Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में जाट समुदायों की महापंचायत कल, आरक्षण सहित अन्य मांगों को लेकर बनाएंगे रणनीति

अब राजस्थान में जाट समाज ने भी आरक्षण सहित अन्य मांगों के समर्थन में आंदोलन करने के संकेत दे दिए हैं। इतना ही नहीं जाट समाज ने बुधवार को भरतपुर के पथेना गांव में महापंचायत बुलाई है जिसमें आगे की रणनीति ते की जाएगी।

राजस्थान में जाट समुदायों की महापंचायत कल, आरक्षण सहित अन्य मांगों को लेकर बनाएंगे रणनीति
X

जाटों आंदोलन का फाइनल फोटो

राजस्थान में पिछले काफी समय से आंदोलन का मामला छिड़ा हुआ था। गुर्जर समाज के लोग अपनी मांगों को लेकर सरकार के खिलाफ आंदोलन करते दिख रहे थे जो सरकार के साथ बैठक कर खत्म हुआ था। सरकार ने जैसे तैसे करके गुर्जरों का तो आंदोलन समाप्त करवा दिया मगर अब उनके सामने एक और समस्या खड़ी होने वाली है। अब जाट समाज ने भी आरक्षण सहित अन्य मांगों के समर्थन में आंदोलन करने के संकेत दे दिए हैं।

इतना ही नहीं जाट समाज ने बुधवार को भरतपुर के पथेना गांव में महापंचायत बुलाई है जिसमें आगे की रणनीति ते की जाएगी। दरअसल, जाट समाज की नाराजगी और मांग लगभग गुर्जर समाज के सामान ही है। समाज सरकार से पूर्व में हुए समझौता वार्ता के वादों के अब तक पूरा नहीं होने से आक्रोशित है। ऐसे में अब आन्दोलन की चेतावनी दी जा रही है।

मांगें मनवाने के लिए छेड़ेंगे आंदोलन

जाट समाज ने मांगों को मनवाने के लिए आन्दोलन के मूड में दिखाई दे रहा है। सरकार से दो-दो हाथ करने के लिए आगामी रणनीति बनाई जानी है। इसके लिए 18 नवंबर को महापंचायत बुलाई गई है। आगरा-जयपुर नेशनल हाइवे के पास पथेना गांव में बुलाई गई महापंचायत में जाट आरक्षण संघर्ष समिति के पदाधिकारी और समाज के वरिष्ठ लोगों को बुलाया गया है। वहीं गांव-गांव में पीले चावल बांटकर महापंचायत में ज़्यादा से ज़्यादा समाज के लोगों को शामिल होने के लिए न्यौता भी दिया गया है। जाट नेताओं के अनुसार महापंचायत के बाद जल्द ही एक हुंकार रैली का आयोजन किया जाएगा जिसमें आंदोलन का बिगुल बजाया जाएगा।

Next Story