलला के लिए अब एक भव्य मंदिर का निर्माण होगा। टूटना और फिर उठ खड़ा होना, सदियों से चल रहे इस व्यतिक्रम से रामजन्मभूमि आज मुक्त हो गई है। पूरा देश रोमांचित है, हर मन दीपमय है। सदियों का इंतजार आज समाप्त हो रहा है।

पीएम ने आगे कहा किहमारे स्वतंत्रता आंदोलन के समय कई-कई पीढ़ियों ने अपना सब कुछ समर्पित कर दिया था। गुलामी के कालखंड में कोई ऐसा समय नहीं था जब आजादी के लिए आंदोलन न चला हो, देश का कोई भूभाग ऐसा नहीं था जहां आजादी के लिए बलिदान न दिया गया हो।

राम मंदिर भूमि पूजन के बाद मोहन भागवत ने किया संबोधित

राम मंदिर के भूमि पूजन के बाद संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा कि मंदिर बनाने के लिए भारत के कई लोगों ने अपना बलिदान दिया। हमारा संकल्प आज पूरा हुआ। जब हमने राम मंदिर बनाने के लिए आंदोलन शुरू किया था। तब हम से कह दिया गया था कि 20-30 साल इंतजार करना होगा।

संबोधन के दौरान मोहन भागवत ने कहा कि 30 साल की मेहनत का आज हमें फल मिला है। जिस मंदिर के निर्माण के लिए हमने आंदोलन किए बड़े-बड़े हमारे लोगों ने बलिदान दिया। आज हमारा वह संकल्प पूरा हुआ। आज अयोध्या की धरती पर राम मंदिर का निर्माण हो रहा है।

राहुल गांधी ने किया ट्वीट

राम मंदिर कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा कि मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान राम सर्वोत्तम मानवीय गुणों का स्वरूप हैं। वे हमारे मन की गहराइयों में बसी मानवता की मूल भावना हैं। राम प्रेम हैं वे कभी घृणा में प्रकट नहीं हो सकते राम करुणा हैं। वे कभी क्रूरता में प्रकट नहीं हो सकते राम न्याय हैं वे कभी अन्याय में प्रकट नहीं हो सकते।

सीएम योगी ने किया संबोधित

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भूमि पूजन के कार्यक्रम के बाद संबोधित करते हुए कहा कि आज का दिन ऐतिहासिक है। यह 5 सदी के बाद 135 करोड़ भारतवासियों का संकल्प पूरा हो रहा है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से आज यह सपना साकार हो रहा है। मंदिर का निर्माण हो रहा है। उन्होंने कहा कि पीएम की सूझबूझ और प्रयासों की वजह से आज हमारा यह संकल्प पूरा हो रहा है। अपने संबोधन के दौरान जय श्री राम का नारा लगाया और कहा कि हमारी न्यायपालिका-कार्यपालिका सभी ने काम किया और राम मंदिर का निर्माण करवाया। इस दौरान उन्होंने उन सभी लोगों को याद किया। जिन्होंने राम मंदिर में अपनी अहम भूमिका निभाई।

यह था राम मंदिर का शुभ मुहूर्त

जानकारी के लिए बता दें कि शुभ मुहूर्त 32 सेकंड का था। जो दोपहर 12 बजकर 44 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 44 मिनट 40 सेकंड के बीच था। इस दौरान प्रधानमंत्री राम मंदिर भूमि पूजन का शिलान्यास किया और एक चांदी की श्री राम मंदिर की नींव रखी। मुख्या पूजा महज 10 मिनट में हुई।

Next Story