Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

UP की राजनीति में बड़ी उथल-पुथल, अखिलेश यादव को लग सकता है बड़ा झटका

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में विधानसभा चुनाव ( Assembly Elections) के नतीजे आने के बाद एक बड़ी राजनीतिक उठापटक होती दिख रही है।

UP की राजनीति में बड़ी उथल-पुथल, अखिलेश यादव को लग सकता है बड़ा झटका
X

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में विधानसभा चुनाव ( Assembly Elections) के नतीजे आने के बाद एक बड़ी राजनीतिक उठापटक होती दिख रही है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के नेतृत्व वाली समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) (सपा) के साथ गठबंधन में चुनावी मैदान में उतरी ओमप्रकाश राजभर ( Omprakash Rajbhar) की सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (Suheldev Bharatiya Samaj Party) फिर से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के नेतृत्व वाले एनडीए में शामिल हो सकती है।

बताया जा रहा है कि ओम प्रकाश राजभर ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ( Amit Shah) के साथ ही धर्मेंद्र प्रधान (Dharmendra Pradhan), सुनील बंसल (Sunil Bansal) से भी मुलाकात की है। जिसके कारण राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि सुभाएसपी को योगी की नई सरकार में जगह मिल सकती है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार ओमप्रकाश राजभर ने 18 मार्च की शाम अमित शाह, धर्मेंद्र प्रधान और सुनील बंसल के साथ बैठक की थी इस बैठक में कैबिनेट को लेकर कई मुद्दों पर बातचीत हुई जो लगभग 2 घंटे तक चली थी। हालांकि अभी तक किसी ने भी इस मुलाकात की आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। न ही इस पर कोई बयान दिया है। उल्लेखनीय है कि 2017 के विधानसभा चुनाव में ओम प्रकाश राजभर पार्टी ने भाजपा के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा था।

चुनावी जीत के बाद जब यूपी में बीजेपी की सरकार बनी तो ओमप्रकाश राजभर (Omprakash Rajbhar) को योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट में मंत्री भी बनाया गया, लेकिन कुछ समय बाद राजभर ने बीजेपी और सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था।

जिसके बाद उन्होंने 2022 में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ मिलकर विधानसभा चुनाव लड़ा। राज्य में चुनावी नतीजों में समाजवादी पार्टी ( Samajwadi Party) के साथ गठबंधन करने के बाद भी सुभाष को कुछ खास फायदा नहीं हुआ और वह सिर्फ छह सीटें पर ही सिमट गयी। इसके बाद बने हालात को देखते हुए राजभर ने अपने रवैये में नरमी दिखानी शुरू कर दी है।

और पढ़ें
Next Story