Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान में अजमेर दरगाह सहित कुछ प्रमुख धार्मिक स्थल आज से खुले, इन बातों का रखें ख्याल

राजस्थान में अजमेर दरगाह सहित कुछ प्रमुख धार्मिक स्थल अनलॉक दिशा निर्देशानुसार आज से पुन:खोल दिए गए हैं जबकि कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के चलते कई इस महिने बंद रहेंगे।

राजस्थान में अजमेर दरगाह सहित कुछ प्रमुख धार्मिक स्थल आज से खुले, इन बातों का रखें ख्याल
X
राजस्थान में धार्मिक स्थल खोले गए

जयपुर। राजस्थान में अजमेर दरगाह सहित कुछ प्रमुख धार्मिक स्थल अनलॉक दिशा निर्देशानुसार आज से पुन:खोल दिए गए हैं जबकि कोरोना वायरस संक्रमण महामारी के चलते कई इस महिने बंद रहेंगे। सरकार ने धार्मिक स्थलों को सामाजिक दूरियों सहित अन्य स्वास्थ्य प्रोटोकॉल के साथ सात सितम्बर से पुन: खोलने की स्वीकृति दी है। वहीं अधिकतर प्रमुख धार्मिक स्थलों के प्रबंधकों ने प्रतिदिन बड़ी संख्या में आने वाले श्रृद्धालुओं को देखते हुए पुन: खोलने में असमर्थता व्यक्त की है। बांसवाड़ा स्थित त्रिपुरा सुंदरी मंदिर, अजमेर के सूफी संत मोईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह, भरतपुर के सिद्ध हनुमान मंदिर, करौली की कैलादेवी और मदनमोहन मंदिर, डूंगरपुर स्थित गलियाकोट दरगाह को आज से पुन: खोल दी गई हैं।

वहीं दूसरी ओर जयपुर के गोविंद देव मंदिर, मोतीडूंगरी गणेश मंदिर, राजसमंद स्थित नाथद्वारा मंदिर, सीकर के खाटूश्याम मंदिर, बीकानेर के करणीमाता मंदिर, चूरू स्थिल सालासर बालाजी मंदिर को श्रृद्धालुओं के लिए नहीं खोला जाएगा। जयपुर के कलेक्टर अंतर सिंह नेहरा ने बताया कि कुछ धार्मिक स्थलों को छोड़कर राजधानी के अधिकतर धार्मिक स्थल सोमवार से नहीं खुलेंगे। उन्होंने कहा कि अधिकतर प्रमुख धार्मिक स्थलों के प्रशासन ने कोरोना वायरस संक्रमण महामारी को देखते हुए पुन: खोलने में अपनी असमर्थता व्यक्त की है। अजमेर में, ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती की दरगाह को पुन: खोलने के लिये सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। रविवार को पूरे दरगाह परिसर को सेनिटाइज किया गया है और देा गज की दूरी बनाये रखने के लिये गोले बना गए हैं। अजमेर दरगाह कमेटी के अध्यक्ष अमीन पठान ने बताया कि दरगाह को पुन: खोलने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। रविवार को पूरे दरगाह परिसर को अल्कोहल मुक्त सेनिटाइजर से सेनिटाइज किया गया। उन्होंने बताया कि परिसर में प्रवेश करने और परिसर से बाहर जाने वाले स्थानों पर थर्मल स्कैनिंग सहित हाथ धोने, सेनिटाइज करने की सुविधा उपलब्ध करवाई गई है। पठान ने कहा कि महामारी से विश्व की सुरक्षा के लिये कल से दरगाह में 'दुआ' की जायेगी।

Next Story